Home » Personal Finance » Financial Planning » Updateकंपनी ने नहीं जमा कराया इम्‍पलाई का PF तो सरकार करें पेमेंट

1.44 लाख PF डिफॉल्टर कंपनियों पर कसेगा शिकंजा, कर्मचारियों को मिल सकता है डूबा पैसा

कंपनियों द्वारा पीएफ का पैसा सरकार के पास जमा नहीं कराने की वजह से जिन कर्मचारियों को अब तक पीएफ बेनेफिट नहीं मिला है तो

1 of

नई दिल्‍ली। कंपनियों द्वारा पीएफ का पैसा सरकार के पास जमा नहीं कराने की वजह से जिन कर्मचारियों को अब तक पीएफ बेनेफिट नहीं मिला है तो ऐसे कर्मचारियों को सरकार भुगतान करे। लोकसभा की एक कमेटी ने सिफारिश की है कि सरकार को इस बारे में नीतिगत फैसला लेना चाहिए जिससे ऐसे इम्‍पलाई पीएफ बेनेफिट से वंचित न रह जाएं जिनकी कंपनी ने पीएफ काटने के बावजूद सरकार के पास जमा नहीं कराया है। 

 

डिफॉल्‍टर्स के खिलाफ कड़े कानूनी कदम उठाए ईपीएफओ 

 

डिमांड फॉर ग्रांट्स पर लोकसभा की कमेटी ने 34 वीं रिपोर्ट में सिफारिश है कि ईपीएफओ 1573 शिकायतों पर सख्‍त कानूनी कार्रवाई करे जिनमें कंपनियों ने कर्मचारियों का पीएफ तो काटा है तो ले‍किन ईपीएफओ के पास जमा नहीं कराया है। डिफॉल्‍ट के इन मामलों में ईपीएफओ ने अब तक कोई एक्‍शन नहीं लिया है। इन मामलों में कर्मचारियों को कंपनियों द्वारा डिफॉल्‍ट की वजह से पीएफ बेनेफिट अब तक नहीं मिल पाया है। 

 

वेबसाइट पर डिफाल्‍टर्स की लिस्‍ट डाले ईपीएफओ 

 

कमेटी ने सिफारिश की है कि पीएफ पर डिफॉल्‍ट करने वाली कंपनियों या इस्‍टैबलिशमेंट की लिस्‍ट केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रालय और ईपीएफओ की वेबसाइट पर डाला जाना चाहिए । इससे आम लोगों ओर कर्मचारियों को पता चल सकेगा कि कौन सी कंपनियां पीएफ पर डिफॉल्‍ट है कर रहीं हैं। 

 

ईपीएफओ ने डिफाल्‍टर्स के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई का दिया निर्देश 

 

कमेटी की सिफारिशों के मद़देनजर ईपीएफओ ने अपने सभी जोनल और रीजनल के स्‍तर के अधिकारियों को ऐसी डिफॉल्‍टर कंपनियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है जिन्‍होंने अपने कर्मचारियों का पीएफ काटा है लेकिन ईपीएफओ के पास जमा नहीं कराया है। इनमें ऐसी डिफॉल्‍टर कंपनियां भी शामिल हैं जिनके खिलाफ पिछले 2 साल में पीएफ का पैसा काटने के बावजूद सरकार के पास जमा न कराने की शिकायत की गई है। 

 

आगे पढें-1.44 लाख कंपनियों ने किया है डिफाल्‍ट 

 1.44 लाख कंपनियों ने किया है डिफाल्‍ट

 

EPFO के अप्रैल, 2018 तक के डाटा के अनुसार 1,44,571 कंपनियां डिफॉल्‍टर लिस्‍ट मे शामिल हैं। यानी इन कंपनियों ने अपने कर्मचारियों के पीएफ का पैसा काट कर ईपीएफओ के पास समय से नहीं जमा कराया है। ऐसी कंपनियों को डिफॉल्‍टर कहा जाता है। अप्रैल, 2018 तक ईपीएफओ के पास हर माह पीएफ का पैसा जमा कराने वाली कंपनियों की संख्‍या 4,58, 812 हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट