Home » Money Making Tipsdemerits of lic policy

LIC से खरीदी है बीमा पॉलिसी तो आपके होंगे ये नुकसान

जीवन बीमा कवर और सेविंग को न करें मिक्स

demerits of lic policy

नई दिल्ली। आम तौर पर लोग भारतीय जीवन बीमा निगम यानी एलआईसी से जीवन बीमा पॉलिसी इसलिए खरीदते हैं क्योंकि उनको एक ही पॉलिसी में जीवन बीमा कवर और सेविंग का ऑप्शन दोनों मिलता है। इसके अलावा एलआईसी सरकारी कंपनी है तो उनको भरोसा होता है कि उनका पैसा डूबेगा नहीं और क्लेम भी आसानी से मिल जाएगा। लेकिन अगर अगर आप बाजार में उपलब्ध दूसरे विकल्पों के बारे में पता करें तो पता चलेगा कि LIC की पॉलिसी काफी महंगी है और इससे न तो आपको पर्याप्त लाइफ इन्श्योरेंस कवर मिलता है और न ही सेविंग के मोर्चे पर आपको बड़ा फायदा मिलता है। वहीं आप इतना ही पैसा दूसरे विकल्पों में निवेश करके ज्यादा रिटर्न हासिल कर सकते हैं साथ ही आप ज्यादा जीवन बीमा कवर ले सकते हैं। 

 

महंगा प्रीमियम और लाइफ इन्श्योरेंस कवर भी कम 

 

27 साल के विकास तिवारी ने एलआईसी से एक बीमा पॉलिसी खरीदी जिसकी अवधि 20 साल है। इस पॉलिसी में जीवन बीमा कवर और सेविंग का कंपोनेंट दोनो है। पॉलिसी मैच्योर होने पर विकास को लगभग 7 लाख रुपए मिलेंगे। विकास इस पॉलिसी के लिए सालाना 20 हजार रुपए प्रीमियम दे रहे हैं। हालांकि बाजार में उपलब्ध दूसरे विकल्पों के बारे में जानने के बाद विकास अपनी पॉलिसी को सरेंडर करने के बारे में सोच रहे हैं। इस पॉलिसी में विकास की जरूरत के हिसाब से न तो जीवन बीमा कवर है और न ही उनको अपने निवेश पर आकर्षक रिटर्न मिल रहा है। 

जीवन बीमा कवर और सेविंग को न करें मिक्स 

 

अगर आप जीवन बीमा खरीदना चाहते हैं तो आपको यह समझना होगा कि आपको जीवन बीमा कवर क्यों चाहिए। जीवन बीमा कवर आपके न रहने पर परिवार को वित्तीय सुरक्षा मुहैया कराने के लिए होता है। यानी अगर किसी तरह की अनहोनी हो जाती है तो आपके परिवार को एक तय रकम मिलेगी जिससे उनके जरूरी खर्च पूर हों। अगर आप जीवन बीमा कवर के लिए पॉलिसी लेना चाहते हैं तो आपको टर्म प्लान लेना चाहिए। अगर आपकी उम्र 30 साल है तो तो सालाना 5 या 6 हजार रुपए के प्रीमियम में आपको 40-50 लाख रुपए का कवर मिल जाएगा। आपके न रहने पर 40- 50 लाख रुपए आपके परिवार की जरूरतों को पूरा करने के लिए काफी हद तक पर्याप्त होगा। वहीं अगर आप ऐसी बीमा पॉलिसी खरीदते हैं जिसमें जीवन बीमा कवर और सेविंग का कंपोनेंट दोनों है तो इसका प्रीमियम काफी अधिक होगा और आपको वित्तीय तौर पर नुकसान होगा। 

 

सेविंग के लिए एसआईपी है बेस्ट ऑप्शन 

 

अगर आप सेविंग करना चाहते हैं तो आपके लिए सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान बेहतर ऑप्शन है। आप एसआईपी में हर माह 500 रुपए भी निवेश कर सकते हैं। इससे आप लंबी अवधि में बड़ा फंड बना सकते हैं। एसआईपी में निवेश से जोखिम कम होता है और आपको लंबी अवधि में में निवेश पर 12 से 15 फीसदी तक रिटर्न मिल सकता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट