विज्ञापन
Home » Market » StocksVodafone Idea posts Rs 5,005-cr loss for Oct-Dec; total income at Rs 11,983 cr in the quarter: company filing

Vodafone Idea को Q3 में 5005 करोड़ रु का घाटा, टैक्स एक्सपेंस में बढ़ने से लगा झटका

वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) को दिसंबर, 2018 में समाप्त तिमाही के दौरान 5004.60 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है।

Vodafone Idea posts Rs 5,005-cr loss for Oct-Dec; total income at Rs 11,983 cr in the quarter: company filing

नई दिल्ली. वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने दिसंबर, 2018 में समाप्त तिमाही के दौरान 5004.60 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है, जबकि पिछली तिमाही यानी सितंबर, 2018 में समाप्त तिमाही के दौरान कंपनी को 4,973.8 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। कंपनी द्वारा जारी नतीजों के मुताबिक, मर्जर के बाद बनी नई कंपनी का दिसंबर तिमाही के दौरान टैक्स एक्सपेंस बढ़कर 1999.7 करोड़ रुपए हो गया, जबकि जुलाई-सितंबर तिमाही में यह महज 45.40 करोड़ रुपए रहा था।

 

कुल इनकम 11983 करोड़ रुपए

कंपनी द्वारा स्टॉक एक्सचेंजेस में दी गई फाइलिंग के मुताबिक, तिमाही के दौरान उसकी कुल इनकम 11,983 करोड़ रुपए रही। मर्जर के बाद बनी नई कंपनी Vodafone Idea के बोर्ड ने 25,000 करोड़ रुपए के राइट इश्यू को भी मंजूरी दे दी है।

 

आर्पू बढ़ा, लेकिन कर्ज के मोर्चे पर भी लगा झटका

वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के दौरान कंपनी का एवरेज रेवेन्यू पर यूजर (Arpu) बढ़कर 89 रुपए हो गया, जबकि दूसरी तिमाही के दौरान यह 88 रुपए था। इस तिमाही के दौरान कंपनी पर कुल कर्ज 1,23,660 करोड़ रुपए है, जिसमें सरकार को दी जाने वाली 91,480 करोड़ रुपए की डिफर्ड स्पेक्ट्रम पेमेंट ऑब्लिगेशन भी शामिल है। 8,900 करोड़ रुपए के कैश और कैश इक्विवैलेंट्स के चलते कंपनी पर नेट डेट 1,14,760 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गया, जबकि सितंबर, 2018 में समाप्त तिमाही के दौरान यह 1,12,510 रुपए के स्तर पर था।

 

कंपनी ने क्या कहा

वोडाफोन आइडिया ने एक बयान के माध्यम से कहा, 'तिमाही के दौरान उनके प्रमुख टैरिफ स्थिर बने रहे। हालांकि, कस्टमर लगातार सस्ते प्लान्स की ओर माइग्रेट करते रहे। इस संदर्भ में कंपनी ने रेवेन्यू, प्रॉफिटेबिलिटी और प्रतिस्पर्धा का सामना करने के लिए कई कदम उठाए हैं, जिसका सकारात्मक असर तिमाही के अंत से दिखना शुरू हुआ।'

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन