बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksNSE से जुड़े दो ब्रोकरों के यहां इनकम टैक्‍स विभाग की सर्च, को-लोकेशन मामले में आए थे नाम

NSE से जुड़े दो ब्रोकरों के यहां इनकम टैक्‍स विभाग की सर्च, को-लोकेशन मामले में आए थे नाम

NSE से जुड़े दो ब्रोकरों उनसे जुडी एन्टटी एवं इडिवुअल के यहां आज इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने सर्च की।

1 of

नई दिल्‍ली. NSE से जुड़े दो ब्रोकरों उनसे जुडी एन्टटी एवं इडिवुअल के यहां आज इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने सर्च की। इन पर टैक्‍स चोरी का आरोप है। यह लोग चर्चित NSE को-लोकेशन मामले से जुड़े हुए हैं। विभाग की यह कार्रवाई दिल्‍ली और मुम्‍बई में बुधवार से जारी है। जानकारी के अनुसार सर्च के दौरान कई सारे दस्‍तावेज और कंप्‍यूटर उपकरण बरामद किए गए हैं।

 

क्‍या था NSE का को-लोेकेशन मामला  

NSE को-लोकेशन केस में कई लोगों पर शामिल रहने का आरोप है। इसमें आराेप है कि कुछ ब्रोकरों को NSE के सर्वर पर प्रिफरेंशियल एक्‍सेस दिया जा रहा था। इसके चलते यह लोग ट्रेड में ज्‍यादा फायदा लेने की स्थिति में थे।

 

इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने मांगी थी जानकारी

इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने NSE और ओपीजी सिक्‍योरिटीज से इस मामले में जानकारी मांगी थी। हालांकि इन दोनों ने अभी तक विभाग को उत्‍तर नहीं भेजा है। इनकम टैक्‍स विभाग का कहना है कि सर्च की कार्रवाई पुख्‍ता जानकारी के आधार पर की गई है।

 

सेबी की भी है इस मामले पर नजर

NSE के को-लोकेशन मामले पर सेबी भी नजर रख रहा है। सेबी ने इस पर NSE से डिटेल जानकारी मांगी थी। बाद में NSE ने अर्नेंस्‍ट एंड यंग से पूरे मामले की फोरेंसिक ऑडिट कराने के बाद डिटेल रिपोर्ट सेबी को सौंपी है। ऑडिट फर्म अर्नेंस्‍ट एंड यंग ने इस रिपोर्ट में कैश मार्केट, करेंसी मार्केट सहित डेरीवेटिव और इंटरेस्‍ट रेट फ्यूचर को शामिल किया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट