बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksकमाई से जुड़े टिप्‍स देना पड़ सकता है आपको भारी, सरकार ने लिया फैसला

कमाई से जुड़े टिप्‍स देना पड़ सकता है आपको भारी, सरकार ने लिया फैसला

अगर आपने कमाई से टिप्‍स किसी को दिए तो भारी पड़ सकता है। सरकार ने अब कड़ाई करने का फैसला लिया है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. अगर आपने कमाई से टिप्‍स किसी को दिए तो भारी पड़ सकता है। सरकार ने अब कड़ाई करने का फैसला लिया है। इन टिप्‍स के चलते लोगों को लाखों रुपए का नुकसान हो चुका है। ऐसे लोगों को जेल भेजने की तैयारी हो चुकी है। ऐसे मार्केट मैनिपुलेटर्स यानी हेराफेरी करने वाले लोग 'मल्टीबैगर' स्टॉक टिप्स शेयर करने के लिए इंटरनेट और वाट्सऐप पर शेयर करते हैं। वे कई बार इनके माध्यम से लिस्टेड कंपनियों से जुड़ी अनपब्लिस्ड प्राइस सेंसिटिव जानकारी भी लीक कर रहे हैं। लेकिन अब यह घालमेल नहीं चलेगा।

 

मल्टीबैगर्स का देते हैं झांसा

इंडस्ट्री, रेग्युलेटरी अथॉरिटीज और एक्सचेंजेस के कई सोर्सेज के मुताबिक मैनिपुलेटरर्स अक्सर 'स्ट्रीट्स पर बातचीत में सुनी गई' कहकर लिस्टेड कंपनियों की प्राइस सेंसिटिव इन्फोर्मेशन जाहिर करते हैं, वहीं स्टॉक टिप्स को मल्टीबैगर्स के तौर पर साझा किया जाता है जिसे कई गुना रिटर्न देने वाला बताया जाता है।

 

आगे पढ़े : क्‍या है व्हिशलब्लोअर' फ्रेमवर्क

 

 

तैयार किया व्हिशलब्लोअर' फ्रेमवर्क

इसके चलते एक्सचेंजेस और रेग्युलेटर ने इन्वेस्टर्स और कई मार्केट इंटरमीडियरीज के साथ काम करने वालों को प्रोत्साहित करने के वास्ते एक 'व्हिशलब्लोअर' फ्रेमवर्क तैयार किया है, जिससे ऐसे ग्रुप के प्रति लोगों को आगाह किया जा सके।

 

टेलिकॉम कंपनियों से डाटा रिकॉर्ड्स मांग सकेगा रेग्युलेटर

इन प्लेटफॉर्म्स में यह बदलाव कैपिटल मार्केट्स वाचडॉग सेबी (सिक्युरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया) और स्टॉक एक्सचेंजेस द्वारा फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स की लगातार निगरानी के बाद संभव हुआ है। वहीं रेग्युलेटर अपनी जांच के लिए टेलिकॉम कंपनियों से डाटा रिकॉर्ड्स भी मांग सकता है।

 

बीएसई और एनएसई के पास है ऐसा सिस्टम

दो लीडिंग एक्सचेंजेस बीएसई और एनएसई के पास एक ऐसा सिस्टम है, जहां कोई भी टोल फ्री नंबर, ईमेल या उनकी वेबसाइट्स से सीधे आगाह कर सकता है। व्हिशलब्लोअर द्वारा अपनी डिटेल्स साझा किए बिना चेतावनी साझा की जा सकती है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट