Home » Money Making Tipsfact about fd, reinvestment option in fd

हर तीन महीने पर बढ़ती जाएगी ब्‍याज से इनकम, FD में चुने रीइन्‍वेस्‍टमेंट का ऑप्‍शन

एफडी की अवधि बढ़ा कर पा सकते हैं ज्‍यादा ब्‍याज

1 of

नई दिल्‍ली। आम भारतीयों के लिए फिक्‍स्ड डिपॉजिट (FD ) सेविंग के लिए लंबे समय से पसंदीदा विकल्‍प रहा है। इसका कारण यह है कि एफडी में निवेश पूरी तरह से सुरक्षित है और इस पर आकर्षक रिटर्न मिलता है। जब आप FD कराते हैं तो बैंक आपको मंथली या तिमाही ब्‍याज लेने या उसे रीइन्‍वेस्‍ट करने का ऑप्‍शन देते हैं। अगर आप तिमाही मिलने वाले ब्‍याज को रीइन्‍वेस्‍ट करने का ऑप्‍शन चुनते हैं तो आप की एफडी पर ब्‍याज से होने वाली आय हर तीन माह पर बढ़ती जाएगी। यानी आपकी FD ब्‍याज पर ब्‍याज कमाएगी। इसे ही कंपाउंडिंग की पावर कहते हैं। 

 

हर तिमाही बढ़ती जाएगी ब्‍याज से इनकम 


उदाहरण के लिए मान लेते हैं कि आपने 1 जून, 2018 को 5 लाख रुपए की एफडी 5 साल के लिए कराई है। एफडी पर ब्‍याज दर 7 फीसदी हे। पहली तिमाही के अंत तक आपको इस पर 8822 रुपए ब्‍याज मिलेगा। जब आप यह ब्‍याज रीइन्‍वेस्‍ट करेंगे तो समय के साथ आपकी ब्‍याज आय बढ़ती जाएगी। एफडी की अवधि की आखिरी तिमाही में आपको ब्‍याज के तौर पर 12265 रुपए मिलेंगे। यह पहली तिमाही में मिले ब्‍याज से 3443 रुपए ज्‍यादा होगा। 

 

आगे पढें- 

 

 


एफडी की अवधि बढ़ा कर पा सकते हैं ज्‍यादा ब्‍याज 

 

HDFC बैंक की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक एफडी पर ब्‍याज विभिन्‍न अवधि के लिए अलग अलग होता है। आप जिस बैंक में एफडी खुलवाना चाहते हैं उस बैंक की वेबसाइट पर जाकर अलग अलग अवधि के लिए ब्‍याज तय करें। आप सिर्फ 1 दिन की अवधि बढ़ा कर ज्‍यादा ब्‍याज पा सकते है। उदहारण के लिए SBI में 180 से 210 दिन की एफडी पर ब्‍याज 6.70 फीसदी है। वहीं 211 दिन से लेकर 1 साल से कम  अवधि की एफडी पर ब्‍याज 6.75 फीसदी है। । आम तौर पर कम अवधि की एफडी पर ब्‍याज कम होता है। ऐसे में आप उस अवधि की एफडी सेलेक्‍ट करें जिसमें आपको सबसे ज्‍यादा ब्‍याज मिले। 

समय से पहले न निकाले पैसा 

 

फिक्‍स्ड डिपॉजिट का पूरा फायदा तभी मिलता है जब आप एफडी में पैसा पूरी अवधि तक बनाए रखें। जरूरी है कि आप अपने पैसे पर कंपाउंडिंग की पावर को काम करने की अनुमति दें और दूसरा आप एफडी में समय से पहले पैसा न निकालें। ऐसा करने से आपको प्री मैच्‍योर विद्ड्रॉअल चार्ज देना होगा। अगर आपको अचानक पैसे की जरूरत पड़ जाती है तो आप समय से पहले पैसा निकालने के बजाए एफडी के अगेंस्‍ट ओवरड्रॉफ्ट की सुविधा का फायदा उठाएं। ओवरड्रॉफ्ट के तौर पर आप अपनी एफडी का 90 फीसदी तक पैसा ले सकते हैं। इससे आप अपनी पैसे की जरूरत को पूरा कर सकते हैं और आपकी एफडी पर पूरा ब्‍याज भी मिलता रहेगा। एफडी के अगेंस्‍ट ओवरड्रॉफ्ट की सबसे अच्‍छी बात यह है कि आप आपको उतनी ही राशि पर ब्‍याज देना होगा जितना आप इस्‍तेमाल करोगे न कि जितनी ओवरड्रॉफ्ट की राशि मंजूर की गई है उस पर। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट