बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksइस हफ्ते में 3% टूटा सेंसेक्स, निफ्टी में 2.8% की गिरावट

इस हफ्ते में 3% टूटा सेंसेक्स, निफ्टी में 2.8% की गिरावट

हफ्ते के आखिरी कारोबारी सत्र में गिरावट के साथ इस हफ्ते सेंसेक्स में 3% से ज्यादा की गिरावट दर्ज हुई है

Sensex Nifty closed
हफ्ते के आखिरी कारोबारी सत्र में घरेलू मार्केट 0.80 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुए है। सेंसेक्स ने 27000 और निफ्टी 8100 के महत्वपूर्ण स्तर के नीचे क्लोजिंग दी है। इंटरनेशनल मार्केट से मिले कमजोर संकेतों और एलएंडटी, आईटीसी के अनुमान से खराब नतीजों का असर मार्केट की चाल पर पड़ा है। इस हफ्ते के सभी सेशन में स्टॉक मार्केट में गिरावट देखने को मिली है। 
 
हफ्ते में 3 फीसदी गिरा सेंसेक्स
पूरे हफ्ते में सेंसेक्स 3.22 फीसदी टूटा है वहीं निफ्टी में 2.77 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। सेक्टर में सबसे ज्यादा गिरावट बैंकिंग सेक्टर में देखने को मिली है। इस हफ्ते बैंकिंग इंडेक्स 3.23 फीसदी गिरा है।  इस हफ्ते सभी सेशन में मार्केट में गिरावट दर्ज हुई है। 
 
एफएमसीजी और ऑटो इंडेक्स में रही 2% की गिरावट
 
आज के कारोबार में एनएसई पर ऑटो, मेटल, रियल्टी और एफएमसीजी इंडेक्स में दो फीसदी तक की गिरावट रही है। वहीं, बैंक, एनर्जी और फार्मा स्टॉक्स में आई खरीददारी से मार्केट को कुछ सहारा मिला है। अंत में बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 181 अंक की गिरावट के साथ 26,656 के स्तर पर है। वहीं, एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 46 अंक लुढ़ककर 8065 के स्तर पर बंद हुआ है।
 
 
मार्केट में क्यों आई गिरावट
 
इंटरनेशनल मार्केट में लगातार ऊपरी स्तरों पर दबाव देखने को मिल रहा है। जिसका असर घरेलू मार्केट पर पड़ा है। साथ ही आज एलएंडटी, कोटक महिंद्रा बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और आईटीसी के नतीजे आए है। इनमें एलएंडटी और आईटीसी के नतीजे अनुमान से खराब रहे है। जिसका असर एफएमसीजी और इंफ्रा इंडेक्स पर पड़ा है। इसीलिए सत्र के आखिरी घंटे में मार्केट में तेज गिरावट देखने को मिली है।
 
 
 
एक्सपर्ट की राय
 
सुशील फाइनेंस की टेक्निकल एनालिस्ट रणक मर्चेंट का कहना है कि निफ्टी के लिए 8092 का स्तर काफी अहम है। अगर निफ्टी इस स्तर पर बने रहने में कामयाब रहता हो तो फिर इसमें 8225 तक की रैली देखने को मिल सकती है। अगर निफ्टी 8092 के अहम स्तर पर टिके रहने में सफल नहीं रहता है ते फिर हमें निफ्टी में और दबाव देखने को मिल सकता है।
 
 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट