बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksडूबने की कगार पर है कंपनी, फिर भी रातों रात बढ़ी 1200 करोड़ की दौलत

डूबने की कगार पर है कंपनी, फिर भी रातों रात बढ़ी 1200 करोड़ की दौलत

ऐसे में कुछ ही घंटों के भीतर इस कंपनी की वेल्थ में 1200 करोड़ रु का इजाफा हो गया, जिसने हर किसी को हैरत में डाल दिया है।

1 of
 
नई दिल्ली. देश की एक चर्चित कंपनी दिवालिया होने की कगार पर है। उसके हजारों करोड़ के प्रोजेक्ट अटके हुए हैं। उसके प्रोजेक्ट्स में हजारों लोगों के करोड़ों रुपए फंसे हुए हैं। सरकार खुद निवेशकों की मेहनत की कमाई बचाने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। ऐसे में कुछ ही घंटों के भीतर इस कंपनी की वेल्थ में 1200 करोड़ रुपए का इजाफा हो गया, जिसने हर किसी को हैरत में डाल दिया है।
 
 
सरकार के कानून का मिला फायदा
दरअसल सरकार ने कुछ महीने पहले ही इनसॉल्वेंसी और बैंकरप्सी कानून लागू किया था। इसका उद्देश्य दिवालिया होने की कगार पर खड़ी कंपनियों से बैंकों, इन्वेस्टर्स का पैसा निकालना था। अब इसका फायदा खुद उस कंपनी को मिलता दिख रहा है, जो मुश्किलों से जूझ रही थी।
 
 
आगे भी पढ़ें

 

फंसे हुए प्रोजेक्ट्स के लिए दौड़ में 20 कंपनियां

हम यहां जयप्रकाश यानी जेपी ग्रुप की बात कर रहे हैं। दरअसल शनिवार को ही खबर आई थी कि जेपी ग्रुप की कंपनी जेपी इन्फ्राटेक के अटके हुए रियल एस्टेट प्रोजेक्ट्स के प्रोजेक्ट्स के लिए जेएसडब्ल्यू स्टील और लोढा ग्रुप सहित 20 कंपनियां दौड़ में हैं। इन कंपनियों ने जेपी के रियल्टी प्रोजेक्ट्स को पूरा करने के लिए 2 हजार करोड़ रुपए के निवेश की इच्छा जाहिर की है। इसका ग्रुप को खासा फायदा मिला है।

 

आगे भी पढ़ें

 
कुछ घंटों में बढ़ी 1200 करोड़ रु वेल्थ
जेपी ग्रुप को इस खबर का खासा फायदा मिला। सोमवार को स्टॉक मार्केट खुलने के साथ ही ग्रुप की कंपनियों को मिला। जयप्रकाश एसोसिएट्स का शेयर 16.39 फीसदी बढ़कर 21.30 रुपए तक पहुंच गया। वहीं जयप्रकाश पावर वेंचर्स 6.64 फीसदी चढ़कर 7.87 रुपए तक पहुंच गया। ग्रुप की एक एन्य कंपनी जेपी इन्फ्राटेक का स्टॉक 10 फीसदी चढ़कर 15.22 रुपए पर पहुंच गआ। इससे ग्रुप कंपनियों की कुल मार्केट कैप लगभग 1200 करोड़ रुपए बढ़ गई।
 
 
कंपनी मार्केट कैप बढ़ी
जेपी एसोसिएट्स    729 करोड़ रु
जेपी पावर              293 करोड़ रु
जेपी इन्फ्राटेक   191 करोड़ रु
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट