बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocks3 महीने में 14% रिटर्न पाने का मौका, L&T करेगी 9000 करोड़ रु का शेयर बायबैक

3 महीने में 14% रिटर्न पाने का मौका, L&T करेगी 9000 करोड़ रु का शेयर बायबैक

कंपनी 1,500 रुपए प्रति शेयर भाव पर शेयर बायबैक करेगी।

you get up to 14 return in Larsen and Toubro

नई दिल्ली.  कंस्ट्रक्शन एंड इंजीनियरिंग कंपनी लार्सन एंड टूब्रो (LARSEN & TOUBRO)  शेयर बायबैक का ऑफर लाई है। जिसमें निवेशकों को तीन महीने में बेहतर रिटर्न मिल सकता है। L&T के बोर्ड ने 9 000 करोड़ रुपए के शेयर बायबैक की घोषणा की है। शेयर बाजार के इतिहास में L&T का यह पहला शेयर बायबैक है। कंपनी 4.29 फीसदी शेयर यानी 6 करोड़ शेयर्स बायबैक करेगी। कंपनी 1,500 रुपए प्रति शेयर भाव पर शेयर बायबैक करेगी। यह बायबैक अगले तीन महीने में पूरा होगा। मंगलवार के बंद भाव से तीन महीने में L&T के शेयर में 14 फीसदी तक रिटर्न मिल सकता है।

 

L&T को 1210 करोड़ रुपए का हुआ मुनाफा

फाइनेंशियल ईयर 2019 की पहली तिमाही में इंफ्रा सेक्टर की बड़ी कंपनी एलएंडटी का मुनाफा 36 फीसदी बढ़ा। इस दौरान कंपनी को 1210 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ। फाइनेंशियल ईयर 2018 की पहली तिमाही में एलएंडटी का मुनाफा 890 करोड़ रुपए रहा था। वहीं, पहली तिमाही में कंपनी की आय सालाना आधार पर 17.8 फीसदी बढ़कर 23990 करोड़ रुपए से बढ़कर 28280 करोड़ रुपए रही।

 

3 महीने में 14 फीसदी रिटर्न का मौका

- L&T के बोर्ड ने इक्विटी शेयर के बायबैक प्रस्ताव को मंजूरी दी। कंपनी 1500 रुपए प्रति शेयर के भाव से बायबैक करेगी।
- आप कंपनी के स्टॉक में निवेश कर शेयर बायबैक में हिस्सा ले सकते हैं।
- यह बायबैक करीब 9000 करोड़ रुपए का होगा।
- कंपनी कुल पेड अप इक्विटी शेयर कैपटिल का 4.26 हिस्सा खरीदेगी।
- शेयर बायबैक में शेयरहोल्डर्स टेंडर ऑफर रूट के जरिए भाग ले सकते हैं।
- मंगलवार के बंद भाव और बायबैक प्राइस में करीब 14 फीसदी का अंतर है। यानी यहां 14 फीसदी रिटर्न मिलने की संभावना है।

 

बायबैक की खबर से  5800 करोड़ बढ़ा वैल्युशन

बायबैक प्रस्ताव की मंजूरी के बाद एलएंडटी का शेयर बीएसई पर 3 फीसदी से ज्यादा उछल गए। कारोबार के दौरान शेयर 3.16 फीसदी बढ़कर 1363.90 रुपए के भाव पर पहुंच गया। शेयर में बढ़ोत्तरी से कंपनी का वैल्युएशन 5800 करोड़ रुपए से ज्यादा बढ़ा। मंगलवार के बंद भाव पर कंपनी का वैल्युएशन 1,85,363.72 करोड़ रुपए था। वहीं गुरुवार को 5853.28 करोड़ रुपए बढ़कर 1,91,217 करोड़ रुपए हो गया।

 

यह भी पढ़ें, अनिल अंबानी ने बड़े भाई को 2000 करोड़ में बेचे RCom के एसेट्स, कर्ज चुकाने की पहली कोशिश

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट