बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocks65 लाख लोन लेकर शुरू किया कारोबार, 3 साल में बन गया करोड़पति

65 लाख लोन लेकर शुरू किया कारोबार, 3 साल में बन गया करोड़पति

आइए जानते हैं हरेंद्र की सफलता के बारे में...

1 of

नई दिल्ली.  खेती-बाड़ी से जुड़कर कमाई करने के अनेक विकल्प मौजूद हैं। बस जरूरत है अवसर को पहचानने औऱ उस पर अमल करने की। उत्तराखंड के रहने वाले इस शख्स ने किसानों की परेशानियों को समझा और उसके हल के लिए मिले आइडिया से खड़ा कर दिया करोड़ों का कारोबार। उसके बिजनेस की सफलता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि महज तीन साल में ही वह करोड़पति बन गया। आइए जानते हैं हरेंद्र की सफलता के बारे में...

 

ऐसे मिला आइडिया

खूबसूरत वादियों के शहर उत्तराखंड के अधमसिंह जिले के रहने वाले हरेंद्र सिंह ने मनीभास्कर से बातचीत में बताया कि कैसे उनको खेती से जुड़े बिजनेस का आइडिया मिला। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में अक्सर भूस्खलन की घटानएं होती रहती है। भूस्खलन की वजह से रास्ते टूट जाते हैं और यातायात बाधित हो जाता है। किसानों को इससे काफी परेशानी होती होगी जब वो खेती के लिए सीड्स खरीदने कई दिनों तक बाजार नहीं पहुंच पाते होंगे। इस बात को ध्यान में रख डिमांड को देखते हुए हरेंद्र ने किसानों तक पहुंच बनाई और तराई फार्म सीड़्स की नींव रखी।

 

आगे भी पढ़ें,

 

यह भी पढ़ें- इस कंपनी का एक शेयर भी खरीदने पर छूट जाएं पसीने, कभी गुब्‍बारे बेचता था इसका मालिक

65 लाख लोन लेकर की शुरुआत

 

हरेंद्र ने कहा कि एग्रीकल्चर में बीएससी करने के बाद एमबीए किया। इसके बाद मुरादाबाद से एग्री क्लिनिक एंड एग्री बिजनेस सेंटर से कोर्स किया। कोर्स पूरा होने के बाद उत्तराखंड के किसानों को सीड्स की समस्याओं को देखते हुए एक प्रोजेक्ट बनाया। लोन के लिए नैनीताल बैंक प्राइवेट लिमिटेड को एक करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट सौंपा। फिर उन्हें बैंक से 65 लाख रुपए लोन पास हुआ। वहीं हिल एरिया में आने की वजह से उनको नाबार्ड की तरफ से 44 फीसदी की सब्सिडी भी मिली।

 

क्या है बिजनेस मॉड्यूल

उनका कहना है कि वो सीड्स के ब्रिडर खरीदते हैं। फिर उसे किसानों को देकर फसल तैयार करवाते हैं। तराई की निगरानी में सभी कार्य संपन्न होते हैं। हारवेस्टिंग के बाद उसे क्लिन और ग्रेडेड किया जाता है। फिर सर्टिफिकेशन स्टैंडर्ड्स के मुताबिक, सीड्स को पैकेजिंग कर बेचा जाता है।

 

आगे भी पढ़े,

 

यह भी पढ़ें,

 

20 हजार लगाकर हर महीने कमाता है 40 हजार, एक आइडिया ने बदली लाइफ

कंपनी का टर्नओवर हुआ 8 करोड़ रु

 

हरेंद्र के मुताबिक, तराई फार्म सीड्स एंड कंपनी का सालना टर्नओवर पिछले साल 8 करोड़ रुपए था। उन्होंने इसकी शुरुआत 2014 में की थी। गेहूं, सरसों, चावल और मटर सीड्स का उनका बिजनेस है। वो किसानों से 18,00 रुपए प्रति क्विंटल के भाव से सीड्स खरीदते हैं और बाजार में 2200 से 2400 रुपए प्रति क्विंटल बेचते हैं। उनका कहना है कि सालान टर्नओवर पर 25 फीसदी का प्रॉफिट हो जाता है।

 

यह भी पढ़ें,

 

2 महीने के कोर्स ने बदली जिंदगी, हर महीने कर रहे 1 लाख रु की कमाई

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट