बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksपीएसयू कंपनियों में बने निवेश के मौके, ये 5 शेयर दे सकते हैं 44% तक रिटर्न

पीएसयू कंपनियों में बने निवेश के मौके, ये 5 शेयर दे सकते हैं 44% तक रिटर्न

इस साल मार्केट की रैली में जहां ज्यादातर सेक्टर में अच्छी ग्रोथ रही है, पीएसयू कंपनियों के शेयर अंडरपरफॉर्मर रहे हैं।

1 of
नई दिल्ली। इस साल मार्केट की रैली में जहां ज्यादातर सेक्टर में अच्छी ग्रोथ रही है, पीएसयू कंपनियों के शेयर अंडरपरफॉर्मर रहे हैं। पिछले एक साल में पीएसयू इंडेक्स में सिर्फ 11 फीसदी ग्रोथ रही है, जो फार्मा इंडेक्स के बाद सबसे कम हैं। अच्छे फंडामेंटल वाले कई शेयर अभी सस्ते हैं। एक्सपर्ट्स और ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि सरकार का रुख पब्लिक सेक्टर कंपनियों को लेकर पॉजिटिव है। इनमें रिवाइवल के लिए सरकार काम कर रही है। ऐसे में कुछ बेहतर शेयर हैं, जिसमें आगे अच्छा रिटर्न दिख रहा है। 
 
 
इन वजहों से बेहतर दिख रहा है आउटलुक 
कॉरपोरेट स्कैन डॉट कॉम के सीईओ विवेक मित्तल का कहना है कि सरकार द्वारा पीएसयू बैंकों  की रीकैपिटलाइजेशन प्लान को मंजूरी देने के बाद सभी पीएसयू कंपनियों की रीरेटिंग हुई है। कंपनियों के ऑपरेशनल परफॉर्मेंस में सुधार के लिए उपाय किए जा रहे हैं। मेक इन इंडिया के जरिए कंपनियों के ऑर्डरबुक को मजबूत किया जा रहा है। सिक कंपनियों को बंद किया गया है। जिनमें बेहतर आउटलुक दिख रहा है, उन्हें रिवाइज किया जा रहा है। ऐसे में पब्लिक सेक्टर कंपनियों में ग्रोथ दिखने भी लगी है। 
 
सरकार भी दे रही है मौका
सरकार के डिसइन्वेस्टमेंट प्लान के तहत भारत 22 ईटीएफ रिटेल इन्वेस्टर्स के लिए आज से खुल गया है। निवेश करने वाले रिटेल इन्‍वेस्‍टर्स को 3 फीसदी की छूट मिलेगी। भारत 22 ईटीएफ में कुल 22 कंपनियों के शेयर होंगे जिनमें ओएनजीसी, आईओसी, एसबीआई, बीपीसीएल, कोल इंडिया, नाल्‍को, एनबीसीसी, एनटीपीसी, एनएचपीसी, एसजेवीएनएल, गेल, पीजीसीआईएल, एनएलसी इंडिया, भारत इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स और इंजीनिसर्स इंडिया शामिल हैं। इसके जरिए सरकार की 8 हजार करोड़ रुपए जुटाने की योजना है। इसके लिए 17 नवंबर तक आवेदन किया जा सकेगा।
 
किन शेयरों में निवेश के मौके 
 
आईओसी
रिटर्न: 43 फीसदी 

दूसरी तिमाही में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन की घरेलू ईंधन बिक्री 1.85 करोड़ टन से बढ़कर 1.9 करोड़ टन हो गई। निर्यात 52 फीसदी बढ़कर 18.77 लाख टन रहा है। कंपनी का मुनाफा भी 18 फीसदी बढ़ा है। कंपनी की रिफाइनरीज की क्षमता बढ़ी है। इन्वेंट्री भी बढ़ी है। कंपनी को क्रूड की बढ़ रही कीमतों का भी फायदा मिलेगा। फ्री कैश फ्लो जेनरेशन से कंपनी को अगले 2 से 3 साल फायदा होगा। ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने शेयर के लिए 554 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। शेयर की मौजूदा कीमत 387 रुपए के लिहाज से इसमें 43 फीसदी रिटर्न की उम्मीद है। 
 
और किन शेयरों में बने निवेश के मौके
REC
रिटर्न: 44 फीसदी 
 
कंपनी की एसेट क्वालिटी अच्छी है। सैंक्सन और डिस्बर्समेंट रिपोर्ट उम्मीद के मुताबिक है। कंपनी में कई तरह से स्ट्रक्चरल सुधार हुए हैं, जिसका फायदा मिलेगा। उदय योजना के प्रभावी रहने का फायदा कंपनी को होगा। तिमाही आधार पर आरईसी का नेट एनपीए घटकर 1.66 फीसदी रहा है। ब्रोकरेज हाउस इडेलवाइस ने आरईसी में 231 रुपए के लक्ष्‍य के साथ निवेश की सलाह दी है। शेयर की मौजूदा कीमत 160 रुपए है, यानी इसमें 44 फीसदी रिटर्न की उम्मीद है। 
 
 
 
नाल्को
रिटर्न: 25 फीसदी 
 
विवेक मित्तल ने नेशनल एल्यूमीनियम कंपनी में 25 फीसदी रिटर्न का अनुमान जताया है। शेयर के लिए 105 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। उनका कहना है कि एल्यूमीनियम की प्राइस ऊंची बनी हुई है। आगे भी कीमतें स्टेबल रहने का अनुमान है, जिसका फायदा कंपनी को मिलेगा। बेहतर कैपिटल एक्सपेंडिचर प्लान और नए प्लांट की योजना का फायदा कंपनी को होगा। कंपनी पर ज्यादा कर्ज नहीं है, वहीं कंपनी डिविडेंड भी देती है। पिछले 2 तिमाही से कंपनी के नतीजे भी बेहतर रहे हैं। शेयर सस्ते वैल्युएशन पर है। शेयर की मौजूदा कीमत 85 रुपए है। 
 
 
कोल इंडिया 
रिटर्न: 22 फीसदी 
 
कोल इंडिया का डिसपैच ग्रोथ स्ट्रांग बना हुआ है। वहीं, सालाना आधार पर प्रोडक्शन 6 फीसदी बढ़ा है। इस साल प्रोडक्शन बढ़कर 278 मिलिसन टन रहा है। डोमेस्टिक मांग बढ़ने का फायदा कंपनी को हुआ है। कंपनी को उम्मीद है कि आगे डिमांड में और तेजी आएगी। बिजली की मांग बढ़ने का भी कंपनी को फायदा होगा। ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने शेयर के लिए 335 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। शेयर की मौजूदा कीमत 274 रुपए है। यानी इसमें 22 फीसदी ग्रोथ की उम्मीद है। 
 
 
और किन शेयरों में करें निवेश 
 
 
ओएनजीसी
रिटर्न: 37 फीसदी 

मार्केट की तेजी में भी ओएनजीसी के शेयर अभी सस्ते हैं। पिछले एक साल में शेयर में ज्यादा ग्रोथ नहीं दिखी है। कंपनी का फोकस प्रोडक्शन कम करके इंपोर्ट कम करने पर है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि कंपनी ने ऑपरेशनल कास्ट 13 फीसदी घटाया है। क्रूड की कीमतों में स्टेबिलिटी रही है, आगे भी कीमतें स्टेबल रहने का अनुमान है, जिससे कंपनी को फायदा होगा। कंपनी की अदर इनकम बढ़ी है, क्रूड प्रोडक्शन भी बढ़ा है। फिलहाल ब्रोकरेज हाउस केआर चौकसे ने शेयर के लिए 250 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। मौजूदा कीमत 182 रुपए के लिहाज से शेयर में 37 फीसदी रिटर्न की उम्मीद है। 
 
 
(नोट- यहां दी गई सभी सलाह एक्सपर्ट्स की सलाह या टॉप ब्रोकरेज हाउस के द्वारा जारी रिपोर्ट के आधार पर हैं। मनी भास्कर की टीम ने आपकी सुविधा के लिए इन सभी रिपोर्ट्स को स्टॉक्स के आधार पर अलग-अलग किया है। हर स्टॉक से जुड़े अपने जोखिम होते है, इसलिए सलाह है कि अपने स्तर पर जांच या अपने एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही निवेश का फैसला लें)
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट