बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Financial Planning » Update31 मार्च तक पेंडिंग न रहे कोई कंप्‍लेन, EPFO ने जारी किया फरमान

31 मार्च तक पेंडिंग न रहे कोई कंप्‍लेन, EPFO ने जारी किया फरमान

कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन ने 31 मार्च, 2018 तक अपने मेंबर्स की सभी लंबित शिकायतों का निस्‍तारण करने का लक्ष्‍य तय किया

1 of

नई दिल्‍ली। कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन ने 31 मार्च, 2018 तक अपने मेंबर्स की सभी लंबित शिकायतों का निस्‍तारण करने का लक्ष्‍य तय किया है। ईपीएफओ ने अपने सभी ऑफिस को जारी सर्कुलर में अधिकारियों से कहा है कि वे यह सुनिश्चित करें कि फाइनेंशियल ईयर के अंत तक कोई शिकायत लंबित न रहे। ईपीएफओ ने पहले ही 31 मार्च, 2018 तक ग्रिवांस पोर्टल ईपीएफआईजीएमएस और सीपीजीआरएमएस पर फाइनेंशियल ईयर के अंत तक सभी शिकायतों का निस्‍तारण करने का लक्ष्‍य तय किया है। 

 

बढ़ रही हैं लंबित शिकायतें 

 

ईपीएफओ ने अपने सभी एडिशनल सेंट्रल पीएफ कमिश्‍नर जोन और रीजनल पीएफ कमिश्‍नरों को जारी सर्कुलर में कहा है कि जैसा कि आप लोग जानते हैं कि फाइनेंशियल ईयर जल्‍द ही खत्‍म होने वाला है। यह देखा गया है कि दोनों ग्रिवांस पोर्टल पर बड़ी संख्‍या में मेंबर्स की शिकायतें लंबित हैं। इसके अलावा लंबित शिकायतों की संख्‍या दिन प्रति दिन बढ़ रही है। ऐसे में लंबित शिकायतों की संख्‍या में कमी लाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाने की जरूरत है। लंबित शिकायतों की समीक्षा लेबर सेक्रेटरी और प्रधानमंत्री कार्यालय के स्‍तर पर भी की जा रही है। 

 

लंबित शिकायतों की करें समीक्षा 

 

सर्कुलर में कहा गया है कि सभी जोनल एसीसीसी अपने क्ष्‍ेात्राधिकार में आने वाले ऑफिस में लंबित शिकायतों के मामलों की तुरंत समीक्षा करें शिकातयों के तय समय में समाधान के लिए जरूरी कदम उठाएं। शिकायतों के सामधान के बाद यह भी सुनिश्चित किया जाए कि शिकायत करने वाला सदस्‍य समाधान से संतुष्‍ट हो। इसके अलावा सभी रीजनल पीएफ कमिश्‍नर से सर्विस डिलिवरी सिस्‍टम को बेहतर बनाने के लिए कदम उठाने को कहा गया है। 

 

शिकायतों के समाधान की लिमिट 7 दिन 

 

ग्रिवांस पोर्टल पर आने वाले शिकायतों का समाधान 7 दिन में हो जाना चाहिए। लेबर सेक्रेटरी की ओर से जारी निर्देश के अनुसार ग्रिवांस पोर्टल पर आने वाले शिकायतें 7 दिन से ज्‍यादा लंबित नहीं होनी रहनी चाहिए। 

5 करोड़ हैं ईपीएफओ के एक्टिव मेंबर 

 

मौजूदा समय में ईपीएफओ के एक्टिव मेंबर्स की संख्‍या  लगभग5 करोड़ है। वहीं ईपीएफओ के कुल मेंबर्स की संख्‍या 10 करोड़ से अधिक है। ईपीएफओ अपने मेंबर्स के 8 लाख करोड़ रुपए से अधिक के पीएफ कॉपर्स का प्रबंधन करता है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट