Home » Personal Finance » Financial Planning » UpdateDont do these 4 things in your smartphone, battery life and speed will decrease

स्‍मार्टफोन में भूल कर भी न करें ये 4 काम, बैटरी लाइफ और स्‍पीड हो जाएगी कम

कुछ टि‍प्‍स को फॉलो पर आप अपने फोन की बैटरी लाइफ और स्पीड दोनों को बेहतर कर सकते हैं।

1 of
 
नई दि‍ल्‍ली. आजकल सभी के पास स्‍मार्टफोन है। ऐसे में सब जानते हैं कि‍ एंड्रॉइड स्मार्टफोन को यूज कैसे करना है। इसके बावजूद दो शि‍कायत लगातार बनी हुई हैं कि‍ फोन बैटरी लाइफ और स्पीड को कैसे बेहतर कि‍या जा सकता है। ऐसे में सि‍र्फ कुछ टि‍प्‍स को फॉलो पर आप अपने फोन की बैटरी लाइफ और स्पीड दोनों को बेहतर कर सकते हैं। फोन के यूज में होने वाली गलतियों को लेकर moneybhaskar.com बता रहा है कुछ जरूरी बातें। इनमें से कई गलतियों तो ऐसी हैं जो लगभग सभी यूजर्स करते हैं। हम यहां उन गलतियों और उनसे होने वाले नुकसान के बारे में बता रहे हैं। 
 
 
बैकग्राउंड ऐप्‍स को बार बार बंद न करें 
 
स्‍मार्टफोन के लगभग सभी यूजर अपने फोन के बैकग्राउंड ऐप्‍स को लगातार बंद करते रहते हैं। जबकि‍ ऐसा नहीं करना चाहि‍ए, क्‍योंकि‍ बंद ऐप जीरो से शुरू होता है और पूरा डाटा फि‍र से स्‍टोर होता है। ऐसे में इससे फोन की बैटरी तो खर्च होती ही है साथ ही फोन की स्‍पीड भी कम हो जाती है। 
आगे पढ़ें : एंटी वायरस इंस्‍टाॅल 
नहीं है एंटी वायरस इंस्‍टाॅल करने की जरूरत 
 
एंटी वायरस इंस्‍टाॅल करने से बचना चाहि‍ए, क्‍योंकि‍ ऐसा करने पर यह ऐप हर बार ऐप खोलने और हर फाइल डाउनलोड करने और खोलने से पहले उसे स्‍कैन करती है। इससे फोन स्‍लो तो होता ही है इसके साथ ही फोन की बैटरी भी जाती है। वहीं, फोन सेफ्टी के लि‍ए एंटी वायरस इंस्‍टाॅल करने की जगह अगर फेक ऐप और अननोन ऐप्‍स से बचेंगे तो आपको एंटी वायरस इंस्‍टाॅल करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 
आगे पढ़ें : डाटा चोरी कर लेते हैं फेक ऐप्‍स 
फेक ऐप्‍स से बचें  
 
स्‍मार्टफोन यूजर कोशि‍श करें कि‍ ऑफि‍शि‍यल ऐप ही डाउनलोड करें। क्‍योंकि‍ फेक एेप्‍स पर ऐड ज्‍यादा आते हैं, जि‍सके चलते फोन हैंग होने की शि‍कायत आने लगती है। हाल ही में वॉट्स ऐप में जब कुछ देर के लि‍ए शि‍कायत आई थी तो कुछ लोगाें ने इसे दोबारा से इन्‍स्‍टॉल कि‍या। ऐसे में 1 लाख से ज्‍यादा बार वॉट्स ऐप जैसा ही दि‍खने वाला कोई और ऐप डाउनलोड कर लि‍या गया। वहीं, ये फेक ऐप आपका डाटा भी चोरी कर लेते हैं। ऐसे में एक जैसे दि‍खने वाले ऐप से बचें। 
आगे पढ़ें : जासूसी भी करते हैं अननोन सोर्स वाले ऐप
अननोन सोर्स वाले ऐप से बचें 
 
अननोन सोर्स या फि‍र पेड ऐप के लालच से बचना चाहि‍ए। यह ऐप आपका डाटा चोरी करने के साथ-साथ आप पर नजर रख जासूसी भी कर सकते हैं। ऐसे में कोशि‍श करें कि‍ अननोन सोर्स वाले ऐप से दूर ही रहें। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट