बिज़नेस न्यूज़ » Personal Finance » Financial Planning » Updateइंटरनेट से सिर्फ 5 मिनट में शुरू कर सकते हैं रेगुलर इनकम का काम

इंटरनेट से सिर्फ 5 मिनट में शुरू कर सकते हैं रेगुलर इनकम का काम

इंटरनेट पर एक ऐसा विकल्प मौजूद है, जो न सिर्फ आपकी नॉलेज को बढ़ाएगा, बल्कि कमाई का जरिया भी बन जाएगा।

How to start your own blog

नई दिल्ली। इंटरनेट आज के समय में हर किसी के लिए काफी आम हो चुका है।बहुत सारे ऐसे लोग हैं, जो पढ़ने-लिखने के बाद भी बेरोजगार हैं। ऐसे लोगों के लिए इंटरनेट पर एक ऐसा विकल्प मौजूद है, जो न सिर्फ आपकी नॉलेज को बढ़ाएगा, बल्कि दूसरों की नॉलेज भी बढ़ाएगा और साथ ही आपके लिए कमाई का जरिया भी बन जाएगा।


ब्‍लॉग बनाएं  
इंटरनेट से पैसे कमाने का ये तरीका है ब्लॉग लिखना। ब्लॉग पर आप अपने विचार, शायरी, जोक्स, किसी चीज का रिव्यू, फिल्म समीक्षा, टिप्स, जनरल नॉलेज की बातें या और कुछ भी लिख सकते हैं, जिसमें आपकी रुचि हो। आपको बता दें कि एक बार जब लोग आपके ब्लॉग को पढ़ना शुरू कर देंगे तो आपकी कमाई शुरू हो जाएगी।


अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये कमाई होगी कैसे। इसे जानने से पहले ये जानना जरूरी है कि आखिर ब्लॉग बनाया कैसे जाए। आइए बताते हैं कैसे सिर्फ 5 मिनट में 3 स्टेप्स से आप ब्लॉगिंग शुरू कर सकते हैं-


स्टेप-1- गूगल के ब्लॉगर के साथ अपना ब्लॉग बनाने के लिए सबसे आपके पास गूगल मेल की एक ई-मेल आईडी होना जरूरी है। अगर आपके पास जीमेल आईडी है तो आपको ब्लॉग बनाने में 5 मिनट से भी कम समय लगेगा। इसके लिए एड्रेस बार में टाइप करें http://www.blogger.com/. इंटर करने के बाद आपके सामने एक विंडो खुलेगी, जिसमें आपको अपनी गूगल मेल की आईडी के साथ लॉगिन करना होगा। लॉगिन करते ही आपके सामने एक विंडो खुलेगी, जिसमें आपको न्यू ब्लॉग (new blog) का विकल्प दिखेगा। 


स्टेप-2- न्यू ब्लॉग पर क्लिक करते ही आपके सामने एक पॉप अप विंडो खुलेगी, जिसमें अपने ब्लॉग का नाम और जो ब्लॉग एड्रेस आप चाहते हैं, वो डालना होगा। यहां पर चेक अवेलिबिलिटी (check availability) के विकल्प से आप यह भी आसानी से जान सकते हैं कि आपके द्वारा डाला गया एड्रेस उपलब्ध है या नहीं। अगर वह एड्रेस किसी और ने आपसे पहले ही ले रखा होगा तो आपको कोई दूसरा एड्रेस डालना होगा। इसके बाद उसी विंडो में नीचे दिए गए टेम्पलेट्स में से किसी एक को चुनिए और क्रिएट ब्लॉग (create blog) विकल्प पर क्लिक करें।


स्टेप-3- क्रिएट ब्लॉग पर क्लिक करते ही आपके सामने एक विंडो खुलेगी, जिसमें आपके ब्लॉग का नाम दिख रहा होगा। जैसे ही आप उस पर क्लिक करेंगे आपके सामने आपका ब्लॉग खुल जाएगा। आपको बता दें कि यह विंडो सिर्फ वही खोल सकता है, जिसके पास आपका आईडी और पासवर्ड होगा। इस विंडो से आप अपने ब्लॉग को मैनेज कर सकते हैं। इसके जरिए आप न सिर्फ ब्लॉग में अपडेशन कर सकते हैं, बल्कि उसका डिजाइन भी बदल सकते हैं। अपने ब्लॉग को देखने के लिए आपको एड्रेस बार में वह एड्रेस टाइप करना होगा, जिसके जरिए आपने स्टेप-2 में अपना ब्लॉग रजिस्टर किया था। अगर आपका मेल खुला हुआ है तो http://www.blogger.com पर जाते ही ब्‍लॉग अपने आप खुल जाता है। 

 

1- गूगल एडसेंस
 ब्लॉग से कमाई के लिए इस विंडो में बाईं तरफ दिए गए मेन्यू में अर्निंग्स पर क्लिक करके खुद को गूगल एडसेंस के लिए रजिस्टर कर सकते हैं। 
गूगल एडसेंस सर्च इंजन दिग्गज गूगल की तरफ से दिया जाने वाला कमाई का सबसे अच्छा तरीका है। इसके लिए आपको गूगल अकाउंट से गूगल एडसेंस के लिए रजिस्टर होना पड़ता है। आपको बता दें कि गूगल एडसेंस से अप्रूवल पाने के लिए आपके ब्लॉग पर ठीक-ठाक ट्रैफिक होना जरूरी है।
 साथ ही, गूगल की तरफ से गूगल एडसेंस के लिए अप्रूवल देने से पहले आपके ब्लॉग की कंटेट क्वालिटी भी चेक की जाती है। अगर आपके ब्लॉग का कंटेट पोर्न है, तो आपको इसका अप्रूवल नहीं मिलेगा, साथ ही आपका ब्लॉग गूगल की तरफ से बैन भी किया जा सकता है।


2- विज्ञापन
 यदि आपका ब्लॉग लोगों में लोकप्रिय हो जाता है तो फिर आप अपने ब्लॉग पर किसी कंपनी का प्रोडक्ट प्रमोट कर सकते हैं, जिसके लिए आपको कंपनी की तरफ से पैसे मिलेंगे। हालांकि, इसके लिए पहले कंपनी से एग्रीमेंट करना होगा, तभी आपको उनके प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए पैसे दिए जाएंगे।
 इसके अलावा आपके ब्लॉग पर किसी दूसरी वेबसाइट का विज्ञापन भी किया जा सकता है, जिसके लिए उस वेबसाइट की तरफ से आपके पैसे दिए जाते हैं।


3- एफिलिएशन प्रोग्राम
 आज के समय में ई-कॉमर्स काफी तेजी से बढ़ रहा है। लोग ऑनलाइन शॉपिंग को न सिर्फ सहूलियत, बल्कि रुतबे के लिए भी इस्तेमाल करने लगे हैं। ई-कॉमर्स की इस तेजी में आपके पास भी कमाई का मौका है। अधिकतर ई-कॉमर्स कंपनियां एफिलिएशन प्रोग्राम ऑफर करती हैं। इसमें आपको उस कंपनी के साथ रजिस्टर होना होता है और फिर कंपनी द्वारा दिए गए लिंक को अपने ब्लॉग पर लगाना होता है। जब भी कोई विजिटर उस कंपनी का प्रोडक्ट आपकी वेबसाइट के माध्यम से जाकर खरीदता है तो इसके लिए आपको कंपनी की तरफ से कमीशन दिया जाता है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट