• Home
  • Market
  • Stocks
  • Vodafone Idea to get Bank Gaurantee refund from DoT worth Rs 2113 crore, stock surges 10 pc

Vodafone Idea का शेयर 10% मजबूत, TDSAT के एक आदेश से मिला फायदा

वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) दिसंबर, 2018 में समाप्त तिमाही में तगड़े नुकसान के बीच एक अच्छी खबर भी मिली है। दरअसल टेलिकॉम डिसप्यूट्स सेटलमेंट एंड अपीली ट्रिब्यूनल (TDSAT) ने टेलिकॉम डिपार्टमेंट को 2,113.5 करोड़ रुपए की बैंक गारंटी लौटाने का आदेश दिया है। इसका असर गुरुवार को कंपनी के शेयर पर दिखा और फ्लैट खुलने के बाद दोपहर तक वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) का शेयर लगभग 10 फीसदी चढ़कर 33 रुपए के आसपास पहुंच गया।

moneybhaskar

Feb 07,2019 01:34:00 PM IST


नई दिल्ली. वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) दिसंबर, 2018 में समाप्त तिमाही में तगड़े नुकसान के बीच एक अच्छी खबर भी मिली है। दरअसल टेलिकॉम डिसप्यूट्स सेटलमेंट एंड अपीली ट्रिब्यूनल (TDSAT) ने टेलिकॉम डिपार्टमेंट को 2,113.5 करोड़ रुपए की बैंक गारंटी लौटाने का आदेश दिया है। इसका असर गुरुवार को कंपनी के शेयर पर दिखा और फ्लैट खुलने के बाद दोपहर तक वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) का शेयर लगभग 10 फीसदी चढ़कर 33 रुपए के आसपास पहुंच गया।

डॉट को लौटानी होगी 2135 करोड़ की बैंक गारंटी

एक दिन पहले वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) अपना रिजल्ट जारी करते हुए कहा था, ‘21 जनवरी, 2019 को कंपनी के पक्ष में एक फैसला आया। टीडीसैट (TDSAT) ने डॉट को आदेश दिया था कि दो महीने के भीतर कंपनी को 2,135 करोड़ रुपए की बैंक गारंटी लौटाने का आदेश जारी किया।’

वोडाफोन आइडिया को हुआ 5005 करोड़ का घाटा

वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने दिसंबर, 2018 में समाप्त तिमाही के दौरान 5004.60 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है, जबकि पिछली तिमाही यानी सितंबर, 2018 में समाप्त तिमाही के दौरान कंपनी को 4,973.8 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। कंपनी द्वारा जारी नतीजों के मुताबिक, मर्जर के बाद बनी नई कंपनी का दिसंबर तिमाही के दौरान टैक्स एक्सपेंस बढ़कर 1999.7 करोड़ रुपए हो गया, जबकि जुलाई-सितंबर तिमाही में यह महज 45.40 करोड़ रुपए रहा था।

कुल इनकम 11983 करोड़ रुपए

कंपनी द्वारा स्टॉक एक्सचेंजेस में दी गई फाइलिंग के मुताबिक, तिमाही के दौरान उसकी कुल इनकम 11,983 करोड़ रुपए रही। मर्जर के बाद बनी नई कंपनी Vodafone Idea के बोर्ड ने 25,000 करोड़ रुपए के राइट इश्यू को भी मंजूरी दे दी है।

आर्पू बढ़ा, लेकिन कर्ज के मोर्चे पर भी लगा झटका

वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के दौरान कंपनी का एवरेज रेवेन्यू पर यूजर (Arpu) बढ़कर 89 रुपए हो गया, जबकि दूसरी तिमाही के दौरान यह 88 रुपए था। इस तिमाही के दौरान कंपनी पर कुल कर्ज 1,23,660 करोड़ रुपए है, जिसमें सरकार को दी जाने वाली 91,480 करोड़ रुपए की डिफर्ड स्पेक्ट्रम पेमेंट ऑब्लिगेशन भी शामिल है। 8,900 करोड़ रुपए के कैश और कैश इक्विवैलेंट्स के चलते कंपनी पर नेट डेट 1,14,760 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गया, जबकि सितंबर, 2018 में समाप्त तिमाही के दौरान यह 1,12,510 रुपए के स्तर पर था।

कंपनी ने क्या कहा

वोडाफोन आइडिया ने एक बयान के माध्यम से कहा, 'तिमाही के दौरान उनके प्रमुख टैरिफ स्थिर बने रहे। हालांकि, कस्टमर लगातार सस्ते प्लान्स की ओर माइग्रेट करते रहे। इस संदर्भ में कंपनी ने रेवेन्यू, प्रॉफिटेबिलिटी और प्रतिस्पर्धा का सामना करने के लिए कई कदम उठाए हैं, जिसका सकारात्मक असर तिमाही के अंत से दिखना शुरू हुआ।'

X
COMMENT

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.