बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksअक्‍टूबर में म्‍युचुअल फंड में आया 16 हजार करोड़ का निवेश, सिप का बढ़ रहा क्रेज

अक्‍टूबर में म्‍युचुअल फंड में आया 16 हजार करोड़ का निवेश, सिप का बढ़ रहा क्रेज

अक्‍टूबर में इक्विटी म्‍युचुअल फंड में 16 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा का निवेश आया है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. अक्‍टूबर में इक्विटी म्‍युचुअल फंड में 16 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा का निवेश आया है। एसोसिएशन ऑफ इंडियन म्‍युचुअल फंड इंडस्‍ट्री (एम्‍फी) के अनुसार रिटेल इन्‍वेस्‍टर की अच्‍छी भागीदारी के चलते यह संभव हो सका है। इस साल अप्रैल से लेकर अक्‍टूबर (7 माह) तक 96 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा का निवेश आ चुका है। आंकड़ों के अनुसार सिप से निवेश बढ़ा है।

 

नोटबंदी का मिला फायदा

जानकारों की राय में नोटबंदी का सबसे ज्‍यादा फायदा म्‍युचुअल फंड इंडस्‍ट्री को मिला है। उन लोगों को राय में नोटबंदी से बैंकों में कैश का लेवल बढ़ा है, जिससे जमा की ब्‍याज दरें कम हो गई हैं। इसके चलते लोगों ने अपना निवेश म्‍युचुअल फंड में बढ़ाया है। बजाज कैपिटल के सीईओ राहुल पारिख के अनुसार म्‍युचुअल फंड इंडस्‍ट्री ने कई सालों में जो प्रतिष्‍ठा बनाई थी अब उसका फायदा मिल रहा है। उन्‍होंने कहा कि ट्रेंड देख कर लग रहा है कि यह अभी तक का सबसे अच्‍छा साल साबित होने वाला है।

 

आंकड़ों पर नजर

एम्‍फी के आंकड़ों के अनुसार अक्‍टूबर में 16002 करोड़ रुपए का निवेश इक्विटी फंड में आया है। इसमें टैक्‍स सविंग स्‍कीम्‍स भी शामिल हैं। यह आंकड़ा सितंबर में 18,936 करोड़ रुपए था। आंकड़ों के अनुसार पिछले 19 महीनों से म्‍युचुअल फंड में इन्‍वेस्‍टमेंट का ट्रेंड पॉजिटिव बना हुआ है। अंतिम बार मार्च 2016 में 1370 करोड़ रुपए निकाला गया था।

 

अक्‍टूबर में बढ़ी म्‍युचुअल फंड की आसेट

निवेशकों के बढ़ते इन्‍वेस्‍टमेंट से इक्विटी म्‍युचुअल फंड की कुल आसेट में 7 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। अक्‍टूबर के अंत में यह बढ़कर 7.08 लाख करोड़ रुपए हो गई है। सितंबर में यह 6.6 लाख करोड़ रुपए थी।

 

सिप से आ रहा खूब निवेश

सिस्‍टेमेटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान (सिप) निवेश का सुरक्षित जरिया बन कर उभरा है। निवेशकों ने सिप माध्‍यम से अक्‍टूबर में 5621 करोड़ रुपए का निवेश किया। सितंबर में सिप से 5516 करोड़ रुपए का निवेश आया था। पारिख के अनुसार निवेशक इस माध्‍यम से छोटी राशि का भी निवेश कर सकते हैं। लगातार निवेश से उनकी एवरेजिंग अच्‍छी हो जाती है, जिसका बाद में निवेशकों को फायदा मिलता है।

 

म्‍युचुअल फंड की कुल आसेट बढ़ी

देश में इस वक्‍त 42 म्‍युचुअल फंड कंपनियां हैं। इनकी कुल आसेट बढ़कर अक्‍टूबर के अंत में 21.41 लाख करोड़ रुपए हो गई है। सितंबर में यह 20.40 लाख करोड़ रुपए थी। शेयरखान के इन्‍वेस्‍टमेंट सॉल्‍यूशन के निदेशक स्‍टीफन के अनुसार म्‍युचुअल फंड रिटेल इन्‍वेस्‍टर की भागीदारी बढ़ना अच्‍छा संकेत है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट