बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksस्‍टॉक मार्केट से कमाई के ये हैं 10 गोल्‍डन रूल्‍स, होगा फायदा

स्‍टॉक मार्केट से कमाई के ये हैं 10 गोल्‍डन रूल्‍स, होगा फायदा

स्‍टॉक मार्केट में हर व्‍यक्ति फायदा उठाना चाहता है,लेकिन अक्‍सर सही जानकारी न होने से ऐसा हो नहीं पाता है।

1 of
नई दिल्‍ली. स्‍टॉक मार्केट में इन्‍वेस्‍टमेंट करके हर व्‍यक्ति फायदा उठाना चाहता है,लेकिन अक्‍सर सही जानकारी न होने से ऐसा हो नहीं पाता है। वहीं कुछ लोग स्‍टॉक मार्केट से खूब फायदा उठाते हैं। यह लोग इसलिए अच्‍छा फायदा उठा लेते हैं, क्‍योंकि उनको इन्‍वेस्‍टमेंट के नियम पता होते हैं। यह नियम काफी आसान हैं, हालांकि लोग इस तरफ ध्‍यान नहीं देते हैं।
 
 
फॉलो करें 10 गोल्डन रूल
अगर आप चाहते हैं कि आपको स्‍टॉक में खूब फायदा हो तो सिर्फ 10 नियमों का पालन करें। ये आपको अच्‍छा रिटर्न दिलाने में मदद करेंगे। हालांकि ये नियम हैं तो बहुत आसान, लेकिन लोग निवेश के बाद अपना धैर्य खो देते हैं, जिसके चलते कई बार उन्‍हें होने वाला मुनाफा नुकसान में बदल जाता है। इसीलिए जानकारों का कहना है कि अगर नियमों का पालन किया जाए तो अच्‍छा रिटर्न पाना काफी आसान हो सकता है।
 
 
 
अगली स्‍लाइड में जानें  पहला गोल्‍डन रूल
 
 
गोल्डन रूल 1: निवेश से पहले जानकारी लें
बिना जाने समझे किसी भी शेयर में निवेश न करें। बीएसई पर 5000 शेयर लिस्टेड हैं। लेकिन कोई भी सभी शेयर में‍ निवेश नहीं कर सकता है। इसलिए जब भी निवेश शुरू करें तो सही शेयर को चुनें।
 
अगली स्‍लाइड में जानें - सही शेयर कैसे चुनें
 
 
गोल्डन रूल 2: जिस क्षेत्र की समझ हो उसी में निवेश बेहतर
अगर आपको किसी बिजनेस की समझ है, तो कोशिश करें कि उसी सेक्‍टर की कंपनी में निवेश करें। ऐसा करना इसलिए फायदेमंद होता है क्योकि उस सेक्टर में होने वाले उतार-चढ़ाव का अाप विश्लेषण कर सकते हैं। इसके अलावा आप किसी स्टॉक में निवेश से पहले ब्रोकरेज की सलाह को भी देख सकते हैं। जिससे आपका अच्छे रिटर्न मिलने के चांस बढ़ जाते हैं।
 
अगली स्‍लाइड में जानें - कंपनी का नाम न सुना हो उसमें निवेश न करें
 
 
गोल्डन रूल 3: बड़ी कंपनी में निवेश करें
अगर आप दवा क्षेत्र से जुड़े हैं, तो उन्‍हीं कंपनी में निवेश करें जिनका जाना पहचाना नाम हो। नई कंपनी में निवेश से बचें। हो सकता है कि नई कंपनी अच्‍छी हो लेकिन यह टाइम टेस्टेड नहीं है, तो कुछ दिन उस कंपनी पर नजर रखें। अगर उसका प्रदर्शन अच्‍छा रहता है तो बाद में निवेश किया जा सकता है। बड़ी कंपनियों में निवेश सुरक्षित रहता है, इसलिए ज्‍यादा फायदे के लालच में ऐसी कंपनी में निवेश न करें जिसका पहले से नाम न सुना हो।
 
अगली स्‍लाइड में  सुनी-सुनाई बातों पर निवेश का फैसला न करें
 
 
गोल्डन रूल 4: अफवाहों से दूर रहें
स्‍टॉक मार्केट में अफवाहें खूब चलती हैं। इसलिए इससे बचना जरूरी है। सबसे अच्‍छा होगा कि जो भी खबर सुनें उसको किसी जानकार से कंफर्म करने की कोशिश करें। लेकिन अगर खबर पक्‍की न हो तो उसके आधार पर निवेश का फैसला न करें।
 
अगली स्‍लाइड में जानें - रणनीति बना कर निवेश करें
 
 
गोल्डन रूल 5: पहले रणनीति बनाएं, फिर निवेश करें
स्‍टॉक मार्केट में निवेश से पहले रणनीति बनानी जरूरी होता है। और सबसे अच्छी रणनीति है कि कभी भी पूरा पैसा एक साथ निवेश न करें। कुछ हिस्‍सा जरूर बचा कर रखें। किसी भी शेयर के बारे में यह पता कर पाना कठिन है कि यह कब ऊपर जाएगा और कब नीचे। हो सकता है कि शेयर बहुत अच्‍छा हो और आप निवेश कर दें। लेकिन कई कारणों से यह नीचे भी जा सकता है। इसलिए कुछ हिस्‍सा जरूर बचा कर रखें। यह हिस्‍सा गिरावट के वक्‍त दोबारा उसी शेयर में खरीदारी में काम आ सकता है। इससे आपकी शेयर की खरीद की एवरेजिंग अच्‍छी हो जाएगी।
 
अगली स्‍लाइड में जानें  स्‍टॉक मार्केट को टाइम न करें
 
 
गोल्डन रूल 6: स्‍टॉक मार्केट में निवेश का सही समय न खोजें
स्‍टॉक मार्केट ऊपर-नीचे होता रहेगा, आप रणनीति बना कर निवेश शुरू करें। कभी यह इंतजार न करें कि स्‍टॉक मार्केट आपके सोचे स्‍तर पर आ जाएगा। आमतौर पर स्‍टॉक लोगों की सोच से कुछ ही रंग दिखाता है। इसलिए निवेश की योजना बनाएं और इन्‍वेस्‍टमेंट शुरू करें।
 
अगली स्‍लाइड में जानें  भावनाओं में बहें
 
गोल्डन रूल 7: इन्‍वेस्‍टमेंट में इमोशन को स्‍थान न दें
कई बार लोग अच्‍छे शेयर में निवेश करते हैं, लेकिन अचानक हालात बदल जाते हैं। ऐसे में शेयर के साथ इमोशनल न हों, बल्कि समय की मांग के हिसाब से फैसला लें। आजकल टेलिकॉम सेक्‍टर इसी का उदाहरण है। इस सेक्‍टर के शेयर कुछ समय तक अच्‍छा रिटर्न दे रहे थे, लेकिन अचानक यह सेक्‍टर आकर्षक नहीं रह गया है। ऐसे में अगर इस क्षेत्र की कंपनियों में निवेश है, तो उससे निकलना ही बेहतर होता है, या बहुत ही ज्‍यादा लंबे समय तक उस शेयर के साथ रहना। ज्‍यादा लंबे समय तक बड़े निवेश ही रुक पाते हैं, ऐसे में छोटे निवेशकों का इस सेक्‍टर के शेयरों से बाहर आ जाना ही बेहतर रहता है।
 
अगली स्‍लाइड में जानें - रेगुलर मानिटरिंग करें
 
 
गोल्डन रूल 8: पोर्टफोलियो को व्‍यापक बनाएं
अपने पोर्टफोलियो या कहें कि स्‍टॉक मार्केट में निवेश को व्‍यापक बनाएं। सारा पैसा एक या दो शेयर में न लगाएं। इसके अलावा सेक्‍टर के हिसाब से भी निवेश करें। कोशिश करें कि कम से तीन सेक्‍टर में निवेश जरूर हो। इसके अलावा हर सेक्‍टर की एक से ज्‍यादा कंपनियों में निवेश रखें।
 
अगली स्‍लाइड में जानें  रिटर्न की कितनी उम्‍मीद ठीक
 
 
गोल्डन रूल 9: ज्‍यादा रिटर्न की उम्‍मीद न रखें
निवेश करने के साथ ही लोग कुछ ज्‍यादा ही रिटर्न की उम्‍मीद लगा लेते हैं। इसके चलते वह जब उनको फायदा होता है, तो उसका सही विश्‍लेषण नहीं कर पाते हैं। इसलिए रिटर्न को लेकर हरदम तर्कसंगत उम्‍मीद ही लगानी चाहिए। आमतौर पर बैंक की एफडी से दोगुना रिटर्न अच्‍छा माना जाना चाहिए।
 
अगली स्‍लाइड में जानें  किस पैसे का करें निवेश
 
 
गोल्डन रूल 10: अतिरिक्‍त पैसों का ही करें निवेश
अंश फायनेंशियल एंड इन्‍वेस्‍टमेंट के डायरेक्‍टर दिलीप कुमार गुप्‍ता का कहना है कि स्‍टॉक मार्केट में कभी उस पैसे का निवेश नहीं करना चाहिए, जिसकी आपको कुछ समय बाद ही जरूरत हो। यहां पर उसी पैसे का निवेश करें जो काफी समय के लिए खाली हो, क्‍योंकि स्‍टॉक मार्केट लगातार ऊपर नीचे होता रहता है, इसलिए जरूरी नहीं है कि कम समय में आपको फायदा हो। लेकिन लंबे समय में यह बाजार आपको अच्‍छा रिटर्न देता है, इसलिए निवेश जितने ज्‍यादा दिनों तक बनाएं रखेंगे उतना ही ज्‍यादा फायदा होगा।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट