Home »Market »Stocks» These Sectors Will Get Benefits From Normal Monsoon, Invest In These Stocks

अच्छे मानसून से इन सेक्टर्स को होगा फायदा, इन स्टॉक्स में करें निवेश

नई दिल्‍ली। मौसम विभाग की तरफ से सामान्‍य मानूसन के अनुमान ने शेयर बाजार में और तेजी की उम्‍मीद जगा दी है। जानकारों का मानना है कि अगर मानसून सामान्‍य रहा तो जून-जुलाई तक निफ्टी 9500 का स्‍तर दिखा सकता है। अच्‍छे मानसून से ग्रामीण क्षेत्रों में पर्चेजिंग पावर बढ़ती है, जिससे देश की तमाम कंपनियों के कारोबार पर पॉजिटिव असर पड़ता है और उनका मुनाफा बढ़ता है। ऐसे में शेयर बाजार में पॉजिटिव असर दिखेगा।
 
 
इस साल सामान्य मानसून का अनुमान
 
मंगलवार को जारी मौसम विभाग के पहले अनुमान में मानसून के सामान्य रहने की बात कही गई है। मौसम विभाग के मुताबिक इस साल अन-नीनो का खतरा कम हुआ है, लेकिन मानसून सीजन के दूसरे हिस्से में इसका असर रह सकता है। मौसम विभाग अब जून के पहले हफ्ते में मानसून के अनुमान को अपडेट करेगा। मौसम विभाग के मुताबिक जून से सितम्बर में बारिश सामान्‍य का 96% फीसदी हो सकती है। विभाग के मुताबिक पिछले साल मानसून में अच्‍छी बारिश हुई थी, जो 97% बारिश थी। इसकी वजह से एग्रीकल्चर प्रोडक्शन ज्यादा हुआ था।
 
 
बेहतर मानसून का क्या होगा असर
 
क्रिस रिसर्च के फाउंडर अरुण केजरीवाल के मुताबिक, मानसून सामान्य रहने का सीधा असर ग्रामीण इलाकों में रहने वालों लोगों की आमदनी पर देखने को मिलता है। लोगों की आय बढ़ने से मांग में बढ़त देखने को मिलेगी। ऐसे में अगर मानसून सामान्य रहता है तो ग्रामीण इलाकों में आय बढ़ने का इंडस्ट्री को सीधा फायदा मिलेगा।
 
वहीं बोनांजा पोर्टफोलियो के एवीपी रिसर्च पुनीत किनरा के मुताबिक मानसून और खपत आधारित सेक्टर में सीधा संबंध है, मानसून अगर बेहतर रहती है तो कंजप्शन बेस्ड सेक्टर को मांग बढ़ते से सहारा मिलेगा। वहीं एक्सपर्ट्स का मानना है कि इसका फायदा बैंकों और फाइनेंशियल सेक्टर को भी मिलेगा, क्योंकि लोगों की आय बेहतर होने से इस क्षेत्र की कंपनियों का कारोबार बढ़ता है जिससे कंपनियों का फायदा बढ़ेगा। इससे बैंकों की लोन ग्रोथ के साथ लोन चुकाने की स्थिति में भी सुधार होता है। यानि बेहतर मानसून से बैंकों पर एनपीए का दबाव कम होने की भी उम्मीद रहती है।
 
 
कहां तक जा सकता है मार्केट
 
एसएसमी इन्वेस्टमेंट्स एंड एडवाइजर्स लिमिटेड के रिसर्च हेड सचिन सर्वदे का कहना है कि अगर मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार ही बारिश होती है, तो निफ्टी जून-जुलाई तक 9500 के लेवल तक जा सकता है। वहीं, निचले स्तर पर निफ्टी को 9000 के स्‍तर पर सपोर्ट मिलेगा।
वहीं पुनीत के मुताबिक फिलहाल मार्केट जून के अनुमानों का इतंजार करेगा। अगर इस दौरान संकेत यही रहते हैं कि मानसून बेहतर रहेगा तो मार्केट में बढ़त बनी रहेगी। हालांकि पुनीत ने कहा कि फिलहाल मार्केट में नतीजे और ग्लोबल संकेतों का भी असर देखने को मिल रहा है। अगर ग्लोबल संकेत स्थिर रहते हैं, और नतीजों में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव नहीं रहता तो मानसून के संकेतों के साथ निफ्टी के लिए 9500 का स्तर जल्द देखने को मिल सकता है।
 
 
किन सेक्टर्स में आएगी तेजी
 
ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के डायरेक्टर संदीप जैन का कहना है कि नॉर्मल मानसून का फायदा एग्री कारोबार से जुड़ी कंपनियों और फर्टिलाइजर सेक्टर को मिलेगा। इसके अलावा एफएमसीजी सेक्टर्स को भी इसका फायदा होगा। वहीं केजरीवाल के मुताबिक, कंज्यूमर डुरेबल्स सेक्टर को भी अच्छी बारिश का फायदा मिलेगा।
 
अगली स्लाइड में- इन स्टॉक्स में करें निवेश

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY