Home » Market » Stocksमोदी के फैसले से इस शख्स ने कमाए थे अरबों, एक आरोप से डूब गई आधी दौलत

मोदी के फैसले से इस शख्स ने कमाए थे अरबों, एक आरोप से डूब गई आधी दौलत

लेकिन एक आरोप से इस शख्स की आधी दौलत साफ हो गई है।

1 of

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर 2017 को नोटबंदी की घोषणा की थी। मोदी सरकार के इस फैसले से इस शख्स की किस्मत खुल गई। नोटबंदी के बाद कैशलेस ट्रांजैक्‍शन को बढ़ाने और डिजिटल इंडिया को प्रोमोट करने के लिए सरकार की तरफ से उठाए गए कदमों का फायदा इस शख्स ने उठाया और एक साल में उसकी दौलत दोगुनी हो गई थी। लेकिन एक आरोप से इस शख्स की आधी दौलत साफ हो गई है।

 

 

क्या लगा है आरोप

 

हम बात कर रहे हैं वक्रांगी लिमिटेड के प्रमोटर दिनेश नंदवाना की। वक्रांगी लिमिटेड पर मार्केट रेग्युलेटर सेबी की नजर है। आरोप है कि बीएसई और एनएसई पर कंपनी ने अपने स्टॉक्स की कीमतों और वॉल्यूम के साथ छेड़छाड़ की है। अब कंपनी पर जांच और कार्रवाई की तलवार लटकी है।

 

आगे पढ़ें- 

6 दिन में 1500 करोड़ दौलत घटी

 

इस खबर के बाद पिछले 6 ट्रेडिंग सेशन में कंपनी के स्टॉक्स में गिरावट जारी है। दिनेश नंदवाना की कंपनी में 5.64% हिस्सेदारी है। 31 दिसंबर 2017 की शेयर होल्डिंग पैटर्न के मुताबिक, नंदवाना की कंपनी में 5,97,34,200 स्टॉक्स हैं। 25 जनवरी को स्टॉक 505 रुपए के भाव पर था। इस हिसाब से उनकी दौलत 3016.58 करोड़ रुपए थी। वहीं 2 फरवरी को स्टॉक्स 48 फीसदी टूटकर 262.65 रुपए पर पहुंच गया। इस हिसाब से उनकी दौलत 1447.65 करोड़ रुपए घट गई।

 

आगे पढ़ें- 

निवेशकों के डूबे 25 हजार करोड़

 

वक्रांगी के निवेशकों ने 6 ट्रेडिंग सेशन के भीतर 25,659 करोड़ रुपए गंवा दिए। शुक्रवार को भी कंपनी के स्टॉक में गिरावट का सिलसिला जारी रहा। 6 दिन में स्टॉक 48 फीसदी तक टूट चुके हैं। 25 जनवरी को 505.35 रुपए पर कारोबार करने वाला यह स्टॉक 2 फरवरी को 48 फीसदी का गोता लगाकर 262.65 रुपए तक पहुंच गया। इससे कंपनी का मार्केट कैप 53,468 रुपए से घटकर 27,809 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इस निवेशकों को 6 दिन में 25 हजार करोड़ रुपए डूब गए।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट