बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Financial Planning » Updateयहां अमीरों को पानी के लि‍ए खोदना पड़ रहा है कुंआ, गरीब छोड़ रहे हैं खाना

यहां अमीरों को पानी के लि‍ए खोदना पड़ रहा है कुंआ, गरीब छोड़ रहे हैं खाना

कहते हैं कि अगर जेब में पैसा हों तो इंसान दुनिया की सारी सुख - सुविधाएं आसानी से हासिल कर सकता है।

1 of

नई दिल्‍ली। कहते हैं कि अगर जेब में पैसा हों तो इंसान दुनिया की सारी सुख - सुविधाएं आसानी से हासिल कर सकता है। लेकिन दक्षिण अफ्रीका के एक शहर में अमीरों को पानी के लिए काफी दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं गरीब खाना छोड़ने को मजबूर हो रहे हैं। तो आइए जानते हैं कि आखिर दक्षिण अफ्रीका के किस शहर में और क्‍यों ये हालात बने हैं । 

 

किस शहर में है ये स्थिति  


दुनिया के सबसे खूबसूरत शहरों में शुमार दक्षिण अफ्रीका का केपटाउन इन दिनों पानी के संकट से जूझ रहा है। दक्षिण अफ्रीका के इस शहर में पिछले तीन साल से पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। यहां हर साल औसतन 508 मिलीलीटर बारिश दर्ज होती थी जो पिछले तीन साल में सिर्फ 153, 221 और 327 मिमी ही रह गया है। शहर को 41 फीसदी पानी सप्लाई करने वाले दी वाटर स्कल्फ में मात्र 15.7 फीसदी पानी बचा है। 

 

 235 लीटर प्रति व्‍यक्ति खपत 


इस भीषण संकट के लिए केपटाउन के बाशिंदे भी कम जिम्मेदार नहीं हैं। जहां दुनिया में प्रति व्यक्ति औसत जल खपत प्रति दिन 173 लीटर है वहीं केपटाउन में यह आंकड़ा 235 लीटर का है। दूसरा वहां सीवर से निकले महज 60 फीसदी पानी का ही परिशोधन होता है। सबसे बड़ा संकट वहां की जल सप्लाई करने वाली पाइपलाइन का है। खुद स्थानीय प्रशासन मानता है कि कोई 30 प्रतिशत पानी या तो लीकेज में बह जाता है या फिर लोग चोरी कर लेते हैं। 

 

 

जनसंख्‍या बढ़ी लेकिन पानी बचाना नहीं सीखा 


सबसे बड़ी बात 1995 में 24 लाख आबादी वाला शहर अब 43 लाख के पार पहुंच रहा है, लेकिन इस अवधि में पानी को सहेजकर रखने की क्षमता में मात्र 15 फीसदी की ही बढ़ोतरी हुई है। जल संकट के चलते सरकार ने वहां हर रोज पानी के निजी इस्तेमाल की प्रति व्यक्ति सीमा 87 से 50 लीटर कर दी है। अभी तो अस्पताल, सरकारी कार्यालयों और मंत्री-अफसरों के आवासीय इलाकों में कटौती नहीं हुई है, पर जल्द ही सारे शहर में यह हालात बन सकते हैं।वहीं सेना की मौजूदगी में लोगों में पानी का बंटवारा किया जा रहा है। 

 

 

अमीर कर रहे ये जुगाड़ 


केपटाउन में पानी के लिए लोग अलग - अलग तरह के उपाय कर रहे हैं। अमीर लोगों कंपनियों की मदद से कुआं और बोरहोल्‍स की खुदाई कर पानी हासिल कर रहे हैं। इस पानी को पीने योग्‍य बनाने के लिए मशीन खरीद रहे हैं।  इसके अलावा अमीरों द्वारा ट्रक से भरी बोतलबंद पानी को मुंहमांगी कीमत में खरीदा जा रहा है।    आगे पढ़ें - गरीब छोड़ रहे हैं खाना 


 

गरीब छोड़ रहे खाना


वहीं गरीबों के लिए काफी मुश्किलें हो रही हैं। वे पानी के लिए बारिश और सरकार की मदद का इंतजार कर रहे हैं। यही नहीं, गरीबों ने  अपना खाना तक छोड़ना शुरू कर दिया है ताकि पैसे बचे और वह पीने योग्‍य पानी खरीद सकें। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट