Home » Money Making Tipsnps gives you option of regular income , nps account gives you monthly income

वाइफ नहीं करती है नौकरी तो खुलवाएं NPS अकाउंट, रेगुलर इनकम की मिलेगी गारंटी

आप 1,000 से भी वाइफ के नाम पर एनपीएस अकाउंट खुलवा सकते हैं।

1 of

नई दिल्‍ली. अगर आप की वाइफ नौकरी नही करती है तब भी आप उनके लिए रेगुलर इनकम का इंतजाम कर सकते हैं। ऐसा आप उनके नाम पर न्‍यू पेंशन सिस्‍टम यानी (NPS) अकाउंट खुलवा कर सकते हैं। NPS अकाउंट आपकी वाइफ को 60 साल की उम्र पूरी होने पर एकमुश्‍त रकम देगा। इसके अलावा उनको हर माह पेंशन के रूप में रेगुलर इनकम भी होगी। एनपीएस अकाउंट के साथ आप यह भी तय कर सकते हैं कि आपकी वाइफ को हर माह कितनी पेंशन मिलेगी। इससे आपकी वाइफ 60 साल की उम्र के बाद पैसों के लिए किसी पर भी निर्भर नहीं रहेंगी। 


खुलवाएं एनपीएस अकाउंट 

आप अपनी वाइफ का न्‍यू पेंशन सिस्‍टम यानी एनपीएस अकाउंट खुलवा सकते हैं। इस अकाउंट में आप अपनी सुविधानुसार हर महीने या सालाना पैसा जमा कर सकते हैं। आप 1,000 से भी वाइफ के नाम पर एनपीएस अकाउंट खुलवा सकते हैं। 60 वर्ष की उम्र में एनपीएस अकाउंट मैच्‍योर हो जाता है। नए नियमों के तहत आप चाहें तो NPS अकरउंट  वाइफ की उम्र 65 साल होने तक चलाते रहें। 

 

आगे पढ़ें 

 


5,000 रुपए मंथली निवेश से बनेगा 1 करोड 14 लाख रुपए का फंड  

उदाहरण के तौर पर मान लेते हैं आपकी वाइफ की उम्र उम्र 30 साल है और आप उनके एनपीएस अकाउंट में हर माह 5,000 रुपए का निवेश करते हैं। अगर उनको निवेश पर सालाना 10 फीसदी रिटर्न मिलता है तो 60 साल की उम्र में उनके अकाउंट में कुल 1.14 करोड़ रुपए होंगे। उनको इसमें से 45 लाख रुपए मिल जाएंगे। इसके अलावा उनको हर माह 45,000 रुपए पेंशन मिलेगी। यह पेंशन उनको हर जीवन भर मिलती रहेगी। 

 

उम्र
30 साल
निवेश की कुल अवधि
30 साल
मंथली कंट्रीब्‍यूशन
5,000 रुपए
निवेश पर अनुमानित रिटर्न
10 फीसदी
कुल पेंशन फंड
1,13,96,627 रुपए
एन्‍युटी प्‍लान खरीदने के लिए रकम
68,37,777 रुपए
अनुमानित एन्‍युटी रेट
8 फीसदी
मंथली पेंशन
45,557 रुपए
मैच्‍योरिटी पर निकाल सकते हैं
45,58,650 रुपए
 
नोट: निवेश पर रिटर्न अनुमानित है।
 
आगे भी पढ़ें 

 


प्रोफेशनल फंड मैनेजर करते हैं आपके पैसे का प्रबंधन 

एनपीएस केंद्र सरकार की सोशल सिक्‍युरिटी स्‍कीम है। इस स्‍कीम में आप जो पैसा निवेश करते हैं उसका प्रबंधन प्रोफेशनल फंड मैनेजर करते हैं। केंद्र सरकार इन प्रोफेशनल फंड मैनेजर्स को इसकी जिम्‍मेदारी देती है। ऐसे में एनपीएस में आपका निवेश पूरी तरह से सुरक्षित रहता है। हालांकि इस स्‍कीम के तहत आप जो पैसा निवेश करते हैं, उस पर रिटर्न की गारंटी नहीं होती है। फाइनेंशियल प्‍लानर तारेश भाटिया के अनुसार एनपीएस अपनी शुरुआत के बाद से अब तक सालाना औसत 10 से 11 फीसदी रिटर्न दिया है। 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट