बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksये सरकारी बैंक बंद करेगा कई ATM, ब्रांचों पर भी लटकेंगे ताले

ये सरकारी बैंक बंद करेगा कई ATM, ब्रांचों पर भी लटकेंगे ताले

बैंक ऑफ बड़ौदा ने तय किया है वह अपनी कॉस्‍ट कम करने के लिए ATM की संख्‍या घटाएगा।

1 of

 

नई दिल्‍ली. नान परफार्मिंग एसेट (एनपीए) की समस्‍या से जूझ रहे बैंक ऑफ बड़ौदा ने तय किया है वह अपनी कॉस्‍ट कम करने के लिए ATM की संख्‍या घटाएगा। इसके अलावा वह ब्रांच की संख्‍या भी कम करेगा। इससे बैंक को तो अपना मुनाफा बढ़ाने में मदद मिलेगी, लेकिन लाेगों की परेशानी बढ़ेगी। बैंक के ED ए के गर्ग के अनुसार एक एक पैसा बचाया जाएगा जिससे कमाई बढ़ाई बढ़ सके।

 

कमाई बढ़ाने पर जोर

बैंक के ईडी ने बताया है कि वह प्रॉफिट बढ़ाने के लिए अपने आपरेशन का पुनर्गठन करेंगे। इसके चलते बैंक एटीएम की संख्‍या घटाने जा रहा है। हालांकि अभी संख्‍या को लेकर अंतिम रूप से कुछ तय नहीं है, लेकिन जहां एटीएम चलाना गैर जरूरी है, वहां पर हय सुविधा बंद की जाएगी। इसके अलावा बैंक अपनी ब्रांच की संख्‍या भी घटाएगा। बैंक ब्रांच के बिजनेस के आधार पर यह फैसला लेगा।  

 

नीरव मोदी और कोठारी के चलते फंसा हजारों करोड़ रुपए

गर्ग के अनुसार उनके बैंक का नीरव मोदी और रोटोमैक पेन कंपनी के विक्रम कोठारी की कंपनियों पर हजारों करोड़ रुपए फंसा हुआ है। इन कंपनियों में से नीरव की कंपनियों पर 4.3 हजार करोड़ रुपए और कोठारी की कंपनी पर 4.6 हजार करोड़ रुपए फंसा हुआ है।  

 

 

आरबीआई ने NPA के मानक बदले

गर्ग ने बताया कि रिजर्व बैंक के NPA को लेकर बदले मानकों से बैंक ऑफ बड़ौदा को कोई दिक्‍कत नहीं होगी। उन्‍होंने बताया कि बैंक ने पहले से ही प्रॉविजन ज्‍यादा कर रखे हैं, जिससे कोई समस्‍या नहीं आएगी। हालांकि उन्‍होंने कहा कि NCTL में गए केस अगर समय से नहीं सुलझे तो मार्च तिमाही में जरूर प्रॉविजनिंग बढ़ानी होगी। फिलहाल बैंक का प्रॉविजन रेशिया दिसबंर तिमाही में 68.0 फीसदी रहा है, लेकिन यह मार्च तिमाही में बढ़कर 70 फीसदी होने का अनुमान है।

 

 

5 फीसदी कम NPA का टार्गेट

गर्ग ने बताया कि बैंक का टार्गेट है एनपीए को 5 फीसदी के स्‍तर से कम पर रखना है। दिसबंर तिमाही में यह स्‍तर 4.97 फीसदी पर था। हालांकि उन्‍होंने स्‍वीकार किया कि आरबीआई की नई गाइडलाइन को देखते हुए यह टार्गेट काफी कठिन है, लेकिन उन्‍होंने भरोसा जताया कि बैंक ऐसा करने में सफल रहेगा। उन्‍होंने कहा कि बैंक का उम्‍मीद है कि इस दौरान कुछ बड़े एनपीए के मामले सुलझ जाएंगे, जिससे लक्ष्‍य पूरा करने में मदद मिलेगी।



 

आगे पढ़ें : बैंक ऑफ इंडिया भी बंद करेगा 200 ATM

 

 



बैंक ऑफ इंडिया भी बंद करेगा 200 ATM

बैंक ऑफ इंडिया का NPA लगातार बढ़ता जा रहा है, इसके चलते उसको प्रोविजनिंग बढ़ानी पड़ रही है। इसका असर बैंक के सामान्‍य कस्‍टमर्स पर भी  पड़ने जा रहा है। बैंक ने अपनी कुछ सुविधाओं में कटौती का फैसला किया है। इन कटौती के चलते आपके आसपास बैंक के 200 ATM बंद करने जा रहा है। बैंक ने इसके लिए संबंधित पक्षों को नोटिस भी जारी कर दिया है। यही नहीं बैंक ने बढ़ते घाटे से परेशान होकर अपनी 9 विदेशी ब्रांच और प्रतिनिधि कार्यालयों को बंद करने का भी फैसला किया है।

 

 

तिमाही परिणाम के साथ दी जानकारी

बैंक ने यह जानकारी अपने तिमाही परिणाम जारी करते वक्‍त दी। बैंक ने लिखित में बताया है कि वह अपने 200 एटीएम बंद करने जा रहा है, और इसके लिए उसने संबंधित पक्षों का नोटिस जारी कर दिए हैं। हालांकि बैंक ने बंद होने वाले एटीएम की लिस्‍ट नहीं जारी की है।

 

 

आरबीआई ने लगाया है प्रॉम्‍ट करेक्टिव एक्‍शन

भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंक के खिलाफ प्रॉम्‍ट करेक्टिव एक्‍शन लिया है। यह एक्‍शन तब लिया जाता है बैंक आरबीआई के मानकों के हिसाब से प्रदर्शन नहीं कर पाता है। इन एक्‍शन के बाद बैंक कई काम नहीं कर सकता है। यह बड़े लोन नहीं दे सकता है, न ही निवेशकों को डिविडेंड दे सकता है। इसके अलावा भी इस दौरान बैंक को कई काम करने के पहले आरबीआई से पूछना पड़ता है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट