विज्ञापन
Home » Market » StocksVodafone Idea board okays price of Rs 12.50/share for Rs 25,000-cr rights issue

Vodafone Idea ने 25 हजार करोड़ रु के राइट इश्यू को दी मंजूरी, 12.50 रु/शेयर प्राइस तय

देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी Vodafone Idea ने भारी डिस्काउंट पर 25,000 करोड़ रुपए के राइट इश्यू को मंजूरी दे दी है।

Vodafone Idea board okays price of Rs 12.50/share for Rs 25,000-cr rights issue

सब्सक्राइबर्स के आधार पर देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने बुधवार को भारी डिस्काउंट पर 25,000 करोड़ रुपए (3.63 अरब डॉलर) के राइट इश्यू को मंजूरी दे दी है।


नई दिल्ली. सब्सक्राइबर्स के आधार पर देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने बुधवार को भारी डिस्काउंट पर 25,000 करोड़ रुपए (3.63 अरब डॉलर) के राइट इश्यू को मंजूरी दे दी है। इसके लिए कीमत 12.50 रुपए प्रति शेयर तय की गई है, जो मार्केट प्राइस से लगभग 61 फीसदी कम है। इस खबर से वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) लगभग 7 फीसदी टूट गया। हालांकि कुछ ही समय में इसमें रिकवरी दर्ज की गई।

 

बोर्ड ने तय किया इनटाइटलमेंट रेश्यो

एक रेग्युलेटरी फाइलिंग में कंपनी ने कहा कि कंपनी के इलिजिबल शेयरहोल्डर्स द्वारा 2 अप्रैल, 2019 की रिकॉर्ड डेट के लिए हर 38 इक्विटी शेयरों के लिए 87 इक्विटी शेयर का इनटाइटलमेंट रेश्यो तय किया गया है। फाइलिंग में कहा गया कि इश्यू 10 अप्रैल को खुलने जा रहा है, जबकि क्लोजिंग डेट 24 अप्रैल, 2019 तय की गई है।

 

12.50 रु प्रति शेयर इश्यू प्राइस तय

12.50 रुपए प्रति इक्विटी शेयर का इश्यू प्राइस (प्रति इक्विटी शेयर 2.50 रुपए के प्रीमियम सहित) एक दिन पहले के क्लोजिंग प्राइस 32 रुपए प्रति शेयर की तुलना में 61 फीसदी के भारी डिस्काउंट पर है। इस साल की शुरुआत में वोडाफोन आइडिया के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने राइट इश्यू के माध्यम से 25,000 करोड़ रुपए के फंड रेजिंग प्लान को मंजूरी दी थी। इसके लिए फरवरी में कैबिनेट से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) को भी मंजूरी मिल गई थी।

 

प्रमोटर करेंगे भारी निवेश

प्रमोटर शेयरहोल्डर्स वोडाफोन ग्रुप (Vodafone Group) और आदित्य बिड़ला ग्रुप (Aditya Birla Group) ने बोर्ड को बताया कि वे इस राइट इश्यू में क्रमशः 11,000 करोड़ रुपए और 7,250 करोड़ रुपए अंशदान को मंजूरी दी है। प्रमोटर शेयरहोल्डर्स ने यह भी कहा कि राइट इश्यू के कम भरे जाने की स्थिति में हर प्रमोटर शेयरहोल्डर को आंशिक या पूरे भरे हिस्से के लिए भाग लेने का अधिकार है।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss