Home » Personal Finance » Financial Planning » Updatenumber of epf members decline in may

मई में 11 लाख कम हो गए EPF मेंबर, EPFO डाटा से हुआ खुलासा

मई माह में इम्‍पलाइज प्रॉविडेंट फंड यानी ईपीएफ (EPF) में कंट्रीब्‍यूट करने वाले मेंबर्स की संख्‍या में 11 लाख तक की कमी

1 of

 

नई दिल्‍ली। मई माह में इम्‍पलाइज प्रॉविडेंट फंड यानी ईपीएफ (EPF) में कंट्रीब्‍यूट करने वाले मेंबर्स की संख्‍या में 11 लाख तक की कमी आई है। हालांकि इस अवधि में कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन यानी EPFO  के पास पीएफ जमा कराने वाली कंपनियों की संख्‍या में इजाफा हुआ है। इसका मतलब है कि EPFO के पास कंपनियों ने अपने कर्मचारियेां के पीएफ का पैसा जमा नहीं कराया है। यानी डिफॉल्‍ट करने वाली कंपनियों की संख्‍या बढ़ गई है। 
 

 EPF मेंबर्स की संख्‍या में 11 लाख तक आई कमी 

 

अप्रैल में EPFO के कंट्रीब्‍यूटरी मेंबर्स, यानी ऐसे जिनका पीएफ EPFO के पास जमा हो रहा था. की संख्‍या 4,61,06,568 थी। मई में यह संख्‍या घट कर 4, 50,58,056 हो गई है। यानी एक माह लगभग 11 लाख मेंबर्स कम हो गए हैं।

 

अवधि  ईपीएफओ के कंट्रीब्‍यूट करने वाले मेंबर्स की संख्‍या करोड़ में 
मई,2018 4, 50,58,056
अप्रैल, 2018  4,61,06,568

सोर्स-लेबर मिनिस्‍ट्री 

 

बढ़ गई डिफॉल्‍ट करने वाली कंपनियों की संख्‍या 

 

EPFO के बारे में फैसले लेने वाली शीर्ष बॉडी सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्‍टी सीबीटी के मेंबर और ट्रेड यूनियन हिंद मजदूर संभा के प्रेसीडेंट एडी नागपाल ने moneybhaskar.com को बताया कि एक में 11 लाख मेंबर्स की संख्‍या होने का मतलब है कि बड़े पैमाने पर कं‍पनियां पीएफ का पैसा नहीं जमा करा रही हैं। यानी डिफॉल्‍ट कर रही हैं। कर्मचारियों के लिहाज से यह चिंताजनक बात है। 

 

62,000 से ज्‍यादा कंपनियां कर रही है डिफॉल्‍ट 

 

EPFO के लेटेस्‍ट डाटा के अनुसार मौजूदा समय में 62,8 06 कंपनियां डिफाल्‍ट कर रही हैं। यानी इन कंपनियों ने कर्मचारियों के पीएफ का पैसा EPFO के पास नहीं जमा कराया है। ये ऐसी कंपनियां हैं जिन्‍होंने जनवरी 2017 से मार्च 2018 के बीच किसी भी वेज मंथ का पीएफ जमा कराया है लेकिन अप्रैल 2018 वेज मंथ का पीएफ मई, 2018 में जमा  नहीं कराया है। 

 

आगे पढें- 1 लाख से ज्‍याद कंपनियां नहीं जमा करा रही हैं पीएफ का पैसा 

 

1.44 लाख कंपनियों ने किया है डिफाल्‍ट

 

EPFO के अप्रैल, 2018 तक के डाटा के अनुसार 1,44,571 कंपनियां डिफॉल्‍टर लिस्‍ट मे शामिल हैं। यानी इन कंपनियों ने अपने कर्मचारियों के पीएफ का पैसा काट कर ईपीएफओ के पास समय से नहीं जमा कराया है। ऐसी कंपनियों को डिफॉल्‍टर कहा जाता है। अप्रैल, 2018 तक ईपीएफओ के पास हर माह पीएफ का पैसा जमा कराने वाली कंपनियों की संख्‍या 4,58, 812 हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट