Home » Market » StocksGoldman Sachs sees Nifty 50 at 11600 points by December 2018

बैंक रिकैप प्लान से GDP को मिलेगा बूस्ट, FY19 में 8% हो सकती है ग्रोथः गोल्डमैन सैक्स

ग्लोबल ब्रोकरेज हाउस गोल्डमैन सैक्स ने कहा कि बैंक रिकैपिटलाइजेशन प्लान से इकोनॉमी को बूस्ट मिलेगा।

1 of

 

मुंबई. ग्लोबल ब्रोकरेज हाउस गोल्डमैन सैक्स ने कहा कि बैंक रिकैपिटलाइजेशन प्लान से इकोनॉमी को बूस्ट मिलेगा और अगले वित्त वर्ष में जीडीपी ग्रोथ 8 फीसदी के स्तर पर पहुंच सकती है। उसके मुताबिक रिकैप प्लान से लंबे समय से अटकी क्रेडिट डिमांड और प्राइवेट इन्वेस्टमेंट के रिवाइवल में मदद मिलेगी।

 

 

बैंक रिकैप प्लान से मार्केट को मिलेगा बूस्ट

अमेरिकी ब्रोकरेज कंपनी के मुताबिक सरकार ने पिछले महीने 2.11 लाख करोड़ रुपए के बैंक रिकैपिटलाइजेशन प्लान की घोषणा की थी और इससे अर्निंग्स में सुधार के अनुमान से स्टॉक मार्केट में तेजी आने का अनुमान है। गोल्डमैन सैक्स ने इसके चलते ही अगले साल दिसंबर में निफ्टी के 11,600 पर पहुंचने का टारगेट दिया है, जो मौजूदा लेवल से 12 फीसदी ज्यादा है।

 

 

इस साल 27 फीसदी रिटर्न दे चुका है बेंचमार्क इंडेक्स

गोल्डमैन सैक्स का अनुमान इस लिहाज से भी अहम है कि इस साल बेंचमार्क इंडेक्स 27 फीसदी तक रिटर्न दे चुका है, वहीं कुछ एक्सपर्ट्स मार्केट को ओवरवैल्यूड होने को लेकर चिंताएं जाहिर कर रहे हैं। ब्रोकरेज हाउस को उम्मीद है कि इक्विटी मल्टीपल्स के सहारे भारत की जीडीपी ग्रोथ की री रेटिंग देखने को मिल सकती है।

 

 

जीएसटी-नोटबंदी के निगेटिव असर के बावजूद आएगी तेजी

गोल्डमैन सैक्स को 2018 में जीडीपी में सुधार के चलते निफ्टी 50 में शामिल कंपनियों का ईपीएस यानी अर्निंग पर शेयर 18 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है। ऐसा जीएसटी और नोटबंदी के निगेटिव असर के बावजूद संभव होगा। इसके साथ ही 2019 में निफ्टी 50 की ईपीएस ग्रोथ 17 फीसदी रहने का अनुमान है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट