Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Market »Stocks» Buffett Praises Ajit Jain For Making Most Money In Berkshire Hathway

    वारेन बफे के लिए इस भारतीय ने कमाया सबसे ज्यादा पैसा, एजीएम में हुई तारीफ

     
    ओमाहा (अमेरिका).दुनिया के सबसे बड़े इन्वेस्टर वारेन बफे की कंपनी बर्कशायर के लिए सबसे ज्यादा पैसा वाला एक भारतीय है। बफे ने शनिवार को हुई कंपनी की एजीएम में इस बात को माना। इन्श्योरेंस पर बातचीत करते हुए बफे ने कहा कि एक शेयरहोल्डर्स के तौर पर किसी ने भी अजित जैन से ज्यादा पैसा नहीं कमाया। अजित जैन को बफे के करीबियों में गिना जाता है और वह रीइन्श्योरेंस एक्जीक्यूटिव हैं। बफे के उत्तराधिकारियों में भी जैन का नाम खासे आगे रहता है।
     
    बफे ने कहा कि जैन ने 1980 के दशक की बर्कशायर हाथवे की एक छोटी सी सब्सिडियरी को अरबों डॉलर की कंपनी बना दिया। माना जाता है कि बफे ने इतनी तारीफ किसी की नहीं की, जितनी जैन की करते रहे हैं। बफे शनिवार को बर्कशायर हाथवे की एजीएम को संबोधित कर रहे थे।
     
    अमेजन के बिजोस की तारीफ की
    -एजीएम के बाद एक प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने अमेजन के चीफ जेफ बिजोस की तारीफ की। बफे ने कहा कि बिजोस ने दो बिजनेस ई-कॉमर्स और क्लाउड सर्विस खड़े किए हैं। उन्होंने कहा, ‘बिजोस दोनों ही बिजनेस सफलता पूर्वक चला रहे हैं।’
    -गौरतलब है कि बर्कशायर हाथवे ने अमेजन का एक भी शेयर नहीं खरीदा है।
     
    ड्राइवरलेस कार दुनिया की सेफ्टी के लिए बेहतर,लेकिन इन्श्योरेंस के लिए नहीं
     
    -ड्राइवरलेस कार के ऑटो इन्श्योरेंस और रेलरोड्स केसाथ ही बर्कशायर के बिजनेस के लिए क्या मायने हैं, इस पर बफे ने कहा कि हकीकत में ड्राइवरलेस टेक्नोलॉजी दोनों के लिए ही चुनौती है।
    -उन्होंने कहा, ‘यदि इससे दुनिया सुरक्षित होती है, तो यह अच्छा होगा लेकिन ऐसा इन्श्योरेंस सेक्टर के लिए अच्छा नहीं होगा।’
     
     
    एप्पल और आईबीएम पर राय अलग-अलग
    -बफे ने कहा कि हम एप्पल और आईबीएम पर अलग-अलग राय रखते हैं। एप्पल कंज्यूमर बिजनेस ज्यादा है, जबकि आईबीएम प्रोडक्ट्स पर ज्यादा काम करती है।
    - बफे ने कहा कि मैं आईबीएम पर गलत था, पता लगाएंगे कि क्या हम एप्पल पर गलत थे।
    -उन्होंने कहा, ‘गूगल में पहले निवेश नहीं करने का दुख है।’
     
     
     
     
     
    घटी इन्वेस्टमेंट से होने वाली कमाई
     
    -मार्च में समाप्त क्वार्टर के दौरान बर्कशायर हाथवे के प्रॉफिट में 27 फीसदी की कमी आ गई। इसकी वजह इन्वेस्टमेंट लाभ में बड़ी गिरावट रही।
    -कैंलेंडर ईयर के पहले क्वार्टर के दौरान नेट इनकम घटकर 4.06 अरब डॉलर रह गई, जबकि एक साल पहले इसी अवधि में यह आंकड़ा 5.59 अरब डॉलर थी।
    -वहीं कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफिट 5 फीसदी घटकर 3.56 अरब डॉलर रह गया, जिसमें इन्वेस्टमेंट और डेरिवेटिव गेन्स व लॉस शामिल नहीं होते हैं।

    और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY