बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksबेहतर हुआ रियल एस्टेट सेक्टर का आउटलुक, ये शेयर दे सकते हैं 50% तक रिटर्न

बेहतर हुआ रियल एस्टेट सेक्टर का आउटलुक, ये शेयर दे सकते हैं 50% तक रिटर्न

रेटिंग एजेंसी फिच और मूडीज ने इंडियन रियल सेक्टर का आउटलुक बेहतर बताया है।

1 of

नई दिल्ली। रेटिंग एजेंसी फिच और मूडीज ने रियल एस्टेट सेक्टर का आउटलुक पॉजिटिव बताया है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि कस्टमर्स द्वारा तैयार प्रोजेक्ट पर जोर देने से रियल एस्टेट कंपनियां अपने मौजूदा प्रोजेक्ट को पूरा करने पर फोकस कर रही हैं। इससे आने वाले दिनों में अनसोल्ड इन्वेंट्रीज की संख्‍या घटने की उम्मीद है। रियल एस्टेट को कम टैक्स स्लैब में लाया जा सकता है, सीमेंट पर जीएसटी की दरें घटाने की योजना है। वहीं, बैंकरप्सी कानून का फायदा भी बड़ी कंपनियों को मिलेगा।  

 

 

फिच और मूडीज ने बताया पॉजिटिव आउटलुक
रेटिंग एजेंसी फिच का कहना है कि रियल एस्टेट एक्ट की वजह से मौजूदा समय में रियल एस्टेट कंपनियां अपने अधूरे प्रोजेक्ट को पूरा करने में लगी है। उम्मीद है कि फाइनेंशियल ईयर 2018 में अनसोल्ड इन्वेंट्रीज की संख्‍या घटेगी, जिससे फ्लैट की सेल बढ़ेगी। असल में तैयार प्रोजेक्ट पर टैक्स न होने से कस्टमर्स ऑनगोइंग प्रोजेक्ट में जाने की जगह तैयार प्रोजेक्ट में पैसा लगा रहे हैं। इससे अनसोल्ड इन्वेंट्रीज की संख्‍या बढ़ी है। वहीं, रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भी रियल एस्टेट के लिए आउटलुक बेहतर बताया है, जिससे निवेशकों को सेंटीमेंट बेहतर हुआ है। 

 

बड़ी कंपनियों को होगा फायदा 
कॉरपोरेट स्कैन डॉट कॉम के सीईओ विवेक मित्तल का कहना है कि सरकार की तैयारी रियल एस्टेट को कम टैक्स स्लैब वाले जीएसटी के दायरे में लाने की है। वहीं, सीमेंट पर भी जीएसटी घट सकती है। इसका सीधा फायदा रियल एस्टेट को होगा। वहीं, बैंकरप्‍सी कोड भी बड़ी रियल एस्टेट कंपनियों के लिए बेहतर संकेत है। इसमें संशोधन के लिए कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है। 


उनका कहना है कि कई छोटी रियल कंपनियां बैंक के कर्ज में डूबी हैं, जिससे उनके प्रोजेक्ट फंसे हुए हैं। कोर्ड आने से बैंक उन कंपनियों की एसेट्स को बेचने के लिए बॉयर्स खोज सकती है। ऐसे में बड़ी रियल एस्टेट कंपनियों के पास मौका होगा कि वे कम कीमत पर नए प्रोजेक्ट खरीद सकेंगे। इससे उन्हें विस्तार करने में मदद मिलेगी। 

 

 

किन शेयरों में करें निवेश
 

शोभा लिमिटेड

 

शोभा लिमिटेड बंगलुरू बेस्ड रियल एस्टेट कंपनी है, जिसका 38 फीसदी लैंड बैंक बंगलुरू में है। कोच्चि, चेन्नई सहित साउथ इंडिया के कई शहरों में कंपनी को प्रोजेक्ट है। गुरूग्राम में भी कंपनी की प्रजेंस है। दूसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा और आय दोनों बढ़ा है। कंपनी का थर्ड पार्टी से भी कंस्ट्रक्शन के लिए कांट्रैक्ट है और बिजनेस मॉडल कंपनी के लिए बेहतर साबित हो रहा है। आने वाले दिनों में कुछ नए प्रोजेक्ट पर कंपनी का फोकस है। अफोर्डेबल हाउसिंग स्कीम से भी कंपनी को फायदा मिलेगा। SMC इन्वेस्टमेंट्स एंड एडवाइजर्स लिमिटेड के रिसर्च हेड सचिन सर्वदे ने शेयर के लिए 800 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। मौजूदा कीमत 535 के लिहाज से शेयर में 50 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

 

आगे पढ़ें, और किन शेयरों में करें निवेश 

 

 

HDIL


एचडीआईएल रियल एस्टेट सेक्टर में मुंबई बेस्ड कंपनी है। विवेक मित्तल का कहना है कि कंपनी अब टाइम से पेमेंट कर रही है, जिससे एनसीएलटी में कंपनी का केस बेहतर हो रहा है। कंपनी के प्रमोटर अब कंपनी में फंड डाल रहे हैं, कंपनी का मुंबई में बड़ा लैंड बैंक भी है। कंपनी काफी दिनों से अंडरवैल्युड भी है, हालांकि रियल एस्टेट की मंदी का कंपनी प्रभाव बहुत कम पड़ा है। आगे कंपनी में बेहतर ग्रोथ की उम्मीद है। मित्तल ने शेयर के लिए 82 रुपए का टारगेट दिया है। मौजूदा कीमत 61 रुपए के लिहाज से शेयर में 34 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

 

जेके लक्ष्‍मी सीमेंट


कंपनी का कैपेसिटी यूटिलाइजेशन बढ़कर 65 फीसदी हो गया है। नॉर्थ इंडियन मार्केट में कंपनी ने 2 फीसदी ग्रोथ किया है। सीमेंट वॉल्यूल बढ़ रहा है। हालांकि दूसरी तिमाही में तेल, बिजली और ठुलाई की उुंची कीमतों से मार्जिन प्रभावित हुआ है। लेकिन जल्द ही इसमें सुधार होने की उम्मीद है। रॉ मैटेरियल सस्ता होने का फायदा कंपनी को मिलेगा। सीमेंट पर जीएसटी कम हुआ तो इसका फायदा भी कंपनी को होगा। इंफ्रा एक्टिविटी भी बढ़ रही है। इन सबसे सीमेंट की डिमांड बढ़ेगी। ब्रोकरेज हाउस जेएम फाइनेंशियल ने शेयर के लिए 520 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। मौजूदा कीमत 396 रुपए के लिहाज से शेयर में 31 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

KCP लिमिटेड


विवेक मित्तल ने केपीसी लिमिटेड में निवेश की सलाह दी है। शेयर के लिए 144 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। विवेक का कहना है कि कंपनी का बिजनेस पहले से बेहतर हो रहा है। कंपनी एक्सपेंशन मोड में है, जिससे आगे कैपेसिटी बढ़ेगी। कैपेसिटी यूटिलाइजेशन भी बेहतर हुआ है। कंपनी की सेल्स वॉल्यूम भी बढ़ रही है। कंपनी अब टर्नअराउंड की राह पर है। 122 रुपए मौजूदा कीमत के लिहाज से शेयर में 18 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

 

 

(नोट- यहां दी गई सभी सलाह मार्केट एक्सपर्ट्स की सलाह के आधार पर हैं। हर स्टॉक से जुड़े अपने जोखिम होते है, इसलिए सलाह है कि अपने स्तर पर जांच या अपने एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही निवेश का फैसला लें।)

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट