Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Market »Stocks» Keep Eye On These High Dividend Providing Companies, Brokerage House Suggests

    ऊंचे डिविडेंड देने वाली इन कंपनियों में निवेश की सलाह, लॉन्ग टर्म में मिलेगा बेहतर रिटर्न

    नई दिल्ली। स्टॉक मार्केट में कई ऐसी कंपनियां हैं जिसमें न केवल बेहतर डिविडेंट देने का ट्रैक रिकॉर्ड है, साथ ही ब्रोकरेज हाउस ने भी उनमें ग्रोथ की उम्मीद जताई है। इस साल के लिए भी इनमें से कुछ कंपनियों ने डिविडेंड ऑफर किया है। आज हम आपको इनमें से ऐसे ही 5 स्टॉक बता रहे हैं, जिनमें आप स्टॉक में ग्रोथ के साथ डिविडेंड का भी फायदा उठा सकते हैं। 
     
    ऊंचे डिविडेंड देने वाली कंपनियां
    एचडीएफसी सिक्युरिटीज के अनुसार कोल इंडिया का डिविडेंड यील्ड 8.5 फीसदी, एनएमडीसी का डिविडेंड याल्ड 7.5 फीसदी, रूरल इलेक्ट्रॉनिक कॉरपोरेशन का डिविडेंड यील्ड 5.4 फीसदी, इंडिया बुल्स हाउसिंग का डिविडेंड यील्ड 5.3 फीसदी, पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन का डिविडेंड यील्ड 5.0 फीसदी, एनएचपीसी लिमिटेड का डिविडेंड यील्ड 5.0 फीसदी, सोनाटा सॉफ्टवेयर का डिविडेंट यील्ड 4.7 फीसदी, नेशनल एल्यूमीनियम का डिविडेंट यील्ड 3.6 फीसदी, ऑयल इंडिया का डिविडेंट यील्ड 3.5 फीसदी और एसजेवीएन का डिविडेंड यील्ड 3.5 फीसदी है।
     
    माय स्टॉक रिसर्च के हेड लोकेश उप्पल का कहना है कि डिविडेंड टैक्स फ्री कैश पेआउट्स होते हैं। अगर कोई कंपनी लगातार डिविडेंड का भुगतान करती है तो इसका मतलब है कि उसका बिजनेस पर्याप्त कैश जनरेट कर रहा है। इससे स्टॉक में भी प्राइस अप्रेसिएशन की उम्मीद रहती है। ऐसे में कंपनियों के फंडामेंटल अच्छे हों तो उनमें निवेश किया जा सकता है। 
     
    किन स्टॉक्स में करे निवेश
     
    कोल इंडिया
    टारगेट: 369
    करंट प्राइस: 316
    ब्रोकरेज हाउस: एचडीएफसी सिक्युरिटीज
     
    एक्सपर्ट्स ने कोल इंडिया में ग्रोथ की उम्मीद जताई है। ब्रोकरेज हाउस एचडीएफसी सिक्युरिटीज ने कोल इइंडिया में 369 के टारगेट के साथ निवेश की सलाह दी है। कोल इंडिया का फाइनेंशियल परफॉर्मेंस दिसंबर क्वार्टर में कमजोर रहा है। इसके अलावा, वेतन बढ़ोतरी को लेकर कर्मचारियों के साथ बातचीत भी होने वाली है। हालांकि सेल्स वॉल्यूम में बढ़ोतरी होने और कीमतों में तेजी के रुझान से कंपनी आने वाले क्वार्टर्स में बेहतर परफॉर्म कर सकती है। सरकार द्वारा बिजली के उत्पादन में तेजी लाए जाने से कंपनी की उत्पादन क्षमता बढ़ेगी।   
     
    अगली स्लाइड में, जानें और किन स्टॉक्स में करे निवेश
     
     
     

    और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY