Home » Market » StocksVodafone India s H1 operating profit falls 39 percent

Jio और GST ने दिया वोडाफोन इंडिया को झटका, 6 महीने में 39% गिरा मुनाफा

वित्त वर्ष की पहली छमाही के दौरान वोडाफोन ग्रुप की भारतीय यूनिट के ऑपरेटिंग प्रॉफिट में 39 फीसदी की कमी दर्ज की गई।

1 of

 
नई दिल्ली. वित्त वर्ष 2017-18की पहली छमाही यानी अप्रैल-सितंबर के दौरान वोडाफोन ग्रुप की भारतीय यूनिट के ऑपरेटिंग प्रॉफिट में 39 फीसदी की कमी दर्ज की गई। कंपनी के नतीजों पर सबसे ज्यादा असर एक नई कंपनी द्वारा मार्केट में शुरू की गई प्राइसवार और नए नेशनवाइड सेल्स टैक्स यानी जीएसटी का खासा असर दिखाई दिया।
 
4075 करोड़ रु रहा वोडाफोन का एबिटडा
कंपनी ने एक स्टेटमेंट में कहा कि देश की दूसरे नंबर की टेलिकॉम ऑपरेटर वोडाफोन इंडिया ने 30 सितंबर, 2017 को समाप्त छमाही के दौरान 4,075 करोड़ रुपए का एबिटडा (इंटरेस्ट, टैक्स डेप्रिसिएशन और एमॉर्टाइजेशन पूर्व लाभ) दर्ज किया, जबकि बीते साल समान अवधि में यह आंकड़ा 6,704 करोड़ रुपए रहा था।
 
एबिटडा मार्जिन में भी आई कमी
कंपनी का एबिटडा मार्जिन 29.6 फीसदी से घटकर 21.4 फीसदी रह गया, वहीं सर्विस रेवेन्यू लगभग 16 फीसदी घटकर 19,002 करोड़ रुपए रह गया।
 
जियो के आने से शुरू हुई थी प्राइस वार
गौरतलब है कि बीते साल मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाले टेलिकॉम वेंचर जियो इन्फोकॉम के फ्री वॉयस और सस्ते डाटा के साथ उतरने से मार्केट में प्राइस वार शुरू हो गई थी। दूसरी टेलिकॉम कंपनियां टैरिफ में कमी को मजबूर हो गईं, जिससे उनके मार्जिन को झटका लगा।
कॉम्पिटीशन बढ़ने से कई छोटी कंपनियां बिजनेस से बाहर हो गईं और सेक्टर में कंसॉलिडेशन की शुरुआत हुई।
 
टावर बिजनेस बेचेंगी आइडिया-वोडा

आइडिया सेल्‍युलर और वोडाफोन इंडिया ने सोमवार को ही एक स्टेटमेंट जारी करके कहा था कि वे अपना टावर बिजनेस को अमेरिकी ग्रुप ATC टेलिकॉम इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को बेचने वाली हैं। इस सौदे की कीमत 7,850 करोड़ रुपए है। दोनों कंपनियों के पूरे भारत में अभी 20,000 टावर हैं। दोनों कंपनियों ने कहा कि अगर यह सौदा आइडिया-वोडाफोन मर्जर से पहले पूरा हो जाता है तो आइडिया को 4,000 करोड़ रुपए और वोडाफोन को 3,850 करोड़ रुपए मिलेंगे। उम्‍मीद है कि यह सौदा 2018 की पहली छमाही तक पूरा हो जाएगा।

 

वोडा-आइडिया मर्जर की कीमत 1.5 लाख करोड़ से ज्‍यादा

इस साल की शुरुआत में वोडाफोन इंडिया और आइ‍डिया ने अपने मर्जर की घोषणा की थी। यह मर्जर 1.5 लाख करोड़ रुपए से ज्‍यादा का है और इससे दोनों कंपनियों का मार्केट शेयर 35 फीसदी हो जाएगा। मर्जर को लेकर वोडाफोन इंडिया के एमडी सुनील सूद कह चुके हैं कि यह प्रक्रिया 2018 में पूरी हो जाएगी।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट