विज्ञापन
Home » Market » StocksBank of Baroda narrows Q4 loss to Rs 991 crore

Q4 रिजल्ट / बैंक ऑफ बड़ौदा को 991 करोड़ रु का घाटा, एनपीए के लिए 5550 करोड़ रु की प्रोविजनिंग

बीते साल समान तिमाही में हुआ था 3,102.34 करोड़ रुपए का घाटा

Bank of Baroda narrows Q4 loss to Rs 991 crore
  • पिछली तिमाही यानी अक्टूबर-दिसंबर, 2018 में बैंक को 471.25 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था


नई दिल्ली. सरकार के स्वामित्व वाले बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) को मार्च, 2019 में समाप्त तिमाही के दौरान 991 करोड़ रुपए का घाटा हुआ। हालांकि यह बीते साल समान तिमाही में हुए 3,102.34 करोड़ रुपए के घाटे से कम है। हालांकि, पिछली तिमाही यानी अक्टूबर-दिसंबर, 2018 में बैंक को 471.25 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

वित्त वर्ष में 433 करोड़ रु का स्टैंडअलोन मुनाफा

एक रेग्युलेटरी फाइलिंग में बैंक ऑफ बड़ौदा ने कहा, ‘वित्त वर्ष 2018-19 की चौथी तिमाही में प्रोविजनिंग बढ़ने से बैंक को स्टैंडअलोन बेसिस पर 991 करोड़ रुपए का घाटा हुआ।’ वित्त वर्ष 2018-19 में बैंक का स्टैंडअलोन और कंसॉलिडेटेड मुनाफा क्रमशः 433 करोड़ रुपए और 1,100 करोड़ रुपए रहा। वहीं एक साल पहले समान अवधि में स्टैंडअलोन और कंसॉलिडेटेड बेसिस पर क्रमशः 2,431.81 करोड़ रुपए और 1,887.10 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था।

कुल इनकम रही 15284 करोड़ रु

2018-19 की मार्च तिमाही के दौरान बैंक की कुल इनकम बढ़कर 15,284.59 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गई, जबकि एक साल पहले समान तिमाही के दौरान यह आंकड़ा 12,735 करोड़ रुपए रहा था। पूरे साल के दौरान बैंक की स्टैंडअलोन इनकम 11.4 फीसदी बढ़कर 56,065.10 करोड़ रुपए और कंसॉलिडेटेड इनकम 12.5 फीसदी बढ़कर 60,793.30 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गई।

ग्रॉस एनपीए में भी कमी

एसेट के मोर्चे पर बैंक का ग्रॉस एनपीए घटकर ग्रॉस एडवांस का 9.61 फीसदी रह गया, जबकि मार्च, 2018 तक यह 12.26 फीसदी था। नेट एनपीए 5.49 फीसदी से घटकर 3.33 फीसदी रह गया। बैंक ने कहा कि वैल्यू टर्म में नेट एनपीए 15,609 करोड़ रुपए से घटकर 3,521 करोड़ रुपए रह गया, जो पिछला 8 तिमाहियों में सबसे कम है। बैंक ने बैड लोन्स के लिए 5,550.10 करोड़ रुपए की प्रोविजनिंग भी की है। वहीं एक साल पहले समान अवधि में 7,052.53 करोड़ रुपए की प्रोविजनिंग की गई थी।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss