Home » Market » Stocksयह कंपनी अब काम के बदले देगी 700 रु घंटे, इम्प्लॉइज को ऐसे हुआ फायदा ,this company will give Rs 700 per hour for work

यह कंपनी अब काम के बदले देगी 700 रु घंटे, इम्प्लॉइज को मिलेंगे और ये 3 फायदे

दनिया की सबसे बड़ी रिटेल चेन कंपनी वालमार्ट ने इस फायदे को अपने कर्मचारियों पर पास ऑन करने का फैसला किया है।

1 of

नई दिल्ली. अमेरिका में ट्रम्प शासन ने हाल ही में टैक्स नियम में कुछ बदलाव किए हैं जिसका फायदा यहां की कंपनियों को होगी। इसे देखते हुए दनिया की सबसे बड़ी रिटेल चेन कंपनी वालमार्ट ने इससे होने वाले फायदे को अपने कर्मचारियों पर पासऑन करने का फैसला किया है। इसके तहत वालमार्ट अपने यहां घंटे से काम करने वाले कर्मचारी को करीब 700 रुपए (11 डॉलर) प्रति घंटे के हिसाब से पेमेंट करेगी। इससे पहले कंपनी हर घंटे के बदले 650 रुपए (10 डॉलर) देती थी।

 

और क्या मिलेंगे बेनिफिट्स

 

पहला बेनिफिट्स- 


टैक्स नियमों में बदलाव से होने वाले फायदे को कंपनी अपने कर्मचारियों को देगी। इसके तहत कंपनी फुलटाइम अमेरिकी कर्मचारियों को 10 हफ्ते की पेड मटर्निटी लीव औऱ 6 हफ्ते पेड परेंटल लीव देगी। इसके अलावा वेतनभोगी कर्मचारियों को भी 6 हफ्ते की पेड परेंटल लीव मिलेगी। इसके पहले सिर्फ फुलटाइम आवर्ली वर्कर्स को 8 हफ्ते की पेड मटर्निटी लीव और 2 हफ्ते की पेड परेंटल लीव मिलती थी।

 

आगे पढ़ें- दूसरा बेनिफिट्स

 

यह भी पढ़ें- ऐसी पड़ी मार कि 155 करोड़ से 65 रुपए हो गई इस CEO की सैलरी

65 हजार का कैश बोनस

 

- वार्लमार्ट के मुताबिक, लंब समय तक कंपनी के लिए काम करने वाले कर्मचारियों को कैश बोनस दिया जाएगा। 20 साल से ज्यादा कंपनी में काम कर रहे कर्मचारी को 65000 रुपए (1000 डॉलर) कैश बोनस के रूप में मिलेगा। वहीं 2 साल से कम अनुभव वाले कर्मचारियों को 13,000 रुपए (200 डॉलर) कैश बोनस मिलेंगे।

- 15 से 19 साल से वालमार्ट में काम करने वाले कर्मचारी को 48,750 रुपए (750 डॉलर), जबकि 10 से 14 साल के अनुभव वाले कर्मचारियों को 26,000 रुपए (400 डॉलर) कैश बोनस मिलेंगे।

- इसके अलावा कंपनी ने 5 से 9 साल वाले कर्मचारियों को 19,500 रुपए (300 डॉलर), जबकि 2 से 4 साल तक काम करने वाले कर्मचारी को 16,250 रुपए (250 डॉलर) मिलेगा।

 

आगे पढ़ें- तीसरा बेनिफिट्स

बच्चा गोद लेने पर मिलेगा फाइनेंशियल सपोर्ट

 

इसके साथ ही कंपनी एक नया बेनिफिट्स बना रही है जिसके तहत किसी कर्मचारी द्वारा बच्चा गोद लेने पर उसे 3.25 लाख रुपए (5000 डॉलर) का फाइनेंशियल सपोर्ट मिलेगा। ये फाइनेंशियल सपोर्ट अडाप्शन एजेंसी फीस, ट्रांसलेशन फीसी और लीगल कॉस्ट के लिए होगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट