विज्ञापन
Home » Personal Finance » Financial PlanningAvoid Using Credit Cards To Become Rich

अमीर बनने की राह में बड़ी रुकावट हैं क्रेडिट कार्ड, इन पांच कारणों से आपको नहीं करना चाहिए इनका ज्यादा इस्तेमाल

आम लोगों की तुलना में अमीर लोग अलग तरीके से हैंडल करते हैं अपना क्रेडिट कार्ड

1 of

नई दिल्ली.

क्रेडिट कार्ड के बारे में कोई आपसे यह कहें कि इसका ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए तो शायद आपको सही न लगे। लेकिन सच तो यही है। अगर आप बड़ा निवेश करना चाहते हैं और अपनी बड़ी पूंजी बनाना चाहते हैं तो आपको क्रेडिट कार्ड से दूर ही रहना चाहिए। दुनिया के अधिकतर अमीर लोग क्रेडिट कार्ड का बहुत सीमित इस्तेमाल करते हैं। आम लोगों की तुलना में वे क्रेडिट कार्ड को अलग तरीके से हैंडल करते हैं, जिससे उनकी पैसा झाटता नहीं, बल्कि बढ़ता जाता है। अगर आप भी अमीर होना चाहते हैं तो आपको क्रेडिट कार्ड को इस्तेमाल करने के तरीकों में बदलाव करना होगा। 

 

जरूरत बन गए हैं क्रेडिट कार्ड्स

क्रेडिट कार्ड्स आज के जमाने में हमारी ऐसी जरूरत बन गए हैं जिसे नकारा नहीं जा सकता है। इसके पीछे बहुत सीधा सा कारण यह है कि अगर आपके अकाउंट में पैसे न भी हों, तब भी आप क्रेडिट कार्ड के जरिए एक सीमित राशि खर्च कर सकते हैं। और इसे चुकाने के लिए भी आपको तकरीबन एक महीने का समय मिलता है। इतना ही नहीं आपको कई चीजों की खरीदारी पर क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने पर कई डिस्काउंट्स भी मिलते हैं। इसके बावजूद टैक्स एक्सपर्ट और सीए हिमांशु कुमार के मुताबिक पांच ऐसे बड़े कारण हैं जिनके चलते आपको क्रेडिट कार्ड का कम से कम इस्तेमाल करना चाहिए।

 

यह भी पढ़ें- अमीर लोग कभी नहीं करते ये पांच गलतियां, इसलिए बने रहते हैं अमीर, आप भी जान लें इन्हें

 

पहला कारण: लोग इसे अपने पैसे के तौर पर इस्तेमाल करने लगते हैं।

हिमांशु कुमार के मुताबिक लोग क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते वक्त यह भूल जाते हैं कि यह उनका खुद का पैसा नहीं, बल्कि उधार लिया हुआ पैसा है। उन्हें इस ब्याज सहित लौटाना होगा। जब लोग क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करते हैं तो जरूरत से ज्यादा खर्च कर जाते हैं। ऐसे में लोगों ने अपने लिए जो फाइनेंशियल गोल तय किए हैं उनकी राह मुश्किल हो जाती है। इसलिए क्रेडिट कार्ड किसी जाल से कम नहीं है।

 

यह भी पढें- 50 हजार लगाकर करें सेब की खेती, पहले ही साल होगी 2.50 लाख रुपए तक की कमाई, हर साल बढ़ता जाएगा मुनाफा

दूसरा कारण: क्रेडिट कार्ड रखने वाले लोग दोगुना ज्यादा खर्च करते हैं।

जब आप कैश देते है तो आप उसे छूते हैं, महसूस करते हैं और उससे जुड़ जाते हैं। लेकिन जब आप कार्ड से पेमेंट करते हैं तो आपको अपना पैसा जाता हुआ महसूस नहीं होता। ऐसे में लोग अकसर जरूरत से ज्यादा खर्च कर देते हैं। MIT नम इस बारे में एक रिसर्च पेपर भी पेश किया था जिसके मुताबिक जो लोग क्रेडिट कार्ड से खरीदारी करते हैं वे अपनी क्षमता से 18 फीसदी तक ज्यादा खर्च कर देते हैं। लोग ऐसी चीजें खरीदते हैं जिनकी उन्हें जरूरत भी नहीं है। वहीं जब आप कैश लेकर जाते हैं तो आपकी खरीदारी का तरीका ही बदल जाता है। आप बहुत सोच-समझकर खर्चे करते हैं।

 

 

यह भी पढ़ें- 50 हजार लगाकर सालाना कमा सकते हैं 5 लाख रुपए तक, इस प्रोडक्ट की है देश-दुनिया में तगड़ी डिमांड 

 

 

तीसरा कारण: लेट पेमेंट पर लगते हैं बहुत अधिक चार्जेस

आप क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते समय सोचते होंगे कि समय रहते पेमेंट कर देंगे। लेकिन अगर पर तय तारीख से एक दिन भी लेट हो जाते हैं तो आपके ऊपर लेट चार्जेस लगा दिए जाते हैं। और आपको जानकर हैरानी होगी कि यह चार्जेस सालाना 22 से 48 फीसदी तक हो सकते हैं। ऐसा ही मिनिमम पेमेंट करने वालाें के साथ होता है। ट्रांस यूनियन कंपनी ने सिबिल (CIBIL) के साथ एक सर्वे किया जिसमें सामने आया कि देश के लोगों की भुगतान करने की क्षमता (paying capacity) काफी अच्छी है। 92 फीसद क्रेडिट कार्ड यूजर्स मिनिमम पेमेंट जरूर करते हैं। हालांकि मिनिमम पेमेंट करने से आपके ऊपर इतने सारे चार्ज लग जाते हैं कि आपकी देय राशि बढ़ती ही चली जाती है। इसलिए जितना आप कम यूज कर सकते हैं उतना कम यूज करें।

 

 

यह भी पढ़ें- थोड़ी मेहनत और कम लागत में करें ये खेती, कमाएं 20,000 रुपए प्रतिमाह

चौथा कारण: क्रेडिट कार्ड से कैश निकाला तो बढ़ जाएगी मुसीबत

ये ऐसी जानकारी है, जिससे अधिकतर लोग अनजान हैं। क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड में यही फर्क है कि एक आपके करंट अकाउंट का कार्ड है और दूसरा आपके लोन अकाउंट का कार्ड है। इसलिए आप डेबिट कार्ड से तो कैश निकाल सकते हैं, लेकिन क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने की भूल कभी न करें। लोग अक्सर यह गलती कर बैठते हैं। इसके बाद इंटरेस्ट तो लगता ही है, कैश विदड्राअल चार्जेस भी लग जाते हैं।

 

 

यह भी पढ़ें- संपत्ति के मामले में उर्मिला से आगे हैं प्रिया दत्त, 96 करोड़ रुपए की हैं मालकिन

 

 

पांचवां कारण: सेविंग्स नहीं हो पाती

जो लोग क्रेडिट कार्ड यूज करते हैं, वे स्वभाव से भी खर्चीले हो जाते हैं। वे सेविंग कम कर पाते हैं क्योंकि क्रेडिट कार्ड की वजह से उनके खर्चे बहुत ज्यादा बढ़ जाते हैं। सबसे पहले तो क्रेडिट कार्ड का बिल पेमेंट करने में ही उनके ज्यादातर पैसे खत्म हो जाते हैं। और अगर वे मिनिमम पेमेंट करते हैं तो लोग बकाया बिल पर पहले तो 18 फीसदी जीएसटी लगता है और कई बार सरचार्ज भी लगता है। इंटरेस्ट रेट तो हाई होता ही है। इसलिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कम से कम करें।

 

यह भी पढ़ें- Jio के बाद Reliance का नया धमाका, बसाएगी अपनी मेगासिटी, यहां होगा अंबानी का राज

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Recommendation
विज्ञापन
विज्ञापन