बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksक्रूड की बढ़ती कीमतों से इन शेयरों में बने निवेश के मौके, मिल सकता है 50% तक रिटर्न

क्रूड की बढ़ती कीमतों से इन शेयरों में बने निवेश के मौके, मिल सकता है 50% तक रिटर्न

सोमवार को ब्रेंट क्रूड का भाव 75.80 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

1 of

नई दिल्ली.  अमेरिका में ऑयल रिग्स में कमी, क्रूड इन्वेंट्री में गिरावट और सऊदी अरब द्वारा प्रोडक्शन में कटौती से क्रूड की कीमतों में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। इंटरनेशनल मार्केट में ब्रेंट क्रूड 75.8 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया है। वहीं नायमैक्स पर डब्ल्यूटीआई क्रूड 68.7 डॉलर प्रति बैरल के पास कारोबार कर रहा है।  एक्सपर्ट्स का कहना है कि कई फैक्टर क्रूड को सपोर्ट कर रहे हैं, जिससे कीमतें 80 डॉलर प्रति बैरल तक जा सकती हैं। ऐसे में ऑयल एक्सप्लोर करने वाली और गैस कंपनियों को फायदा मिल सकता है। हम आपको ऐसे ही शेयर बता रह हैं, जिनमें एक्सपर्ट्स ने निवेश की सलाह दी है।

 

एक हफ्ते में 5 फीसदी महंगा हुआ क्रूड

पिछले एक हफ्ते में डब्ल्यूटीआई और ब्रेंट क्रूड की कीमतें 5 फीसदी से ज्यादा बढ़ी है। डब्ल्यूटीआई  का भाव बढ़कर 68.7 डॉलर प्रति बैरल और ब्रेंट क्रूड का भाव बढ़कर 75.8 डॉलर प्रति बैरल हो गया है।

 

इन फैक्टर से कीमतों को सपोर्ट
- एंजेल ब्रोकिंग के कमेाडिटी एंड रिसर्च वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने कहा कि सऊदी अरब में प्रोडक्शन कट करने, अमेरिका से डिमांड बढ़ने और ट्रेड वार के असर से क्रूड का भाव बढ़ रहा है।
- वहीं केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया का कहना है कि अमेरिका में रिग्स काउंट्स में कमी से क्रूड की कीमतों में उछाल आया है। इससे मार्केट में इन्वेंट्री घटी है। इसके अलावा अमेरिका द्वारा ईरान पर लगाए गए प्रतिबंध का डेडलाइन करीब आने से क्रूड को सपोर्ट मिला है। वहीं पिछले हफ्ते क्रूड की इन्वेंट्री 5.83 मिलियन घटी थी। इससे कीमतें बढ़ीं।

 

80 डॉलर प्रति बैरल तक जा सकता है भाव

कमोडिटी एक्सपर्ट अनुज गुप्ता के मुताबिक, क्रूड की कीमतें अगले कुछ दिनों में 80 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकती है। 


आगे पढ़ें- इन स्टॉक्स में बने निवेश के मौके

 

यह भी पढ़ें, 50 रुपए से सस्ते 5 स्टॉक्स में होगी कमाई, मिल सकता है 57% तक रिटर्न

रिलायंस इंडस्ट्रीज
रिटर्न:
50%

 

मार्केट एक्सपर्ट सचिन सर्वदे का कहाना है कि क्रूड की कीमतें बढ़ने का फायदा ऑयल एंड गैस कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) को मिलेगा। फाइनेंशियल ईयर 2019 की पहली तिमाही में आरआईएल का मुनाफा 4.5 फीसदी बढ़कर 9485 करोड़ रुपए करोड़ रुपए रहा। वहीं पहली तिमाही में आरआईएल की आय 90537 करोड़ से बढ़कर 1.29 लाख करोड़ रुपए रही। आरआईएल का जीआरएम तिमाही आधार पर घटकर 10.50 डॉलर प्रति बैरल रहा है। सचिन ने RIL में 1939 रुपए का टारगेट दिया है। करंट प्राइस से स्टॉक में 50 फीसदी रिटर्न मिल सकता है।


IG पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड 
रिटर्न: 36
%

 

IG पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड थैलिक एनहाइड्राइड में मार्केट लीडर कंपनी है। कंपनी के प्लांट को इंटरनेशनल स्टैंडर्ड को ध्‍यान में रखकर बनाया गया है। क्रूड की कीमतें बढ़ने से गैस की डिमांड बढ़ जाती है। ऐसे में कंपनी को फायदा मिलेगा। ब्रोकरेज हाउस केआर चौकसी ने शेयर के लिए 662 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। करंट प्राइस 500 रुपए के लिहाज से शेयर में 32 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

आगे भी पढ़ें,

गेल
रिटर्न-
25%

 

एक्सपर्ट सचिन सर्वदे ऑयल एंड गैस कंपनी गेल में निवेश की सलाह दी है। वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में गेल का मुनाफा 23.3 फीसदी घटकर 1,259 करोड़ रुपए रहा। वहीं पहली तिमाही में गेल की आय 12.1 फीसदी बढ़कर 17,299 करोड़ रुपए रही। कंपनी का पेटकेम, ट्रेडिंग एंड ट्रांसमिशन बिजनेस बढ़ा है। कंपनी के गैस ट्रांसमिशन और गैस ट्रेडिंग वैल्यूम में भी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। सचिन ने स्टॉक में 480 रुपए का टारगेट दिया है। करंट प्राइस से इसमें 25 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है।

 

(नोट- निवेश की सलाह एक्सपर्ट्स व ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट