बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocks128 देशों की GDP से ज्‍यादा है इस इंडियन कंपनी की दौलत

128 देशों की GDP से ज्‍यादा है इस इंडियन कंपनी की दौलत

वैसे तो भारत में कई ऐसी आईटी कंपनियां हैं जो दुनियाभर की कई बड़ी कंपनियों को टक्‍कर दे रही हैं।

1 of

नई दिल्‍ली। वैसे तो भारत में कई ऐसी आईटी कंपनियां हैं जो दुनियाभर की कई बड़ी कंपनियों को टक्‍कर दे रही हैं। लेकिन टाटा कंसल्टंसी सर्विसेज (टीसीएस) न सिर्फ कंपनियों को टक्‍कर दे रही है बल्कि 128 देशों की GDP को भी पीछे छोड़ चुकी है। दरअसल, भारतीय कंपनी टीसीएस ने सोमवार को वो मुकाम हासिल किया जो दुनिया के कई बड़े देशों के लिए अभी दूर की कौड़ी है। तो आइए जानते हैं कि क्‍या है वो मुकाम।  

 

सोमवार को रचा इतिहास 


सोमवार के कारोबार के दौरान मार्केट कैप के लिहाज से 100 अरब डॉलर का अंकड़ा पार करने वाली देश की पहली कंपनी बन गई। शुक्रवार को ही कंपनी का मार्केट कैप 99.1 अरब डॉलर पहुंच गया था। यह तेजी सोमवार को भी जारी रही और सुबह 09:49 पर जैसे ही कंपनी की वैल्‍यू रुपए के लिहाज से 6,62,726.36 के लेवल पर पहुंची, उसने इतिहास रच दिया और इसी के साथ ही वह डॉलर के लिहाज से 100 अरब डॉलर की मार्केट कैप वाली देश की पहली कंपनी बन गई। 

 

 

128 देशों की जीडीपी से ज्‍यादा दौलत 
टीसीएस की मार्केट वैल्‍यू अब दुनिया के 128 देशों की जीडीपी से भी ज्‍यादा हो गई है। जीडीपी के मामले में इस भारतीय कंपनी ने जिन देशों को पछाड़ा है उनमें श्रीलंका, नेपाल, भूटान, मालदीव, इक्‍वाडेर, केन्‍या, कोस्‍टारिका शामिल हैं। इसके अलावा बुल्‍गारिया, बेलारूस, जॉर्डन, लक्‍जमबर्ग जैसे देशों की जीडीपी भी टीसीएस के मार्केट वैल्‍यू से कम हैं। आगे पढ़ें - पाकिस्‍तान की सभी कंपनियों से आगे 

 

 

 

पाकिस्‍तान की सभी कंपनियों से आगे 
यही नहीं, टीसीएस ने 100 अरब डॉलर क्‍लब में शामिल होने के साथ ही एक और रिकॉर्ड बना दिया। टीसीएस ने पाकिस्‍तान स्‍टॉक एक्‍सचेंज में  लिस्‍टेड सभी कंपनियों की मार्केट वैल्‍यू को बहुत पीछे छोड़ दिया है। 19 अप्रैल को पाकिस्‍तान स्‍टॉक एक्‍सचेंज 80 अरब डॉलर यानी 9,32,5,89 रुपए का रहा। जबकि टीसीएस का मार्केट वैल्‍यू 100 अरब डॉलर है। इस लिहाज से टीसीएस करीब 25 फीसदी आगे है।आगे पढ़ें - टॉप 5 कंपनियां 

 

 

मार्केट कैप के लिहाज से देश की टॉप-5 कंपनियां 

कंपनी मार्केट कैप (रुपए)
टीसीएस 6.81 लाख करोड़
रिलायंस (RIL)  5.92 लाख करोड़
एचडीएफसी बैंक 5.04 लाख करोड़
आईटीसी 3.36 लाख करोड़
इंफोसिस 2.57 लाख करोड़ 
 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट