Home » Market » StocksWipro share price falls over 9 percent post Q1 results

Wipro का शेयर 9% टूटा, कुछ मिनटों में निवेशकों के डूबे 10 हजार करोड़

Stock Market: Wipro का चालू वित्‍तीय वर्ष की पहली तिमाही में शुद्ध मुनाफा 2 फीसदी बढ़कर 2,120.8 करोड़ रुपए रहा।

Wipro share price falls over 9 percent post Q1 results

नई दिल्ली.  देश की तीसरी बड़ी आईटी कंपनी Wipro के शेयर में बड़ी गिरावट दर्ज की गई। सोमवार के कारोबार में बीएसई पर Wipro का शेयर 9 फीसदी से ज्यादा टूट गया। शेयर में कमजोरी वित्त वर्ष 2019 के पहले क्वार्टर में उम्मीद से कमजोर नतीजे की वजह से आई है। शेयर गिरकर 263.90 रुपए के भाव पर आ गया। शेयर में गिरावट से कुछ मिनटों में निवेशकों को 10 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ।

 

Wipro का मुनाफा 2 फीसदी बढ़ा

देश की तीसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी Wipro का चालू वित्‍तीय वर्ष की पहली तिमाही में शुद्ध मुनाफा 2 फीसदी बढ़कर 2,120.8 करोड़ रुपए हो गया है। पिछले साल इसी तिमाही में कंपनी का शुद्ध मुनाफा 2,076.7 करोड़ रुपए था।
वहीं कपनी की रेवेन्‍यू 2.5 फीसदी बढ़कर 13,977.7 करोड़ रुपए हो गई है। पिछले साल पहली तिमाही में यह रेवेन्‍यू 13,626.1 करोड़ रुपए थी।

 

सितंबर तिमाही का अनुमान जताया
कंपनी ने कहा है उसकी आय मुख्‍यत आईटी सर्विसेस से होती है। कंपनी को आशा है कि सितंबर तिमाही में कपंनी का यह कारोबार 2,009 मिलियन डॉलर से लेकर 2,049 मिलियन डॉलर के बीच रह सकता है। कंपनी ने बताया है कि इस प्रकार आईटी सर्विसेस कारोबार में 0.3 से 2.3 फीसदी तक की बढ़त का अनुमान है। हालांकि कंपनी का कहना है कि जून 2018 की तिमाही में कपंनी ने अपने डाटा सेंटर का कारोबार मुख्‍य कारोबार से अलग किया है। 

 

यह भी पढ़ें- wipro का पहली तिमाही में शुद्ध मुनाफा 2 फीसदी बढ़कर 2,120.8 करोड़ रुपए रहा

 

आईटी सर्विसेस का रेवेन्‍यू बढ़ा
विप्रो ने बताया है कि उसका आईटी सर्विसेस से रेवेन्‍यू 5.2 फीसदी बढ़कर 13,700 करोड़ रुपए रहा है। डॉलर में इस आय में 2.8 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है और यह 2,026.5 मिलियन डॉलर रही है। विप्रो के सीईओ अबिदाली जेड नीमुचवाला के अनुसार उनको ल्गता है कि नार्थ अमेरिका और BFSI क्षेत्र में आईटी में खर्च बढ़ेगा। उनके अनुसार डिजिटल कारोबार में निवेश का फायदा अब कपंनी को मिल रहा है। 

 

ऐसी रही शेयर की चाल

सोमवार को बीएसई पर शेयर की शुरुआत 1.75 फीसदी की बढ़त के साथ 288 रुपए पर हुई थी। लेकिन कुछ ही मिनट बाद शेयर में बिकवाली बढ़ी जिससे शेयर इंट्रा-डे हाई से 9.13 फीसदी टूटकर 263.90 रुपए के भाव पर आ गया।

 

निवेशकों के डूबे 10 हजार करोड़

विप्रो के शेयर में गिरावट से कुछ मिनटों के कारोबार में निवेशकों को 10 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ। इंट्रा-डे हाई पर विप्रो का मार्केट वैल्युएशन 1,30,291 करोड़ रुपए थ। वहीं इंट्रा-डे लो प्राइस पर वैल्युएशन 1,19,388.24 करोड़ रुपए हो गया। इस तरह कुछ ही मिनटों में निवेशकों को 10,902.76 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट