Home » Market » StocksUnlisted companies have to issue new shares in demat form from Oct 2

Demat फॉर्म में ही जारी होंगे अनलिस्टेड कंपनियों के नए शेयर, सरकार का ऐलान

Demat या इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में ही होगा शेयरों का ट्रांसफर

Unlisted companies have to issue new shares in demat form from Oct 2

 

नई दिल्ली. अब अनलिस्टेड पब्लिक कंपनियों को Demat फॉर्म में ही नए शेयर जारी करने होंगे। सरकार ने कहा कि ऐसा करना 2 अक्टूबर से जरूरी हो जाएगा। इसके अलावा भविष्य में Demat या इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में ही शेयरों का ट्रांसफर भी किया जाएगा। कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री ने इस संबंध में मंगलवार को बयान जारी किया।

 

 

ट्रांसपरेंसी, इन्वेस्टर प्रोटेक्शन में होगा इजाफा

मिनिस्ट्री ने कहा कि ‘ट्रांसपरेंसी बढ़ाने, इन्वेस्टर प्रोटेक्शन और कॉरपोरेट सेक्टर में गवर्नैंस को बढ़ावा देने’ के उद्देश्य से यह कदम उठाया गया है। यह फैसला ऐसे समय में आया है, जब मिनिस्ट्री संदिग्ध तौर पर अवैध फंड के प्रवाह में सहायक बनने वाली शेल कंपनियों पर एक्शन भी ले रही है।

 

 

2 अक्टूबर हो जाएगा अनिवार्य

मिनिस्ट्री ने कहा कि 2 अक्टूबर से अनलिस्टेड पब्लिक कंपनियों द्वारा नए शेयर जारी करने और शेयरों के ट्रांसफर का काम सिर्फ डिमैटेरियलाइज्ड फॉर्म में ही किया जाएगा। कंपनीज एक्ट, 2013 के अंतर्गत सरकारी के साथ ही प्राइवेट कंपनियों भी आती हैं। सामान्य तौर पर 200 से ज्यादा मेंबर्स वाली कंपनियों को पब्लिक कंपनियों में वर्गीकृत किया जाता है और उन्होंने सख्ती से कॉरपोरेट गवर्नैंस नॉर्म्स का पालन करना होता है।

 

 

ये जोखिम हो जाएंगे दूर

मिनिस्ट्री के मुताबिक, शेयरों को डीमैट फॉर्म में रखने के फैसले से फिजिकल सर्टिफिकेट के साथ खोने, चोरी होने, क्षतिग्रस्त होने और फ्रॉड जैसे जोखिम दूर हो जाएंगे।  

इसके अलावा इस कदम से ट्रांसपरेंसी बढ़ेगी और कॉरपोरेट गवर्नैंस सिस्ट में सुधार होगा। मिनिस्ट्री ने कहा कि इससे बेनामी शेयरहोल्डिंग और बैकडेट में शेयर जारी करने जैसी गड़बड़ियों से बचने में मदद मिलेगी।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट