विज्ञापन
Home » Money Making Tipshow to check your gratuity

5 साल के बाद बदलने वाले हैं नौकरी तो चेक करें कंपनी से कितनी मिलेगी ग्रेच्युटी

रिटायरमेंट पर 20 लाख तक मिल सकती है ग्रेच्युटी

how to check your gratuity

अगर आप प्राइवेट सेक्टर में नौकरी कर रहे हैं और आपकी नौकरी के 5 साल पूरे हो गए हैं तो आप ग्रेच्युटी के हकदार हो गए हैं। अगर अब आप नौकरी बदलते  हैं तो आपको ग्रेच्युटी मिलेगी। आपको ग्रेच्युटी कितनी मिलेगी यह आपकी बेसिक सैलरी और आप की नौकरी की अवधि पर निर्भर करता है। मौजूदा नियम के तहत प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारी को अधिकतम 20 लाख रुपए ग्रेच्युटी मिल सकती है। अगर आप बीच में नौकरी नहीं छोड़ते हैं तो ग्रेच्युटी रिटायरमेंट पर मिलती है। 

नई दिल्ली। अगर आप प्राइवेट सेक्टर में नौकरी कर रहे हैं और आपकी नौकरी के 5 साल पूरे हो गए हैं तो आप ग्रेच्युटी के हकदार हो गए हैं। अगर अब आप नौकरी बदलते  हैं तो आपको ग्रेच्युटी मिलेगी। आपको ग्रेच्युटी कितनी मिलेगी यह आपकी बेसिक सैलरी और आप की नौकरी की अवधि पर निर्भर करता है। मौजूदा नियम के तहत प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारी को अधिकतम 20 लाख रुपए ग्रेच्युटी मिल सकती है। अगर आप बीच में नौकरी नहीं छोड़ते हैं तो ग्रेच्युटी रिटायरमेंट पर मिलती है। 

 

15,000 रुपए बेसिक पर कितनी मिलेगी ग्रेच्युटी 

 

अगर आपकी बेसिक सैलरी 15,000 रुपए है और आप 5 साल की नौकरी कर चुके हैं और आप नौकरी बदलते हैं तो आपको लगभग 44 हजार रुपए ग्रेच्युटी मिलेगी। वहीं अगर आपकी बेसिक सैलरी 20,000 हजार रुपए तो 5 साल के बाद नौकरी बदलने पर आपको 57,000 रुपए ग्रेच्युटी मिलेगी। 

 

10 साल की नौकरी पर कितनी मिलेगी ग्रेच्युटी 

 

अगर आपकी बेसिक सैलरी 20,000 रुपए है और आप 10 साल की नौकरी पूरी कर चुके हैं और आप नौकरी बदलते हैं तो आपको कुल 1,15,000 रुपए ग्रेच्युटी मिलेगी। इसी तरह से अगर आपकी बेसिक सैलरी 30,000 रुपए है और आप 10 साल की सेवा के बाद नौकरी बदलते हैं या नौकरी छोड़ते हैं तो आपको लगभग 1,72,000 रुपए ग्रेच्युटी मिलेगी। 


रिटायरमेंट पर कितनी मिलेगी ग्रेच्युटी 

 

अगर आप की बेसिक सैलरी 40,000 रुपए है और आप 58 साल की उम्र में रिटायर होने वाले हैं ओर आपकी कुल सेवा अवधि 33 साल है तो आपको ग्रेच्युटी के तौर पर कुल 7,62,000 रुपए मिलेंगे। 

 

note- ग्रेच्युटी का कैलकुलेशन moneycontrol.com के ग्रेच्युटी कैलकुलेटर से किया गया है। इस कैलकुलेशन में बेसिक सैलरी और नौकरी की अवधि के आधार पर ग्रेच्युटी का कैलकुलेशन किया गया है। इसमें डियरनेस अलाउंस नहीं जोड़ा गया है। अगर आपकी कंपनी डियरनेस अलाउंस देती है तो आपकी ग्रेच्युटी ज्यादा हो सकती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन