विज्ञापन
Home » Money Making TipsPost Office 4 saving schemes which gives double benefit

डबल फायदे वाली हैं पोस्ट ऑफिस की ये 4 स्कीम्स, सरकार देती है गारंटी

आकर्षक ब्याज दरों के साथ मिलता है एक और फायदा

1 of

नई दिल्ली. यूं तो पोस्ट ऑफिस (Post Office) विभिन्न ब्याज दरों (Interest Rate) वाली 9 सेविंग स्कीम्स (saving schemes) की पेशकश करती है। हालांकी इनमें से कुछ स्कीम ऐसी हैं, जो डबल फायदा देती हैं। ये स्कीम्स ऐसी हैं जो आकर्षक ब्याज दर के साथ ही इनकम टैक्स (Income Tax) में छूट की सुविधा भी देती हैं। इसका मतलब है कि एक निवेशक वित्त वर्ष के दौरान पोस्ट ऑफिस (Post Office) में 1.50 लाख रुपए की सेविंग पर इनकम टैक्स में डिडक्शन हासिल कर सकते हैं। दिलचस्प है कि पोस्ट ऑफिस में जमा किए गए एक-एक पैसे पर सरकार गारंटी भी देती है। moneybhaskar आपको पोस्ट ऑफिस (Post Office) की ऐसी ही 4 स्कीम्स के बारे में बता रहे हैं....


1. फिक्स्ड डिपॉजिट यानी FD स्कीम  (Fixed Deposit scheme)

पोस्ट ऑफिस की फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) में एक निश्चित अवधि के लिए पैसा जमा किया जाता है। इसमें निश्चित अवधि के लिए ब्याज के साथ गारंटेड रिटर्न जैसी सुविधाएं मिलती है। पोस्ट ऑफिस की FD को टाइम डिपॉजिट (time deposit) स्कीम के नाम से भी जाना जाता है। पोस्ट ऑफिस (Post office) की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, इसमें एक साल, दो साल, तीन साल और पांच साल के लिए अलग-अलग ब्याज दर (Interest Rate) ऑफर की जाती है, जो इस प्रकार हैं...

 

अवधि            ब्याज दर 
1 साल            6.90%
2 साल            7.00%
3 साल            7.20%
5 साल            7.80%

 

 

यह भी पढ़ें- LIC का खास प्लान: जमा करें बस 5 लाख, आजीवन 8 हजार रु महीना होगी इनकम

 

 

 

2.पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रॉविडेंट फंड यानी PPF (Public Provident Fund) अकाउंट

 

पोस्ट ऑफिस की पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (PPF) स्कीम रिटायरमेंट पर केंद्रित स्कीम है। पोस्ट ऑफिस की पीपीएफ स्कीम को इनकम टैक्स छट के लिहाज से ‘एक्जम्प्ट, एक्जम्प्ट, एक्जम्प्ट’ (EEE) का स्टेटस हासिल है। इसका मतलब है कि स्कीम के अंतर्गत मिलने वाले रिटर्न को भी इनकम टैक्स (income tax) से छूट हासिल है। पोस्ट ऑफिस के पीपीएफ (PPF) अकाउंट पर सालाना 8 फीसदी ब्याज दर मिलती है।

 

 

 

3. पोस्ट ऑफिस की सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम यानी SCSS (Senior Citizen Savings Scheme)

 

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम, पोस्ट ऑफिस की प्रमुख सेविंग स्कीम्स में से एक है। यह रिटायरमेंट के बाद बेहतर लाइफ जीने में खासी मददगार होती है। पोस्ट ऑफिस की यह स्कीम का मैच्योरिटी पीरियड 5 साल है, जिसे मैच्योरिटी के एक साल के भीतर तीन साल की अवधि के लिए बढ़ाया जा सकता है। इस स्कीम में सालाना 8.7 फीसदी ब्याज मिल रहा है। इस स्कीम में किए गए निवेश को इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी के तहत टैक्स छूट हासिल है।

4. पोस्ट ऑफिस की नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट या NSC (National Savings Certificates)

 

पोस्ट ऑफिस की एनएससी (NSC) ऐसी स्कीम है, जिसे डिपार्टमेंट ऑफ इकोनॉमिक अफेयर्स (Department of Economic Affairs) द्वारा ऑपरेट किया जाता है। पोस्ट ऑफिस की वेबसाइट के मुताबिक, 31 मार्च, 2019 में समाप्त तिमाही के लिए एनएससी में सालाना 8 फीसदी ब्याज दर की पेशकश की जा रही है। इस स्कीम में जमा किए गए पैसे पर इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी के तहत छूट हासिल है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss