बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksखुलेआम चरस पीकर विवाद में आया था सीईओ, एक झटके में कमाए 26 हजार करोड़

खुलेआम चरस पीकर विवाद में आया था सीईओ, एक झटके में कमाए 26 हजार करोड़

एक रिपोर्ट से 26 हजार करोड़ रु बढ़ी कंपनी की मार्केट वैल्यू

1 of

 

नई दिल्ली. अमेरिका की इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क हाल में लाइव इंटरव्यू के दौरान चरस पीकर खासे विवादों में आ गए। लेकिन हाल में उनको ऐसी खबर मिली कि उनकी कंपनी की मार्केट वैल्यू एक झटके में 26 हजार करोड़ रुपए बढ़ गई। हालांकि अपनी हरकत को लेकर उन्हें खासे विरोध का सामना करना पड़ा था। यहां तक कि उनके दो अधिकारियों ने भी इस्तीफा दे दिया था।

 

 

खुलेआम पी थी चरस

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, दुनिया की चर्चित कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने हाल में एक इंटरव्यू दिया, जो ढाई घंटे से ज्यादा चला। लाइव चले इस वीडियो के दौरान मस्क चरस पीते दिखे। इसको लेकर अमेरिका में खासा विवाद भी हुआ। माना जाता है कि इसी विवाद की वजह से बीते शुक्रवार को टेस्ला का शेयर 6.30% टूट गया था।

 

 

एक रिपोर्ट से बढ़ी 26 हजार करोड़ रु की वेल्थ

बीते सोमवार को अमेरिका के दो मार्केट एनालिस्ट बेयर्ड और बर्न्सटाइन की एक रिपोर्ट जारी हुई। क्लाइंट को भेजे गए इस नोट के मुताबिक, ‘अगले कुछ सप्ताह टेस्ला के लिए अच्छे रहेंगे। निकट भविष्य में टेस्ला के शेयर में तेजी आने की उम्मीद है और यह 270 डॉलर से 370 डॉलर की रेंज में रह सकता है।’

इस रिपोर्ट के आने के बाद सोमवार को टेस्ला का शेयर 8.50 फीसदी चढ़कर 285.50 डॉलर के स्तर पर पहुंच गया और कंपनी की मार्केट वैल्यू लगभग 3.60 अरब डॉलर (लगभग 26 हजार करोड़ रुपए) बढ़कर 48.70 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गई।

आगे भी पढ़ें...

 

 

पिछले काफी समय से था प्रेशर

कंपनी की मैनेजमेंट टीम से हुए कई इस्तीफों के बाद से टेस्ला के शेयर पर प्रेशर बना हुआ था। हाल में मस्क के खुलेआम चरस पीने की खबरों से शेयर में गिरावट तेज हो गई थी।

हाल में आई रिपोर्ट के बाद भले ही टेस्ला के शेयरों में तेजी देखने को मिली हो, लेकिन यह पिछले महीने के शेयर प्राइस की तुलना में 20 फीसदी नीचे ट्रेड कर रहा है। कंपनी मस्क के 420 डॉलर प्रति शेयर के प्राइस पर शेयर खरीदने के बयान के बाद से अमेरिकी रेग्युलेटर के रडार पर भी बनी हुई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मस्क ने इस कीमत पर शेयर खरीदकर कंपनी को प्राइवेट बनाने का ऐलान किया था, हालांकि वह बाद में अपने बयान से पलट गए थे।

आगे भी पढ़ें...

 

 

 

जल्द प्रॉफिट में आने का दावा कर रहे हैं मस्क

मस्क लगातार कंपनी के तीसरे क्वार्टर यानी जुलाई-सितंबर के दौरान प्रॉफिट में आने का दावा कर रहे हैं। उन्होंने हाल में इम्प्लॉइज को भेजे ईमेल में कहा था कि इलेक्ट्रिक कार कंपनी के लिए सितंबर क्वार्टर शानदार रहेगी। उन्होंने भरोसा दिलाया कि पिछले क्वार्टर की तुलना में कंपनी दोगुनी संख्या में कारों की डिलिवरी करेगी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट