Home » Market » Stocksthese stock will surge 40 pc as fmcg sector will grow 12 pc in FY19

रूरल डिमांड से FMCG सेक्टर को मिल रहा बूस्ट, इन स्टॉक्स में मिलेगा 40% रिटर्न

ऐसे में एफएमसीजी स्टॉक्स में आगे अच्छा रिटर्न मिल सकता है।

1 of

नई दिल्ली.  फाइनेंशियल ईयर 2018-19 में फास्‍ट मूविंग कंज्‍यूमर गुड्स (FMCG) सेक्‍टर की ग्रोथ 11 से 12 फीसदी हो सकती है। रेटिंग एजेंसी क्रिसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, रूरल एरिया में डिमांड बढ़ने से एफएमसीजी सेक्‍टर की टॉप लाइन ग्रोथ 3-4 फीसदी बढ़ सकती है। देश में इस सेक्‍टर का साइज करीब 3.4 लाख करोड़ रुपए का है। मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि मिनिमम सपोर्ट प्राइस (एमएसपी) में बढ़ोतरी और अच्‍छे मानसून से रूरल सेक्टर में पर्चेजिंग पावर बढ़ेगी, जिससे कंपनियों का मुनाफा बढ़ेगा। ऐसे में एफएमसीजी स्टॉक्स में आगे अच्छा रिटर्न मिल सकता है।

 

FY18 में रही थी 8% ग्रोथ 

रिपोर्ट के मुताबिक, एफएमसीजी की रेवेन्‍यू में ग्रोथ फाइनेंशियल ईयर 2018 में करीब 8 फीसदी रही थी, जबकि FY19 में यह 11 से 12 फीसदी रह सकती है। इसका सबसे बड़ा कारण रूरल सेक्टर में मांग का बढ़ना है। इसके अलावा कंपनियां नए नए उत्‍पाद भी लांच कर रही हैं। इससे कंपनियों का आपरेटिंग प्रॉफिट बढ़ेगा, जिससे उनकी क्रेडिट प्रोफाइल सुधरेगी। 


इन फैक्टर्स का एफएमसीजी सेक्टर को मिलेगा सपोर्ट

 

एमएसपी बढ़ाने का फायदा

ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के डायरेक्टर संदीप जैन का कहना है कि सरकार की तरफ से एग्रीकल्चर प्रोडक्शन के लिए मिनिमम सपोर्ट प्राइज (एमएसपी) को बढ़ाया है। इससे ग्रामीणों की इनकम बढ़ेगी। इनकम बढ़ने से कंजम्पशन बढ़ेगा, जिसका फायदा एफएमसीजी कंपनियों को मिलेगा।

 

अच्छे मानसून से मिलेगा सहारा

मानसून विभाग ने इस साल देश में सामान्य मानसून का अनुमान जताया है। मार्केट एक्सपर्ट सचिन सर्वदे के मुताबिक, अच्छे मानसून की वजह से उपर बढ़ेगे। अच्छी उपज से ग्रामीणों की आय बढ़ेगी। वहीं नॉन एग्रीकल्‍चर रोजगार के अवसर भी बढ़े हैं। इससे ग्रामीणों की डिस्‍पोजेबल इनकम बढ़ी है, जिससे डिमांड बढ़ेगी।

 

नए-नए प्रोडक्ट लॉन्च से लुभाने की कोशिश

कंपनियों की तरफ से लगातार नए नए उत्‍पाद जारी जारी किए जा रहे हैं। इनमें आयुर्वेद और हर्बल के उत्‍पाद भी शामिल हैं। इससे भी डिमांड बढ़ने की उम्‍मीद है। ग्रामीण बाजार कंपनियों की बिक्री में करीब 40 से 45 फीसदी हिस्‍सेदारी रखता है। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्र में डिमांड बढ़ने से कंपनियों की 2019 में टोटल इनकम 15 से 16 फीसदी बढ़ सकती है। 2018 में इसमें 10 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई थी। क्रिसिल के अनुसार 2016 और 2017 में यह ग्रोथ 5 फीसदी के आसपास रही थी। 

 

किन स्टॉक्स में करें निवेश

 

इमामी
टारगेट: 1341

 
ब्रोकरेज हाउस चोलामंडलम सिक्युरिटीज ने इमामी में 1341 के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है। ब्रोकिंग फर्म के मुताबिक, कंपनी नए लॉन्च पर जोर दे रही है। ग्रामीण इलाकों में कंपनी की मजबूत पकड़ है। इससे आने वाले समय में ग्रामीण इलाकों में आय में किसी भी बढ़त का फायदा इसे मिलने की उम्मीद है। मानसून बेहतर रहने से भी कंपनी को फायदा मिलेगा। हालांकि चौथे क्वार्टर में कंपनी का मुनाफा 28 फीसदी गिरकर 60 करोड़ रुपए रहा। लेकिन रेवेन्यू ग्रोथ 12.3 फीसदी रही। करंट प्राइस से स्टॉक में 32 फीसदी तक रिटर्न मिल सकता है।

 

मैरिको
टारगेट- 380

 

एफएमसीजी सेक्टर की कंपनी मैरिको लिमिटेड में एक्सपर्ट संदीप जैन ने निवेश की सलाह दी है। फाइनेंशियल ईय़र 2018 की चौथी तिमाही में कंपनी का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट 7.19 फीसदी बढ़कर 183.2 करोड़ रुपए रहा। पिछले साल समान क्वार्टर में कंपनी का नेट प्रॉफिट 170.91 करोड़ रुपए रहा था। करंट फिस्कल में कंपनी को रूरल मार्केट में रिवाइल की उम्मीद है। जैन का कहना है कि सरकार द्वारा रूरल डेवलपमेंट पर जोर दिए जाने और फसल के मिनिमम सपोर्ट प्राइस में बढ़ोतरी से मिड टर्म में रूरल डिमांड में बढ़ोतरी की उम्मीद है। एक्सपर्ट ने स्टॉक में 380 रुपए का लक्ष्य दिया है। करंट प्राइस से 21 फीसदी तक का रिटर्न मिल सकता है।


आगे पढ़ें- किन स्टॉक्स में करें निवेश

ब्रिटानिया
टारगेट- 6600

 

मार्केट एक्सपर्ट सचिन सर्वदे ने एफएमसीजी सेक्टर की कंपनी ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज में निवेश की सलाह दी है। उनके मुताबिक, ब्रिटानिया का लगातार हेल्दी परफॉर्मेंस रहा है। कंपनी डिस्ट्रीब्यूशन में विस्तार, आरएंडडी में लगातार इन्वेस्टमेंट बढ़ा रही है। बिस्किट के अलावा कंपनी फाइनेंशियल ईयर 2019 में नए प्रोडक्ट्स लॉन्च करने वाली है। इसका फायदा भी कंपनी को मिलेगा। सचिन ने स्टॉक में 6600 रुपए के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है। करंट प्राइस से इसमें 22 फीसदी रिटर्न मिल सकता है।

 


आईटीसी
टारगेट- 390

 

एफएमसीजी सेक्टर की बड़ी कंपनी आईटीसी में एक्सपर्ट संदीप जैन ने 390 रुपए के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है। सिगरेट के अलावा कंपनी ने बिस्किट, आटा, नूडल्स औऱ पर्सनल केयर एंड लाइफस्टाइल सेक्शन में अपना बिजनेस बढ़ाया है। चौथी तिमाही का रिजल्ट 16 मई को जारी होंगे। करंट प्राइस से स्टॉक में 38 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है।

 

(नोट- यहां दी गई सभी सलाह टॉप ब्रोकरेज हाउस के द्वारा जारी रिपोर्ट और मार्केट एक्सपर्ट्स की सलाह के आधार पर हैं। हर स्टॉक से जुड़े अपने जोखिम होते है, इसलिए सलाह है कि अपने स्तर पर जांच या अपने एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही निवेश का फैसला लें।)

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट