Home » Budget 2018 » Market/InvestorIndia Union Budget 2018: बजट 2018 में ये हैं 10 फेवरेबल बजट स्टॉक्स, लॉन्ग टर्म में मिल सकता है 86% तक रिटर्न,these are 10 favorable bu

बजट 2018: ये हैं 10 बजट सपोर्टिव स्टॉक्स, लॉन्ग टर्म में मिल सकता है 86% तक रिटर्न

मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि बजट इन स्‍टॉक्‍स पर पॉजिटिव असर डाल सकता है।

1 of

नई दिल्‍ली. बजट से पहले भारतीय स्टॉक मार्केट रिकॉर्ड हाई पर पहुंच गया है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि हाई वैल्युएशन मार्केट में एक करेक्शन देखने को मिल सकती है। इसे देखते हुए निवेशक थोड़े सचेत हो गए हैं। निवेशक समझ नहीं पा रहे हैं कि वो कहां निवेश करें। हम यहां ऐसे 10 स्टॉक्स के बारे में बता रहे हैं जिस पर बजट का पॉजिटिव असर पड़ सकता है और लॉन्ग टर्म में आपको इनमें अच्छा रिटर्न मिलने की उम्मीद की जा सकती है।

Live Budget 2018 News - आम बजट 2018 से जुड़ी हर खबर

 

मार्केट फ्रेंडली रहेगा बजट 2018

फॉर्च्यून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर का मानना है कि रूरल एरिया को शहरी इलाकों की तुलना में कम सपोर्ट मिला है और इसका असर Budget 2018 पर दिख सकता है। ऐसे में वित्त मंत्री का फोकस रूरल इंफ्रास्ट्रक्चर पर हो सकता है। बजट मार्केट फ्रेंडली रहेगा।


नौकरी बढ़ाने पर फोकस होगा बजट 2018

ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के डायरेक्टर संदीप जैन का कहना है कि बजट में सरकार का फोकस नौकरियों की संख्या बढ़ाने पर रहेगा। इसके लिए वित्त मंत्री बजट में टेक्सटाइल्स, सेज सेक्टर को कुछ न कुछ देंगे। इन सेक्टर्स में सबसे ज्यादा लेबर फोर्स है और इनको बजट में कुछ मिलने से नई नौकरियों की ओपनिंग होगी। 
वहीं ठक्कर ने कहा कि नौकरियां बढ़ाने वाली कंपनियों को वित्त मंत्री बजट में कुछ इन्सेंटिव दे सकते हैं। 2018 और 2019 में 8 राज्यों के अलावा लोकसभा चुनाव भी होने हैं। इसी वजह से सरकार पॉपुलिस्ट बजट पेश कर सकती है।

 

ये भी पढ़ें- आम बजट 2018 : एग्री सेक्‍टर में रिसर्च और इनोवेशन पर 15 फीसदी बढ़ेगा खर्च


Budget 2018 में खेती पर होगा जोर

एसएमसी इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज के टेक्निकल एनालिस्ट सचिन सर्वदे के मुताबिक, देश में 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए सरकार पॉलिटिकल सपोर्ट पाने के लिए रूरल सेक्टर पर फोकस बजट पेश कर सकती है। सरकार किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए नई घोषणाएं कर सकती है। बजट से पहले सरकार ने लेबर ओरिएंटेड जूट इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए फूडग्रेन्स और शुगर प्रोडक्ट्स की जूट बैग्स में अनिवार्य पैकेजिंग को मंजूरी दी है। इससे किसानों को आमदनी बढ़ाने में मदद मिलेगी।


एक्सपर्ट्स ने फर्टिलाइजर एंड केमिकल्स स्टॉक्स में निवेश की सलाह ही है। जगदीश ठक्कर ने गुजरात नर्मदा वैली फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स लिमिटेड (जीएनएफसी) में 800 रुपए लक्ष्य दिया है। सरकार इसके लिए एक पॉलिसी ला सकती है जिसका फायदा कंपनी को मिल सकती है। इसमें 66% तक रिटर्न की संभावना है। साथ ही टाटा केमिकल्स में 900 रुपए और गुजरात अल्कालीज एंड केमिकल्स लिमिडेट में 1000 रुपए का लक्ष्य दिया है। इनमें 18 फीसदी और 19 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है।

एक अन्य फर्टिलाइजर कंपनी राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्टिलाइजर्स लिमिडेट (आरसीएफ) में 22 रिटर्न मिलने की उम्मीद है। संदीप जैन ने इसमें 130 रुपए के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है।

 

ये भी पढ़ें -  बजट 2018: टैक्स में छूट की लिमिट 3 लाख कर सकती है सरकार, मिनिस्ट्री के सामने प्रपोजल


इंफ्रास्ट्रक्चर को मिलेगा बूस्ट

एक्सपर्ट्स का कहना है कि इकोनॉमिक ग्रोथ के लिए सरकार इंफ्रास्ट्रक्चर पर फोकस बढ़ाएगी। खासकर रोड कंस्ट्रक्शन पर सरकार का फोकस ज्यादा होगा। सचिन सर्वदे के मुताबिक, इससे सीमेंट्स की डिमांड बढ़ेगी। सचिन ने सीमेंट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी सांघी इंस्ट्रीज में 86.56 फीसदी की ग्रोथ के साथ 250 रुपए का लक्ष्य दिया है।
वहीं स्टैलियन एसेट्स डॉट कॉम के सीआईओ अमीत जेसवानी ने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर पर फोकस बढ़ने से स्टील की भी डिमांड बढ़ेगी। उन्होंने प्रकाश इंडस्ट्रीज में 300 रुपए का लक्ष्य दिया है।

 

तेज दौड़ेगा ऑटो

 

रूरल इकोनॉमी में ग्रोथ और रोजगार बढ़ने का फायदा ऑटो कंपनियों को मिलेगा। सिमी भौमिक डॉट कॉम की टेक्निकल एनालिस्ट सिमी भौमिक ने हीरो मोटोकॉर्प में 4000 रुपए के टारगेट के साथ निवेश की सलाह दी है।

 

Get latest update on - Union Budget 2018 in Hindi


आगे पढ़ें- इन स्टॉक्स में भी लगाएं दांव

प्रधानमंत्री आवास योजना का बढ़ा दायरा

 

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने प्रधानमंत्री आवास योजनाओं के तहत आवासीय योजनाओं के दिशा-निर्देशों में संशोधन किया है, ताकि प्रधानमंत्री आवास योजनाओं के तहत शहरी क्षेत्र की अधिकाधिक आवासीय योजनाओं को कवर किया जा सके। इससे अफोर्डेबल हाउसिंग को बढ़ावा मिलेगा। संदीप जैन ने महिंद्रा लाइफस्पेस डेवलपर्स में 600 रुपए का लक्ष्य दिया है। इसमें 22 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है।
अफोर्डेबल हाउसिंग से हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों को भी फायदा मिलेगा। ब्रोकरेज हाउस बोनांजा ने पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड में 1736 रुपए का लक्ष्य दिया है। इसमें 32 फीसदी तक रिटर्न मिल सकता है।


कंज्यूमर रोजगार बढ़ने से कंज्यूमर सेक्टर को होगा फायदा

 

सचिन सर्वदे ने कहा कि रोजगार के नए अवसर बढ़ने का सबसे ज्यादा फायदा कंज्यूमर बेस्ड प्रोडक्ट्स को मिलेगा। सचिन ने जीएसके कंज्यूमर हेल्थकेयर में 7180 रुपए के टारगेट के साथ निवेश की सलाह दी है।

 

(नोट- निवेश की सलाह मार्केट एक्सपर्ट्स के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट