Advertisement
Home » मार्केट » स्टॉक्सबच्‍चों के नाम भी खरीद सकते हैं म्‍युचुअल फंड - anyone can also bought mutual funds in the name of Children names

ये है बच्‍चों के नाम म्‍युचुअल फंड खरीदने का तरीका, बन जाएंगे करोड़पति

बच्‍चों के नाम म्‍युचुअल फंड में निवेश शुरू करना बहुत ही आसान है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. बच्‍चों के नाम म्‍युचुअल फंड में निवेश शुरू करना बहुत ही आसान है। बच्‍चा चाहे जितने भी साल का हो उसके नाम पर निवेश शुरू किया जा सकता है। बच्‍चों को अक्‍सर गिफ्ट में पैसे मिलते हैं, इसके अलावा मां बाप भी चाहते हैं कि उसके ही नाम से बचत शुरू हो। ऐसी बचत के साथ मां बाप का विशेष लगाव होता है, जिसके चलते यह निवेश 18 वर्ष तक भी चलता रहे सकता है। इसके अलावा मां बाप बच्‍चे के नाम पर कितना भी निवेश कर सकते हैं। अगर मां बाप अपना निवेश 18 वर्ष तक चलाते रहें, तो काफी उम्‍मीद है कि बच्‍चा आराम से करोड़पति भी हो सकता है।

 

 

कैसे म्‍युचुअल फंड में शुरू हो सकता है निवेश

बच्‍चे के लिए सिंगल नाम से ही म्‍युचुअल फंड में निवेश शुरू किया जा सकता है। ऐसे निवेश में गार्जियन का नाम या कोर्ट की तरफ से नियुक्‍त गार्जियन अभिभावक के रूप में रहता है।

Advertisement

 

 

क्‍या क्‍या दस्‍तावेज चाहिए

इन दस्‍तावेजों में बच्‍चे की उम्र के साथ पिता या कोर्ट से नियुक्‍त गार्जियन के दस्‍तावेज लगाने होते हैं। उम्र के लिए बच्‍चे का बर्थ प्रमाणपत्र होना चाहिए। अगर बच्‍चे का पासपोर्ट हो तो वह भी मान्‍य है। यह दस्‍तावेज म्‍युचुअल फंड में निवेश शुरू करते वक्‍त चाहिए हाेते हैं। बाद में अगर इसी फोलियो में और निवेश करना हो तो किसी भी तरह के दस्‍तावेज की जरूरत नहीं पड़ती है। लेकिन अगर किसी अन्‍य म्‍युचुअल फंड की योजना में निवेश शुरू करना हो तो फिर से यही प्रक्रिया दोहरानी होती है। म्‍युचुअल फंड में इस निवेश के लिए बच्‍चे का बैंक खाता भी जोड़ा जा सकता है और गार्जियन का बैंक खाता भी जोड़ा जा सकता है।

  

 

Advertisement

यह भी पढ़ें : ये है घर बैठे म्‍यूचुअल फंड में निवेश की A B C D, आसान है तरीका

 

 

बच्‍चे के नाम हर माह भी पैसा जमा हो सकता है

म्‍युचुअल फंड में सिस्‍टेमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान (सिप) काफी चर्चित निवेश का जरिया है। अगर कोई चाहता है कि उसके बच्‍चे के नाम पर सिप शुरू की जाए तो यह भी संभव है। लेकिन यह सिप केवल बच्‍चे के 18 साल के होने तक ही चल सकती है।

 

 

18 साल बाद बच्‍चे के नाम हो जाएगा निवेश

बच्‍चे के 18 साल का होने पर एक प्रक्रिया के बाद यह निवेश आम लोगों की तरह बच्‍चे के नाम पर हो जाएगा। म्‍युचुअल फंड कंपनियां बच्‍चे के 18 साल का होने पर इस प्रक्रिया को पूरा करने के दस्‍तावेज भेजती हैं। लेकिन अगर आप ने यह प्रक्रिया किसी भी कारण से पूरा करने में देर की तो बच्‍चे के नाम के  म्‍युचुअल फंड निवेश में न तो पैसा जमा किया जा सकेगा न ही उसे निकाला जा सकेगा। 18 साल का होने पर बच्‍चे के नाम पर म्‍युचुअल फंड KYC की प्रक्रिया करते हैं। इसमें बच्‍चे के नाम का बैंक अकाउंट और PAN चाहिए होता है। जिसके बाद यह प्रक्रिया पूरी हो जाती है।

Advertisement

 

 

18 साल में कैसे बच्‍चा हो सकता है करोड़पति

बच्‍चे के नाम पर जन्‍म लेते ही म्‍युचुअल फंड में 5000 रुपए से निवेश शुरू करना होगा। इस निवेश में हर साल 15 फीसदी की बढ़ोत्‍तरी करते जाएं। अगर इस निवेश पर औसतन हर साल 12 फीसदी का रिटर्न मिले तो 18 साल में बच्‍चा करोड़पति बन जाएगा।

 

 

यह भी पढ़ें : ये है SIP की A B C D, कराती है बहुत फायदा

 

 

आगे पढ़ें : ये हैं अच्‍छा रिटर्न देने वाले म्‍युचुअल फंड

  

इक्विटी म्‍युचुअल फंड ने दिया है अच्‍छा रिटर्न

शेयरखान के वाइस प्रेसिडेंट मृदुल कुमार वर्मा के अनुसार अच्‍छा रिटर्न पाने के लिए इक्विटी म्‍युचुअल फंड अच्‍छा विकल्‍प हैं। यहां पर पिछले एक साल में ढेरों योजनाओं ने 50 फीसदी से ज्‍यादा का रिटर्न दिया है। हालांकि हर साल इतने अच्‍छे रिटर्न की उम्‍मीद रखना ठीक नहीं है, लेकिन लंबे समय के निवेश पर 12 फीसदी तक रिटर्न आराम से पाया जा सकता है।



 

अच्‍छा रिटर्न देने वाली 5 इक्विटी फंड स्‍कीम्‍स

 

स्‍कीम

1 साल का रिटर्न

एसबीआई स्‍माल एंड मिडकैप फंड डायरेक्‍ट (G)

75.3 %

टाटा इंडिया कंज्‍यूमर फंड डायरेक्‍ट  (G)

68.8 %

एलएंडटी इमर्जिंग बिजनेस फंड डायरेक्‍ट (G)

60.9 %

एचडीएफसी स्‍माल कैप फंड (G)

59.8 %

बिड़ला इमर्जिंग लीडर्स सिरीज-5  डायरेक्‍ट (G)

57.6 %

 

नोट : डाटा 22 जनवरी 2018 का।

 

 

यह भी पढ़ें : बड़े काम का है टैक्स सेविंग म्युचुअल फंड, जानें निवेश की A B C D

 

 

(नोट-निवेश सलाह ब्रोकरेज हाउस और मार्केट एक्सपर्ट्स के द्वारा दी गई हैं। कृपया इनकी अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम होते हैं।)

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement