विज्ञापन
Home » Money Making TipsAirAsia CEO Tony Fernandes turn airline into a billion dollar business

कौड़ियों की रह गई थी एयरएशिया, इस शख्स ने बना दी 14 हजार करोड़ की कंपनी, नाम है टोनी फर्नांडिज

2 प्लेन से की शुरुआत, अब 250 प्लेन ऑपरेट करती है कंपनी

1 of

नई दिल्ली. दुनिया की अग्रणी एयरलाइंस में शुमार एयरएशिया (AirAsia) की कीमत कभी कौड़ियों में रह गई थी। लेकिन वक्त ने ऐसी पलटी खाई कि यह आज 14 हजार करोड़ रुपए की कंपनी में तब्दील हो चुकी है, हालांकि इसमें 18 साल लग गए। एयरएशिया (AirAsia) की कायापलट के पीछे जिस शख्स का हाथ रहा, उसका नाम है टोनी फर्नांडिज (Tony Fernandes)। हम यहां इस कंपनी की सफलता की कहानी बता रहे हैं…

 

16 रुपए रह गई थी कंपनी की वैल्यू

सीएनबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक एयरएशिया को एक समय इतने मुश्किल दौर से गुजरना पड़ा कि वर्ष 2001 में उसकी कीमत घटकर महज 0.26 सेंट (डॉलर की मौजूदा वैल्यू के आधार पर 16 रुपए) रह गई थी। उस समय तक टोनी फर्नांडिज (Tony Fernandes) ग्लोबल कंपनी वार्नर म्यूजिक में टॉप एग्जीक्यूटिव के रूप में काम कर रहे थे। उस दौर में टोनी फर्नांडिज (Tony Fernandes) ने इस लो कॉस्ट एयरलाइन की कमान संभाली और एयरएशिया की कायापलट कर दी। उसके बाद से उन्हें मास्टर ऑफ ट्रांसफॉर्मेशन (बदलाव का खिलाड़ी) के नाम से जाना जाने लगा।

यह भी पढ़ें- 50 रु के शेयर पर राकेश झुनझुनवाला ने लगाया दांव, 300 करोड़ रु बढ़ी Firstsource Solutions की वैल्यू

 

 

 

18 साल में खड़ी हुई 14 हजार करोड़ की कंपनी

टोनी फर्नांडिज (Tony Fernandes) ने वर्ष 2001 में कंपनी को महज 0.26 सेंट में खरीदा। यही नहीं एक साल के भीतर उन्होंने कंपनी को प्रॉफिट में लाकर खड़ा कर दिया। खरीदने के 18 साल बाद वर्ष 2018 में एयरएशिया ने 2.58 अरब डॉलर का रेवेन्यू हासिल किया। इतना ही नहीं आज उनकी कंपनी की वैल्यू लगभग 14 हजार करोड़ रुपए हो चुकी है, जो टोनी फर्नांडिज की सफलता की कहानी बयां करने के लिए काफी है। 

 

यह भी पढ़ें- लाखों की जॉब छोड़ दो दोस्तों ने शुरू की कंपनी, अंबानी ने लगा दिए 700 करोड़

 

 

इस वजह से मिली सफलता

कंपनी की सफलता की वजह पर फर्नांडिज ने कहा कि ‘अच्छे लोगों को पहचानने की क्षमता’ इसकी मुख्य वजह है। उन्होंने हाल में सिंगापुर में हुई फाइनेंस कांफ्रेंस में यह बात कही। वर्ष 2018 में एयर ट्रांसपोर्ट रिसर्च फर्म स्काईट्रैक्स (Skytrax) ने एयरएशिया को दुनिया की बेस्ट लो कॉस्ट एयरलाइन करार दिया।

शुरुआती दौर में जहां कंपनी में सिर्फ 200 लोगों का स्टाफ था और महज 2 प्लेन थे और आज प्लेन्स की संखाया बढ़कर 250 हो चुकी है। फर्नांडिज ने कहा कि उन्होंने सबसे पहले अच्छी कम्युनिकेशन स्किल वाले कर्मचारियों को जोड़ने को प्राथमिकता दी। उन्होंने कहा, ‘कई कंपनियां अपने लोगों की वैल्यू नहीं समझतीं।’ उन्होंने कहा कि यह इस आकार की ऐसी अकेली एयरलाइन होगी, जिसमें कोई लेबर यूनियन नहीं है। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि हम उनके काम को सम्मान देने में कामयाब रहे हैं।’

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन