Home » Market » StocksLenders clear sale of RCom s Delhi,Chennai assets for Rs 801cr

Rcom की दिल्ली और चेन्नई की एसेट 801 करोड़ रुपए में बिकीं, लेंडर्स ने दी मंजूरी

आरकॉम के लेंडर्स ने उसकी दिल्ली और चेन्नई की रियल एस्टेट एसेट्स कनाडा की ब्रुकफील्ड के हाथों बेचने को मंजूरी दे दी है।

1 of

 

नई दिल्ली. कर्ज में डूबी रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) के लेंडर्स ने उसकी दिल्ली और चेन्नई की रियल एस्टेट एसेट्स कनाडा की एसेट मैनेजमेंट फर्म ब्रुकफील्ड को बेचने को मंजूरी दे दी है। आरकॉम इस डील से मिली रकम को अपने कर्ज को कम करने में इस्तेमाल करेगी।

 

लेंडर्स ने दी डील को मंजूरी

एक सूत्र ने पीटीआई को बताया, 'लेंडर्स ने आरकॉम की दिल्ली और चेन्नई स्थित एसेट्स को 801 करोड़ रु ब्रुकफील्ड के हाथों बेच दिया है।' उन्होंने कहा कि संपर्क करने पर आरकॉम ने इस डेवलपमेंट पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया, वहीं ब्रुकफील्ड ने इस संबंध में भेजे गए मेल पर कोई जवाब नहीं दिया।

 

महंगी एसेट्स के लिए इन्वेस्टर्स या खरीदारों की तलाश

एसेट मोनेटाइजेशन प्लान के तहत आरकॉम 125 एकड़ की धीरूभाई अंबानी नॉलेज सिटी, नवी मुंबई और दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित 4 एकड़ जमीन सहित अपनी महंगी रियल एस्टेट एसेट्स के लिए निवेशक या खरीदार खोजने पर काम कर रही है।

 

आरकॉम पर है 45 हजार करोड़ का कर्ज

45 हजार करोड़ के कर्ज के बोझ से दबी आरकॉम दिसंबर, 2018 तक के लिए यथास्थिति वाली अवधि (इंटरेस्ट और मूलधन के भुगतान के लिए) में है और उसे आरबीआई के दिशानिर्देशों के तहत एसडीआर प्रोसेस को पूरा करने का अनुमान है।

आरकॉम अपने मोबाइल टावर को बेचने के लिए ब्रुकफील्ड के साथ भी बात कर रही है। कंपनी को उम्मीद है कि टावर और रियल एस्टेट बिजनेस से 27 हजार करोड़ रुपए चुकाने में मदद मिलेगी।

 

 

कर्ज चुकाने के लिए यह है योजना

30 अक्टूबर को आरकॉम ने कहा था कि उसकी एसेट मोनेटाइजेशन से 27 हजार करोड़ रुपए, इक्विटीज के माध्यम से 7 हजार करोड़ और नए बिजनेस के लिए 6 हजार करोड़ रुपए के डेट के कैरी फॉरवर्ड के माध्यम से कर्ज चुकाने की योजना है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट