बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksगोल्‍ड ETF से 7 महीने में इन्‍वेस्‍टर्स ने निकाले 422 करोड़ रुपए, ELSS में बढ़ा रहे निवेश

गोल्‍ड ETF से 7 महीने में इन्‍वेस्‍टर्स ने निकाले 422 करोड़ रुपए, ELSS में बढ़ा रहे निवेश

गोल्‍ड ईटीएफ से निवेशकाें का मोहभंग हो रहा है।

1 of
 
नई दिल्‍ली. गोल्‍ड ईटीएफ से निवेशकाें का मोहभंग हो रहा है। इस साल अप्रैल से लेकर अक्‍टूबर के बीच निवेशक इन फंड से 422 करोड़ रुपए का निवेश निकाल चुके हैं। यह जानकारी एसोसिएशन ऑफ म्‍युचुअल फंड ऑफ इंडिया (Amfi) की तरफ से जारी आंकड़ों में मिली है। इन आंकड़ों के अनुसा,र टैक्‍स सेविंग स्‍कीम्‍स (ELSS) में निवेश इसी समय के दौरान 96 हजार करोड़ रुपए बढ़ा है।
 
लगातार निकल रहा निवेश-
वर्ष
निवेशकों ने निकाला पैसा
2013-14
2,293 करोड़ रुपए
2014-15
1,475 करोड़ रुपए
2015-16
903 करोड़ रुपए
2016-17
775 करोड़ रुपए

 
अप्रैल से अक्‍टूबर 2017 तक ऐसे निकला पैसा
महीना
कितना निकला निवेश
अप्रैल 2017
66 करोड़ रुपए
मई 2017
71 करोड़ रुपए
जून 2017
81 करोड़ रुपए
जुलाई     2017
38 करोड़ रुपए
अगस्‍त  2017
58 करोड़ रुपए
सितंबर 2017
74 करोड़ रुपए
अक्‍टूबर 2017
34 करोड़ रुपए
 
टैक्‍स सेविंग स्‍कीम्‍स में बढ़ रहा निवेश
जहां गोल्‍ड ईटीएफ से पैसा निकल रहा है, वहीं इक्विटी लिंक्‍ड सेविंग स्‍कीम्‍स (ELSS) में तेजी से निवेश बढ़ रहा है। इस साल के शुरुआती सात महीनों में 96 हजार करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। सिर्फ अक्‍टूबर में ही 17 हजार करोड़ रुपए का निवेश इन फंड में आया है।
 
शेयर बाजार की तेजी में गोल्‍ड की जगह इक्विटी में बढ़ रहा निवेश
स्‍टॉक मार्केट में तेजी चल रही है, यह अपने ऑल टाइम हाई पर चल रहा है। कोटक म्‍युचुअल फंड के पोर्टफोलियो मैनेजर अंशुल सहगल का कहना है कि पिछले कुछ सालों से इक्विटी का रिटर्न बाकी सभी जगहों से बेहतर है। यही कारण है कि निवेश गोल्‍ड से लेकर किसी और जगह पर निवेश करने की जगह इक्विटी में निवेश करना पसंद कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि गोल्‍ड ईटीएफ में फायदा या नुकसान बाजार में गोल्‍ड के दाम पर निर्भर रहता है।
 
आंकड़ों पर नजर
एम्‍फी की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार इस साल अप्रैल से लेकर अक्‍टूबर के बीच 422 कराेड़ रुपए निकाला गया है। पिछले साल इसी समय के दौरान गोल्‍ड ईटीएफ से 519 करोड़ रुपए निकाला गया था। इस समय म्‍युचुअल फंड कंपनियों के पास 14 गोल्‍ड ईटीएफ हैं।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट