Advertisement
Home » Money Making TipsWhat is CFP course and how can apply for it

1 महीने में कर लें यह कोर्स, 8 लाख सालाना तक हो सकती है इनकम

यह कोर्स करने के बाद भारत सहित 26 देशों में मिलेंगे जॉब्स के मौके

1 of


नई दिल्ली.  आज पारंपरिक कोर्स की तुलना में प्रोफेशनल कोर्स की डिमांड काफी ज्यादा है। पारंपरिक कोर्स करने वालों के सामने सबसे बड़ा संकट जहां नौकरी खोजने का होता है, वहीं प्रोफेशनल कोर्सेज करने पर आपको नौकरी जल्दी मिलने की संभावना अधिक रहती है। सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर (CFP) सर्टिफिकेशन को दुनिया के 26 देशों ने अपनाया है। यानी सीएफपी बनकर आप इन देशों में काम कर सकते हैं। इस कोर्स को करने पर सिर्फ 35 हजार रुपए का खर्च आएगा। वहीं सालाना आपको 8 लाख रुपए तक इनकम हो सकती है। अगर आप जी तोड़ मेहनत करें तो आप केवल 1 माह में इस कोर्स को पूरा कर सकते हैं। वैसे 11 माह तक आपको चार एग्जाम पास करने का मौका मिलता है।

 

भारत में भी बढ़ी डिमांड

भारत में भी निवेश के लिए अब इनका चलन बढ़ता जा रहा है। इसीलिए सीएफपी की डिमांड तेजी से बढ़ रही है। भारत में 50,000 से ज्यादा फाइनेंशियल प्लानर के लिए ओपनिंग हैं।  सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर बनकर आप पर्सनल फाइनेंस जैसे कि इन्‍श्‍योरेंस प्लानिंग, टैक्स प्लानिंग और एस्टेट प्लानिंग आदि का काम कर सकते हैं। 

 

कौन कर सकता है सीएफपी कोर्स


सीएफपी का कोर्स कोई भी इन्‍श्‍योरेंस एजेंट, इन्‍श्‍योरेंस केपीओ प्रोफेशनल्स, कॉमर्स ग्रैज्युएट, स्टूडेंट्स जिनको फाइनेंशियल प्‍लानिंग में दिलचस्पी हो, कर सकते हैं। सीएफपी का कोर्स करने पर आपको 35,000 रुपए का खर्च आएगा।

 

 

यहां से कर सकते हैं कोर्स
सीएफपी का कोर्स बहुत सारी संस्थाएं करवाती हैं। आप चाहे तो नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई), फाइनेंशियल प्लानिंग स्टैंडर्ड बोर्ड ऑफ इंडिया (एफपीएसबीआई), इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ फाइनेंशियल प्लानिंग जैसे इंस्टीट्यूट से ये कोर्स कर सकते हैं। इसके अलावा कई अन्य यूनिवर्सिटी भी इस कोर्स को कराती हैं।

 

आगे पढ़ें- कितना कमा सकते हैं सालाना

 


 

सालाना 8 लाख तक कर सकते हैं कमाई
सीएफपी की डिग्री करना थोड़ा मुश्किल है, लेकिन इसे करने के बाद कमाई की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं। इस कोर्स को करने वाले को नौकरी मिलने में आसानी होती है। वहीं इसे करने के बाद बिजनेस भी किया जा सकता है। पेस्केल डॉट कॉम के मुताबिक, भारत में एक सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर की औसत सैलरी 3.50 लाख रुपए सालाना है। मिडिल लेवल में 5 लाख और सीनियर लेवल पर 8 लाख रुपए तक सालाना कमा सकते हैं।

 

आगे पढ़ें ... कितने समय में कर सकते हैं यह कोर्स 

 

एक से 11 माह में कर सकते हैं यह कोर्स 
अगर आप यह कोर्स करना चाहते हैं तो आपको रजिस्ट्रेशन के बाद एक माह के भीतर पहला इग्जाम देना होता है। इसके लिए तीन और एग्जाम पास करने के बाद आप सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर बन जाएंगे। वैसे तो आपको ये 4 एग्जाम 11 माह के भीतर पास करने होते हैं, लेकिन आप ये चारों एग्जाम 1 माह में भी पास करके सर्टिफिकेट ले सकते हैं। जाहिर सी बात है कि इसके लिए आपको मेहनत काफी करनी पड़ेगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement