Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Market »Stocks» GST Rate Finalised, These Are Top Stock Bets For Better Return

    GST रेट तय होने से इन सेक्टर्स को फायदा, ये 10 स्टॉक्स दें सकते हैं अच्छा रिटर्न

    नई दिल्ली। जीएसटी काउंसिल ने 1211 आइटम्स पर GST के रेट तय कर दिए गए हैं। 1 जुलाई से देशभर में जीएसटी लागू होना तय माना जा रहा है। जीएसटी की दरें तय होने से कुछ सेक्टर्स को राहत मिली है। वहीं, कुछ सेक्टर्स की चिंताएं बढ़ गई हैं। एक्सपर्ट्स भी जीएसटी को शेयर मार्केट के लिए पॉजिटिव ट्रिगर मान रहे हैं। फिलहाल हम एक्सपर्ट्स के हवाले से बता रहे हैं कि जीएसटी की दरें तय होने के बाद शेयर मार्केट में निवेश के लिए स्ट्रैटजी क्या होनी चाहिए। किन 10 स्टॉक्स में निवेश करने पर आपको बेहतर रिटर्न मिल सकता है।
     
    इंडियन इकोनॉमी को होगा फायदा
    सैमको सिक्योरिटीज के सीईओ जिमीत मोदी का कहना है कि जीएसटी की दरें आखिरकार तय हो गई हैं। ये दरें महंगाई कम करने के लिहाज से बेहतर हैं और कंज्यूमर को इससे फायदा होगा। वहीं, बहुत सी कंपनियां किसी राज्य विशेष से हटकर पूरे देश में कारोबार कर सकेंगी। इससे कंपनियों के साथ सरकार का भी रेवेन्यू बढ़ेगा। इससे इंडियन इकोनॉमी को फायदा होगा। वहीं, शेयरखान के एवीपी मृदुल कुमार वर्मा के अनुसार जीएसटी लागू होने से लोगों की खरीदारी करने की क्षमता बढ़ेगी और कंपनियों का कारोबार भी बढ़ेगा। उनका कहना है कि निवेशकों के लिए उन कंपनियों में निवेश करने का बेहतर मौका है, जिन्हें जीएसटी का सबसे ज्यादा फायदा मिल रहा हो।
     
    किन सेक्टर्स को होगा फायदा
    बोनांजा पोर्टफोलियो के पुनीत किनरा का कहना है कि जीएसटी की नई दरें देखने के बाद एफएमसीजी सेक्टर रियल विनर दिख रहा है। जीएसटी के तहत इस सेक्टर को फायदा मिलेगा। वहीं, वीएम फाइनेंस के विवेक मित्तल ने बताया कि जीएसटी लागू होने से एफएमसीजी, पावर सेक्टर और लॉजिस्टिक कंपनियों को फायदा होगा। ब्रोकरेज हाउस एडेलवाइस की रिपोर्ट के मुताबिक जीएसटी से एफएमसीजी कंपनियों को बड़ा फायदा होगा। हेयर ऑयल, सोप, टूथपेस्ट जैसे प्रोडक्ट पर टैक्स स्लैब अब घट जाएगा। वहीं, कोयला पर टैक्स स्लैब घटने से पावर कंपनियों को फायदा होगा।
     
    किन सेक्टर्स को होगा नुकसान
    जीएसटी की नई दरें ऑटो सेक्टर के साथ ही सीमेंट, कंज्यूमर-ड्यूरेबल, बिवेरेजेज, फूड आइटम्स, पर्सनल केयर और बिल्डिंग मैटेरियल बनाने वाली कंपनियों लिए चिंता बढ़ाने वाली हो सकती हैं। इन पर जीएसटी की दरें मौजूदा दरों से ज्यादा है। ज्यादातर 28 फीसदी वाले स्लैब में हैं और उनपर सेस भी लगेगा। ऐसे में ऑटो सेक्टर, सीमेंट कंपनियों, पेंट कंपनियों, पर्सनल केयर प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनियों या फूड आइटम तैयार करने वाली कंपनियों को नुकसान भी हो सकता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार बजाज ऑटो, मारूति सुजुकी, एशियन पेंट, एसीसी, अंबुजा सीमेंट, हीरो मोटो कॉर्प, टीवीएस मोटर्स, नेसले, पीएंडजी और टाटा मोटर्स पर असर हो सकता है।  
     
     
    अगली स्लाइड में, किन स्टॉक्स में करें निवेश 
     
     

    और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY