Home » Market » StocksManu Jain is Xiaomi only Indian honcho is set to make a fortune when his company lists

Xaiomi IPO: मनु जैन को ESOP से मिलेंगे करोड़ों, चाइनीज के बीच होंगे इकलौते भारतीय

चीन की स्‍मार्टफोन मेकर कंपनी श्‍योमी का मार्केट में लगातार दबदबा बढ़ता जा रहा है।

1 of

नई दिल्‍ली।  चीन की स्‍मार्टफोन मेकर कंपनी श्‍योमी अगले कुछ महीनों में इनिशल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) लाने की तैयारी में है। यह पिछले 4 सालों में दुनिया के सबसे बड़े IPO में से एक है। इस IPO पर भारत समेत दुनियाभर की निगाहें हैं। 


भारत के लिए अहम है IPO
खासतौर पर भारत के लिए यह IPO अहम साबित होने वाला है। दरअसल, इसमें श्‍योमी इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्‍टर मनु कुमार जैन को एंप्लॉयी स्टॉक ऑनरशिप प्लान (ESOP) के तहत शेयर मिला है।  श्‍योमी के ग्लोबल वाइस प्रेसिडेंट मनु जैन के पास 23 लाख शेयर्स हैं और वह ESOP के तहत शेयर हासिल करने वाले इकलौते विदेशी हैं।  IPO आने पर मनु जैन को करोड़ों रुपए मिलने वाले हैं।

ESOP के तहत शेयर मिला

दरअसल, भारत के मनु जैन को एंप्लॉयी स्टॉक ऑनरशिप प्लान (ESOP) के तहत शेयर मिला है। अहम बात ये है कि मनु जैन ESOP के तहत शेयर पाने वाले अकेले विदेशी हैं। ESOP के तहत शेयर कुल 10 कर्मचारियों और सीनियर मैनेजमेंट को मिला है। यह जानकारी कंपनी की ओर से ड्राफ्ट प्रॉस्पेक्टस में दी गई है। इस प्रॉस्पेक्टस की कॉपी Moneybhaskar के पास है। 

 

दुनिया के तीसरे सबसे बड़े ESOP होल्डर

 

ड्राफ्ट प्रॉस्पेक्टस के मुताबिक मनु जैन के पास 23 लाख शेयर्स हैं और वह दुनिया के तीसरे सबसे बड़े ESOP होल्डर हैं। इसमें यह भी बताया गया है कि जून 2014 में शाओमी के भारत में प्रवेश के बाद से उन्हें 5 भाग में शेयर अलॉट हुए। इनमें से दो शेयर तो इसी साल जनवरी और फरवरी में अलॉर्ट किए गए हैं। 

 

10 अरब डॉलर का आईपीओ 

श्योमी का वैल्युएशन करीब 80-100 अरब डॉलर लगाए जाने की संभावना है। रायटर्स के मुताबिक कंपनी का करीब 10 अरब डॉलर का आईपीओ आ सकता है। इस लिहाज से यह 2014 में अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लिमिटेड के बाद सबसे बड़ा चाइनीज टेक आईपीओ हो सकता है। अलीबाबा ने लिस्टिंग से 21.8 अरब डॉलर की रकम जुटाई थी। 

 

जून 2014 में श्‍योमी ज्वॉइन किया था


37 साल के मनु वर्तमान में श्‍योमी इंडिया के एमडी हैं। उनका जन्‍म मेरठ में हुआ। उन्‍होंने आईआईटी दिल्‍ली और आईआईएम कोलकाता से पढ़ाई की।मनु ने अपने करियर की शुरुआत एक ऐसी कंपनी से की थी, जो इंवेस्‍टमेंट बैंक के लिए सॉफ्टवेयर तैयार करती है।  मनु Jabong जैसी ऑनलाइन रिटेलर कंपनी के को-फाउंडर भी बने। मनु कुमार जैन ने जून 2014 में श्‍योमी ज्वॉइन किया था और तब से अब तक कंपनी ने भारत में काफी कमाई की है और पॉपुलर भी हुई है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट