Home » Market » StocksHow this boys earned Rs 4 crore with Bow Tie Business

पढ़ने-लिखने की उम्र में यह लड़का बन गया कारोबारी, कमा लिए 4 करोड़

आइए जानते हैं इस लड़के की सफलता के बारे में।

1 of

नई दिल्ली. 9 साल की उम्र में अधिकांश बच्चों का ध्यान पढ़ने-लिखने में लगा होता है। कोई भी बच्चा इस उम्र में कुछ बनने या करने के बारे में नहीं सोचता है। वहीं एक लड़का इतनी छोटी उम्र में कारोबारी बन गया। यह पढ़कर आप जरा चौंक सा गए होंगे। जी हां, अमेरिका में एक 9 साल के लड़के ने पढ़ने-लिखने की उम्र में न सिर्फ अपना बिजनेस शुरू किया बल्कि उसने 4 करोड़ रुपए कमा भी लिए। आइए जानते हैं इस लड़के की सफलता के बारे में।

 

2011 में शुरू किया कारोबार

 

9 साल की उम्र में मोजि ब्रिज के दोस्त जहां स्कूल के होमवर्क और खेल-कूद में व्यस्त थे। वहीं मोजि अपने बिजनेस की शुरुआत में लगे थे। फैशन के प्रति लगाव की वजह से मोजिन ने 2011 में बो टाई का बिजनेस शुरू किया। उसका बो टाई मार्केट में हिट होने लगा और इस तरह वह छोटी उम्र में एक सफल बिजनेसमैन बन गया।

 


आगे पढ़ें- कैसी रही शुरुआत

ऐसी हुई शुरुआत

 

4 साल की उम्र से ब्रिज को बो टाई पहनना काफी पंसद था। लेकिन मार्केट में बच्चों के लिए स्टाइलिश और विभिन्न कलर्स में टाई उपलब्ध नहीं था। इससे वो उदास हो गया और यहीं से उसके बिजनेस की शुरुआत हुई। उसने अपने लिए कुछ बो टाई डिजाइन किए। उसने इसे अपने दोस्तों को दिखाया और उसके दोस्तों को ब्रिज द्वारा डिजाइन किए गए बो टाई खूब पसंद आया। इसके बाद उसने लार्जस्केल पर बो टाई बनाने का काम शूरू किया।

 

 

दादी मां ने दिया साथ

 

बो टाई बिजनेस को बढ़ाने में ब्रिज की दादी मां ने उसका भरपूर साथ दिया। उसकी दादी ब्रिज द्वारा डिजाइन किए गे बो टाई को खुद स्टिच करती थी।

 


आगे पढ़ें- 10 साल की उम्र में बन गया सीईओ

6 साल में कमा लिए 4 करोड़

 

मोजि ब्रिज ने 10 साल की उम्र में मो बोज नाम से कंपनी शुरू की। एक बो टाई की कीमत 15 से 50 डॉलर तक रखी। बिजनेस बढ़ाने के लिए ब्रिज ने टाई ऑनलाइन बिक्री भी शुरू की। बिजनेस बढ़ने के साथ उसने कंपनी में कर्माचारियों की संख्या बढ़ा दी है। 6 साल में उसने 4 करोड़ रुपए (6 लाख डॉलर) की कमाई कर ली है।

 

 

 

यह भी पढ़ें- 


भरोसा नहीं था फिर भी मां ने दिए 1.5 लाख, बेटी ने बना दिया 1700 करोड़

 


न लगाई फैक्ट्री और न जॉब की, इस शख्स ने 35 हजार बना दिए 500 करोड़ 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट