Home » Money Making Tipsmonthly income for parents

माता-पिता के लिए करना चाहते हैं 5 हजार मंथली इनकम का इंतजाम, आपके पास है ये बेस्ट ऑप्शन

आप एक निश्चित अमाउंट बैंक फिक्‍सड डिपॉजिट में निवेश कर सकते हैं।

1 of

नई दिल्‍ली अगर आप के माता-पिता की उम्र 60 वर्ष से अधिक है और उनके पास नियमति आमदनी का कोई स्रोत नहीं है तो आप उनके लिए 5 हजार रुपए  मंथली इनकम का इंतजाम  कर सकते हैं। इसके लिए आपके पास दो ऑप्‍शन हैं। अगर आप रिस्‍क नहीं लेना चाहते हैं तो आप एक निश्चित अमाउंट बैंक फिक्‍सड डिपॉजिट में निवेश कर सकते हैं। इससे जो ब्‍याज मिलेगा उससे उनको हर माह 5 हजार रुपए की इनकम होती रहेगी। वहीं दूसरा ऑप्‍शन म्‍यूचुअल फंड का है। अगर आप थोड़ा रिस्‍क ले सकते हैं तो आप तय अमाउंट म्‍युचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं। म्‍युचुअल फंड में मिलने वाले सालाना रिटर्न से उनको हर माह मिनिमम 5 हजार रुपए की इनकम सुनिश्चित हो सकती है। 

 

आगे पढें-

 

 

5 हजार रुपए मंथली इनकम के लिए एफडी में कितना करना होगा निवेश 

 

बैंकबाजारडॉटकॉम के सीईओ आदिल शेट्टी के अनुसार अगर आप एफडी में निवेश करके माता पिता के लिए हर माह 5 हजार रुपए मंथली इनकम का इंतजाम करना चाहते हैं तो आपको लगभग 8 लाख रुपए की फिक्‍स्ड डिपॉजिट करानी होगी। मौजूदा समय में बैंक एफडी पर 7 से 7.5 फीसदी तक रिटर्न मिल रहा है। अगर आपकी 8 लाख रुपए की बैंक एफडी पर सालाना 7 फीसदी रिटर्न भी मिलता है तो सालाना लगभग 56,000 रुपए इंटरेस्‍ट मिलेगा। ऐसे में आप माता-पिता के लिए हर माह लगभग 5 हजार रुपए का इंतजाम कर सकते हैं। बैंक एफडी मे इंटरेस्‍ट मंथली या तिमाही लेने का ऑप्‍शन होता है। अगर आपको रेग्युलर पैसा चाहिए तो आप हर माह इंटरेस्‍ट ले सकते हैं। 

म्‍युचुअल फंड में करना होगा 5 लाख का निवेश 

 

अगर आप थोड़ा रिस्‍क ले सकते हैं तो आप म्‍यूचुअल फंड की स्‍कीमों में एक मुश्‍त 5 लाख रुपए निवेश करें। मौजूदा समय में म्‍युचुअल फंड स्‍कीम सालाना 10 से 15 फीसदी तक रिटर्न दे रही हैं। अगर आपके निवेश पर सालाना 12 फीसदी रिटर्न भी मिलता है तो आपको सालाना 60 हजार रुपए रिटर्न मिलेगा। ऐसे में आप माता पिता के लिए हर माह 5 हजार रुपए का इंतजाम कर सकते हैं। म्‍युचुअल फंड स्‍कीमों में रिटर्न की गारंटी नहीं होती है। ऐसे में आप म्‍युचुअल फंड से जुड़े जोखिम को समझ कर ही इसमें निवेश करें। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट